महिलाएं मिनिस्टर नहीं बन सकती, वो सिर्फ बच्चे पैदा कर सकती हैं : तालिबान (Afghanistan Under Taliban )

महिलाएं मिनिस्टर नहीं बन सकती, वो सिर्फ बच्चे पैदा कर सकती हैं : तालिबान (Afghanistan Under Taliban ) महिलाएं मिनिस्टर नहीं बन सकती, वो सिर्फ बच्चे पैदा कर सकती हैं : तालिबान (Afghanistan Under Taliban )

SheThePeople Team

11 Sep 2021

Afghanistan Under Taliban - तालिबान ने जब से अफ़ग़ानिस्तान पर कब्ज़ा किया है वो इसी तरीके के ख्याल महिलाओं पर थोप रहे हैं। इस बार तालिबान के स्पोक्सपर्सन ने एक इंटरव्यू में कहा कि महिलाएं मिनिस्टर नहीं बन सकती हैं और उन्हें सिर्फ बच्चों को जन्म देना चाहिए। ऐसे ही स्टेटमेंट यह आए दिन देते रहते हैं और इनकी पिछड़ी हुई दबाउ सोच दिखाते रहते हैं। । इस बार जब तालिबान पहले आए थे तब इन्होंने कहा था कि यह इस बार अलग तरीके से रूल करेंगे और अब यह काफी बदल चुके हैंलेकिन इस तरीके के स्टेटमेंट से लगता है इनकी सोच अभी भी वैसी ही है।

अफ़ग़ानिस्तान में बड़ रहा तालिबान का खौफ (Afghanistan Under Taliban )


महिलाओं मिनिस्टर नहीं बन सकती है यह तालिबान ने अफ़ग़ानिस्तान की सभी महिलाओं के लिए अपने आप कह दिया है। ऐसे ही कुछ समय पहले तालिबान ने डिक्लेअर किया था कि महिलाएं अब किसी भी तरीके के स्पोर्ट्स में हिस्सा नहीं ले सकती हैं क्योंकि इससे उनकी बॉडी एक्सपोज़ होती है। इस से पहले इन्होंने कहा था कि महिलाओं को कॉलेज में सिर्फ महिला टीचर्स ही पढ़ा सकती हैं या फिर थोड़े ज्यादा उम्र के पुरुष जिनका करैक्टर अच्छा हो।

तालिबान की सोच कितनी पिछड़ी हुई है


पढाई को लेकर भी तालिबान की सोच कुछ इसी तरह है और महिलाएं और पुरुष के बीच कक्षा में बीच में पर्दा लगाया जा रहा है। महिलाएं सारी एक तरह बैठती हैं और पुरुष एक तरफ। सभी महिलाएं बुरखे में आती हैं फुल कपड़े पहन कर और बीच में पर्दा लगाया जा रहा है।तालिबान ने अफ़ग़ानिस्तान पर 15 अगस्त को कब्ज़ा कर लिया था और उसके बाद से यह सब कानून वहां के बदलते जा रहे हैं खास तौर पर महिलाओं से जुड़ीं। महिलाओं के खुले आम घूमने से लेकर वो क्या पहनती हैं, कैसे पड़ते हैं, और कैसे महिलाएं अपने आप रिप्रेजेंट करती हैं तालिबान सबके खिलाड़ खड़े रहते हैं।

कुछ समय पहले तालिबान ने 6 महीने प्रेग्नेंट महिला की गोली मारकर हत्या कर दी थी। महिला का नाम बानू निगारा है और वो 6 महीने प्रेग्नेंट थीं। यह न्यूज़ तालिबान के एक पत्रकार बिलाल सरवरी ने संडे को ट्वीट कर के बताई। तालिबान इस न्यूज़ को एक्सेप्ट करने से साफ़ इंकार कर रहे थे।

अनुशंसित लेख