5 Things A Partner Should Keep Private: रिलेशनशिप में रखें गुप्त

5 Things A Partner Should Keep Private: रिलेशनशिप में रखें गुप्त 5 Things A Partner Should Keep Private: रिलेशनशिप में रखें गुप्त

Sanjana

02 Jul 2022

जब आप प्यार में होते हैं और उस व्यक्ति के साथ रिलेशनशिप में आ जाते हैं तो आप बहुत सी चीजें शेयर करते हैं। जैसे अपना पर्सनल स्पेस, अपने अच्छे और बुरे सीक्रेट्स और अपनी भावनाएं। यह सब चीजें आपकी हल्दी और प्यार भरी रिलेशनशिप के लिए जरूरी हो सकती हैं। लेकिन आपको प्राइवेसी और सीक्रेसी के बीच का अंतर बनाए रखना चाहिए। 

हो सकता है कि अब आप कंफ्यूज हो किन-किन चीजों या बातों को अपने पार्टनर से शेयर करना सही है। अगर आप इस कन्फ्यूजन से तंग आ गए हैं तो चिंता मुक्त हो जाएं क्योंकि हम आपको बताएंगे कुछ ऐसी बातें जो आपको अपने पार्टनर को नहीं बतानी चाहिए। क्योंकि यह आपकी प्राइवेसी का सवाल है सीक्रेसी का नहीं।

रिलेशनशिप में रखें इन बातों को गुप्त -

1. थेरेपी सेशन की बातें

कभी-कभी आपके पार्टनर या आपके मन में अपने पार्टनर की साइकोलॉजिकल थेरेपी सेशन में हुई बातों को जानने का मन कर सकता है। हो सकता है कि आपका पार्टनर आप से पूछें कि आपने अपने थैरेपिस्ट से क्या बात की या आप अगली बार उससे क्या बात करने वाले हैं। लेकिन आपको इस सवाल का जवाब देने की जरूरत नहीं क्योंकि यह है आपकी प्राइवेट बात है।

2. गुस्से में आए विचार

जब आप गुस्से में होते हैं तो आपके दिमाग में बहुत से कटाक्ष भरे विचार आते हैं। यह आपके पार्टनर से संबंधित या उसकी बुरी आदतों से जुड़े भी हो सकते हैं। आपको इन विचारों को अपने तक ही सीमित रखना है और इन्हें चिल्ला चिल्ला कर किसी को नहीं बताना है। क्योंकि बाद में आप यह बातें भूल सकते हैं लेकिन उन्हें याद रहेंगी और आपको पछतावा होगा।

3.उनकी बॉडी की बाते

अगर ऐसी कोई बातें हैं जो आपको उनकी बॉडी के बारे में पसंद नहीं है तो आप इनका जिक्र अपने पार्टनर के सामने बिल्कुल ना करें। आप कभी कभी उनकी हेल्थ के बारे में बात करते समय भी उनकी बॉडी से जुड़ी इन बातों का खुलासा कर सकते हैं। इसलिए खुद पर नियंत्रण रखें क्योंकि इन बातों का कोई फायदा नहीं है।

4. फोन चैक करना

आपकी रिलेशनशिप कितनी ही हेल्दी क्यों ना हो लेकिन इसमें प्राइवेसी का होना बहुत जरूरी है। आपको अपने पार्टनर के फोन या लैपटॉप को बिल्कुल नहीं छेड़ना चाहिए। आप उसके फोन का इस्तेमाल कर सकते हैं अगर आपको कुछ गूगल करना है या फिर किसी का नंबर चाहिए। लेकिन उसकी प्राइवेसी में दखल देने के लिए या उसकी जासूसी करने के लिए ऐसा बिल्कुल ना करें।

5. जर्नल

बहुत से लोग रात को सोने से पहले अपने पूरे दिन के विचार जर्नल में लिखते हैं। वह इस जर्नल में लिखी बाते आपके साथ शेयर कर सकती है अगर वह चाहती है तो। लेकिन आपको बिना उसकी सहमति के उसके प्राइवेट और पर्सनल विचारों को जानने की कोशिश नहीं करनी चाहिए।

अनुशंसित लेख