Rajasthan Dholpur Gangrape Case: धौलपुर गैंगरेप केस क्या है? नेशनल कमीशन फॉर वीमेन ने धौलपुर भेजी टीम

Rajasthan Dholpur Gangrape Case: धौलपुर गैंगरेप केस क्या है? नेशनल कमीशन फॉर वीमेन ने धौलपुर भेजी टीम Rajasthan Dholpur Gangrape Case: धौलपुर गैंगरेप केस क्या है? नेशनल कमीशन फॉर वीमेन ने धौलपुर भेजी टीम

SheThePeople Team

22 Mar 2022


Rajasthan Dholpur Gangrape Case: धौलपुर से एक भयानक गैंगरेप केस सामने आया है। धौलपुर राजस्थान के अंदर आता है और यहाँ 26 साल की एक महिला का उसके पति और बच्चों को सामने रेप किया गया।

नेशनल कमीशन फॉर वीमेन ने धौलपुर भेजी टीम

इस मामले में नेशनल कमीशन फॉर वीमेन ने आगे आकर कदम उठाया है और 3 लोगों की टीम को महिला और उसकी फैमिली से मिलने के लिए भेजा है। इसके अलावा यह उस एरिया के SHO और SP से मिलेंगे केस के बारे में पूंछ तांछ करने के लिए।

19 मार्च को महिला कमिशन को इस मामले के बारे में मालूम हुआ। इसके बाद चेयरपर्सन रेखा शर्मा ने इस मामले में राजस्थान पुलिस के डायरेक्टर जनरल को लेटर लिखा और इस मामले को लेकर FIR फाइल करने को कहा। इसके अलावा मुजरिमों को जल्द से जल्द पकड़ने को भी कहा। लेटर में कमिशन ने महिला को मेडिकल सपोर्ट और फैमिली को सेक्योरिटी देने को भी कहा है।

क्या है राजस्थान धौलपुर गैंगरेप केस? Rajasthan Dholpur Gangrape Case

यह गैंगरेप एक 26 साल की दलित लड़की के साथ हुआ है और 6 लोगों ने मिलकर किया है। राजस्थान के धौलपुर डिस्ट्रिक्ट में इस हादसे को अंजाम दिया गया है। यह महिला का कहना है कि यह खेतों से अपने बच्चों और पति के साथ वापस आ रही थी तभी पूरे परिवार को 6 लोगों ने रोक लिया। इसके बाद महिला के पति को बन्दूक के पीछे से सर पर मारा गया। इसके बाद महिला का उसके पति और बच्चों के सामने ही गैंगरेप किया गया। इससे पहले भी महिला ने इन लोगों के खिलाफ उसे परेशान करने की रिपोर्ट लिखवाई थी।

इस मामले को लेकर महिला कमिशन ने हर 7 दिन में मतलब हर हफ्ते अपडेट देने को कहा है और एक इन्वेस्टीगेशन और सेक्योरिटी के लिए एक वक़्त फिक्स करने को कहा है।

इस रेप केस को लेकर धौलपुर डिस्ट्रिक्ट के कंचनपुर पुलिस स्टेशन में FIR दर्ज करवा दी गयी है। इंडियन पीनल कोर्ट के और अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम के अंडर में मुजरिम के ऊपर धारा लगा दी गयी हैं।


अनुशंसित लेख