Radhika Apte On Perfect Body : किसी पर भी इसके लिए दवाब न डालें

Radhika Apte On Perfect Body : किसी पर भी इसके लिए दवाब न डालें Radhika Apte On Perfect Body : किसी पर भी इसके लिए दवाब न डालें

Vaishali Garg

11 Jun 2022

महिलाओं का लाखों रुपए खर्च करना अपनी बॉडी के लिए कुछ नया नहीं है। लेकिन अब जो तकनीकी और प्रोडक्ट इस्तमाल किए जा रहे हैं वह हमारी बॉडी के लिए बहुत हार्मफुल हैं।

एक परफेक्ट बॉडी के लिए आजकल teens भी Kardashian' s diet का इस्तेमाल कर रहीं हैं और मध्यम आयु वर्ग की महिलाएं बोटॉक्स का इस्तमाल कर रहीं हैं। समय के साथ परफेक्ट बॉडी पाने के लिए नए-नए प्रोडक्ट और तकनीकियाँ बदलती रहती हैं, मगर एक चीज जो नहीं बदल रही है वह है महिलाओं की सोच एक परफेक्ट बॉडी पाने की जिसके लिए वह कुछ भी कर सकती हैं। 

बहुत-सी महिला सेलिब्रिटीज एक परफेक्ट बॉडी पाने के लिए अपनी बॉडी पर नए-नए एक्सपेरिमेंट करती रहती हैं लेकिन इनमें से बहुत-सी एक्ट्रेसेस ऐसी भी है जो कि इसका समर्थन बिल्कुल नहीं करती हैं उनमें से एक है राधिका आप्टे।

कई मौकों पर, राधिका आप्टे ने बॉलीवुड के अंदर और बाहर महिलाओं के इर्द-गिर्द घूम रहे sexism और prejudice के बारे में खुलकर बात की है। हाल ही में एक इंटरव्यू में राधिका आप्टे ने बॉलिवुड में अपने संघर्ष के दिनों के बारे में बात करते हुए बताया कि कैसे उन्हें भी एक परफेक्ट बॉडी के लिए कहा गया लेकिन उन्होंने बताया कि इससे उन्हें कभी भी दवाब महसूस नहीं हुआ, बल्कि जब भी कोई परफेक्ट बॉडी की बात करता तो उन्हें सिर्फ गुस्सा आता।

बोटॉक्स लेने पर राधिका आप्टे

आप्टे, जो जल्द ही ओटीटी फिल्म फोरेंसिक में नजर आएंगी, ने कहा, " जब मैं नई थी, मुझे अपने शरीर और चेहरे पर बहुत सारे काम करने के लिए कहा गया था।

मेरी पहली मीटिंग में, मुझे अपनी नाक बदलने के लिए कहा गया। मेरी दूसरी मीटिंग में, b**b job कराने के लिए कहा गया और ऐसा आगे भी चलता रहा यहाँ तक कि मुझे अपने पैरों के लिए, जबड़े के लिए और अपने गालों के गड्ढों को भरने के लिए कहा गया बोटॉक्स की मदद से।"

इन टिप्पणियों पर प्रतिक्रिया के बारे में बात करते हुए, आप्टे ने कहा, "जैसे, मुझे अपने बालों को रंगने में 30 साल लग गए। मैं कोई इंजेक्शन भी नहीं लेने वाली हूँ। मुझे लोगों की बातों से बिलकुल प्रेशराइज महसूस नहीं होता है। बल्कि मुझे गुस्सा आता है जब कोई ऐसी बात करता है इन लोगों के कारण मैं अपनी बॉडी से और ज्यादा प्रेम करने लगी हूँ।"

यह आज भी एक प्रश्न का विषय है कि लोग किस हद तक अपने आप को पुश कर सकते हैं एक परफेक्ट बॉडी पाने के लिए । लेकिन क्या उन्हें पता है एक परफेक्ट बॉडी क्या है ? गोरी होना सांवला से बेहतर क्यों है?  पतला होना  मोटा होने से बेहतर क्यों है? आपको क्यों हमेशा जवान दिखना है? अगर कोई आपको बोले आपका पेट स्लिम है पर आपके चेहरे को कुछ फिलर्स की जरूरत है, तो फिर आप क्या करोगे?

समय के साथ-साथ हमारे समाज में कई प्रकार की तकनीक व प्रोडक्ट्स आएंगे तब आपसे लोग कई बार बोलेंगे कि यह करा लो अपनी बॉडी के लिए वह करा लो तो क्या आप वह सब करोगे? आप खुद सोचिए क्या अपनी बॉडी को दूसरे के कहने पर हर समय चेंज करना सही है?

जी नहीं, क्योंकि इससे हमारी बॉडी को कई प्रकार के नुकसान को झेलना पड़ता है जो हमारे शारीरिक व मानसिक स्वास्थ्य के लिए बिल्कुल भी अच्छा नहीं है।

बहुत सारे रिसर्चस का मानना है कि बहुत से लोग अपनी परफेक्ट बॉडी के लिए बहुत सारे तकनीकों का इस्तेमाल करते हैं जिससे कई बार उनके स्वास्थ्य को भारी नुकसान उठाना पड़ता है कई बार तो लोगों की जान तक चली जाती है। एक परफैक्ट बॉडी आपके जीवन से ज्यादा जरूरी है?

नहीं ना! इसलिए आप प्राकृतिक जैसे पैदा हुए हो उसको एक्सेप्ट करो अपने आप से प्यार करो अपनी बॉडी से प्यार करो। क्योंकि लोगों का तो काम है कहना।
 

अनुशंसित लेख