Advertisment

Self Care: दूसरों का ध्यान रखते हुए कहीं खुद को न भूल जाएं महिलाएं

बहुत सारी महिलाएं लाइफ में अपनी वेल्बीइंग के ऊपर ध्यान ही नहीं देती है। उनकी ऐसी धारणा है कि अगर हम अपने परिवार का ध्यान रख रहे हैं तो यह ही हमारे लिए खुशी की बात है तो आज हम बात करेंगे क्यों महिलाओं को खुद का ध्यान रखना चाहिए-

author-image
Rajveer Kaur
New Update
Self Care

(Image Credit: Youth Ki Awaj)

Why Self Care is Important For Women: जन्म से ही महिलाओं को दूसरों की केयर करना सिखाया जाता है लेकिन कभी उन्हें यह नहीं बताया जाता कि कैसे खुद का ध्यान रखना भी उनके लिए जरूरी है। जीवन के हर पड़ाव में महिलाओं को शारीरिक बदलावों से गुजरना पड़त पड़ता है जिनके लिए उन्हें खास ध्यान की जरूरत होती है। इसके साथ ही उन्हें लाइफस्टाइल मे भी बदलाव करने पड़ते हैं लेकिन इसके ऊपर किसी का ध्यान नहीं है। बहुत सारी महिलाएं लाइफ में अपनी वेल्बीइंग के ऊपर ध्यान ही नहीं देती है। उन्हें लगता है कि यह जरूरी नहीं है। उनकी ऐसी धारणा है कि अगर हम अपने परिवार का ध्यान रख रहे हैं तो यह ही हमारे लिए खुशी की बात है तो आज हम बात करेंगे क्यों महिलाओं को खुद का ध्यान रखना चाहिए-

Advertisment

Self Care: दूसरों का ध्यान रखते हुए, कहीं खुद को न भूल जाएं महिलाएं

सेल्फ केयर का मतलब सेल्फिश होना नहीं है

हमारे समाज में अगर हम अपने लिए कोई स्टेप ले लेते हैं तो हमें लगता है कि हम सेल्फिश है। हमें इस धारणा को बदलना होगा और सेल्फ केयर और सेल्फिश के बीच में जो एक धुंधली रेखा है। उन्हें समझना होगा कि अगर खुद की वेल्बीइंग को प्रायोरिटी दे रहे हैं तब ही हम दूसरों का ध्यान भी अच्छे से रख पाएंगे। सेल्फ केयर का मतलब है कि अपनी फिजिकल मेंटल हेल्थ का ध्यान रखना जो हमारा एक अधिकार है। यह हमारी जरूरत भी है।

जब महिलाएं पीरियड (Period) में से गुजरती है तब उनके शरीर में बहुत सारे बदलाव होते हैं जैसे मूड स्विंग्स, क्रैंप्स, टांगों में दर्द, पीठ में दर्द, रिर दर्द आदि। यह सब सहन करना आसान नहीं है। इसके साथ बहुत सारे इमोशनल चेंज भी होते हैं लेकिन महिलाएं तब भी अपना ध्यान नहीं रखती हैं। इस समय उन्हें एक्स्ट्रा केयर की जरूरत होती है जो परिवार को भी समझना चाहिए लेकिन इस बात को कोई नहीं समझता है। इसके बाद उनकी जिंदगी में एक ऐसा पड़ाव आता है जब वो प्रेगनेंसी में से गुजरती हैं। इस समय में उन्हें बहुत सारे फिजिकल और इमोशनल बदलावों में से गुजरना पड़ता है।

महिलाओं की जिंदगी में फिर ऐसा पड़ाव भी आता जब उन्हें पीरियड्स आने बंद हो जाते हैं और मेनोपॉज (Menopause) की शुरुआत जाती है। उसे समय भी महिलाएं एक कठिन दौर से गुजरती हैं। इन सबके बावजूद भी महिलाएं अच्छी तरह से रेस्ट नहीं करती हैं और न ही अपने खाने पीने का ध्यान नहीं रखती हैं। उन्हें अपनी शरीर की जरूरत के बारे में पता ही नहीं है। वह आज भी बियर मिनिमम की सहन कर रही हैं। अब समय आ गया है कि महिलाएं सेल्फ केयर की अहमियत को समझे क्योंकि यह बहुत जरूरी है। इससे आपका स्ट्रेस कम होगा। आपकी फिजिकल और इमोशनल हेल्थ अच्छी होगी। आप अपने कामों को अच्छे से कर पाएंगे। आपका कॉन्फिडेंस भी बढ़ेगा और इसके साथ ही महिलाओं को मना करना भी सीखना होगा अगर वह अपनी वैल्यू चाहती है।

Period Menopause self care Self Care is Important For Women
Advertisment