Advertisment

Childhood Trauma: बचपन के सदमे का रिश्ते पर क्या असर पड़ता है?

चाइल्डहुड ट्रॉमा एक ऐसी घटना है जो आपके साथ बचपन में हुई होती है। यह कुछ भी हो सकता है जैसे सेक्सुअल एब्यूज, शारीरिक हिंसा, किसी ऐसे व्यक्ति का चले जाना है जो आपके दिल के करीब हो या फिर कोई ऐसा हादसा हो जाना जिसने आपको डरा कर रख दिया हो आदि।

author-image
Rajveer Kaur
New Update
Childhood Trauma

(Image Credit: Frontiers)

How Childhood Trauma Affects Your Relationship?:  चाइल्डहुड ट्रॉमा एक ऐसी घटना है जो आपके साथ बचपन में हुई होती है। यह कुछ भी हो सकता है जैसे सेक्सुअल एब्यूज, शारीरिक हिंसा, किसी ऐसे व्यक्ति का चले जाना है जो आपके दिल के करीब हो, किसी का आपको छोड़ देना या फिर कोई ऐसा हादसा हो जाना जिसने आपको डरा कर रख दिया हो आदि। इन सब घटनाओं के कारण आपको चाइल्डहुड ट्रॉमा हो सकता है और इसका असर आपके रिश्तों पर भी देखने को मिल सकता है। अगर आपको उस समय सपोर्ट और प्यार मिल जाता है तो आप उन स्थितियों को अलग तरह से देखते और शायद इसमें से निकल भी जाते लेकिन प्यार और सपोर्ट ना मिलने के कारण ये चीजें आपके लिए ट्रॉमा बन गईं, जिसके कारण आप अपने रिलेशनशिप में भी स्ट्रगल कर रहे हैं। आईए जानते हैं कि कैसे आपका रिलेशनशिप इससे प्रभावित होता है?

Advertisment

बचपन के सदमे का रिश्ते पर क्या असर पड़ता है?

एक-दूसरे पर विश्वास नहीं बनता

किसी भी रिश्ते की नींव भरोसा होता है। जब दोनों पार्टनर्स एक दूसरे पर भरोसा करते हैं तो वह रिलेशनशिप ज्यादा मजेदार और सुरक्षित बन जाता है। आप एक-दूसरे के करीब आते हैं और एक ज्यादा कंफर्टेबल महसूस करते हैं लेकिन वहीं अगर आपके पार्टनर के साथ विश्वास बनाने में दिक्कतें आ रही हैं, आपको डर लगता है कि कहीं पार्टनर आपको छोड़कर न चले जाए या फिर आपको धोखा ना मिल जाए तो यह भी चाइल्डहुड ट्रामा के कारण हो सकता है। आपको किसी के साथ विश्वास बनाने में समस्या हो रही है।

Advertisment

इंटिमेसी से भागते हैं

चाइल्डहुड ट्रॉमा में सेक्सुअल एब्यूज भी शामिल होता है, जिसके कारण आपको पार्टनर के साथ इंटिमेसी (Intimacy) बनाने में डर लग सकता है। आप उनके सामने ज्यादा कंफर्टेबल नहीं हो पाते हैं। जब वह आपको टच करते हैं तो आप नंब हो जाते हैं। आप खुलकर अपने आप को उनके सामने शो नहीं कर पाते हैं। आपको उनके नजदीक जाने से भी डर लगता है। यह सब आपको बीते हुए कल के कारण हो सकता है। अगर रिश्ते में इंटिमेसी नहीं बन पाएगी तो आपका रिश्ता ज्यादा गहरा नहीं होगा और आपके बीच में दूरियां भी रहेंगी। 

बातचीत नहीं हो पाती

Advertisment

रिश्ते में एक-दूसरे को समझने के लिए बातचीत करना बहुत जरूरी है। अगर एक पार्टनर खुद को व्यक्त की नहीं कर पा रहा है, उसे अपनी भावनाओं को और बताने में ही बहुत सारी दिक्कतें आ रही हैं और वह अपने इमोशंस को बताने में नाकाम है तो यह भी चाइल्डहुड ट्रामा के कारण हो सकता है। आप पार्टनर को बता ही नहीं पाते कि आपकी जरूरत क्या है? आप उनसे क्या चाहते हैं? जिसके कारण आप दोनों के बीच में एक कम्युनिकेशन गैप होने लग जाता है जो किसी भी रिश्ते के लिए सही नहीं है। इससे यह भी पता चलता है कि कैसे बचपन में आपको कभी बोलने नहीं दिया गया।  

किसी के साथ जुड़ नहीं पाते

रिश्ते में अटैचमेंट इश्यूज भी चाइल्डहुड ट्रॉमा के कारण आ सकते हैं जैसे बार-बार पार्टनर से वैलिडेशन मांगते हैं, अपने आप के बारे में बुरा सोचते रहते हैं या फिर खुद पर ही शक करते रहते हैं। इससे आपको पार्टनर के साथ जुड़ने में दिक्कत आती है क्योंकि आपको बचपन में कभी ऐसी अटैचमेंट ही नहीं मिली है जिसमें आप खुद को सुरक्षित महसूस कर पाएं। आप पार्टनर के साथ बाउंड्रीज भी बिल्ड नहीं कर पाते हैं। इसके साथ ही आप खुद ही रिश्ते में पीछे होते रहते हैं, जिससे आप अपना रिश्ता खुद ही खराब कर लेते हैं। आपको हेल्दी रिलेशनशिप बिल्ड करने में काफी समस्याएं आती हैं।

आत्म-विश्वास में कमी आती है

चाइल्डहुड ट्रॉमा से आपकी सोच ऐसी बन जाती है, जिसके कारण आपके आत्मविश्वास में कमी आ जाती है। आप खुद के साथ नेगेटिव बातें करते हैं। अपने बारे में ही बुरा सोचते रहते हैं। आपको लगता है कि मेरे में कुछ भी अच्छा नहीं है। हर बात पर खुद की काबिलियत पर शक करना आपकी आदत है। ,आप रिलेशनशिप में हर चीज परफेक्ट करने की कोशिश करते हैं लेकिन वो न होने पर आप उदास हो जाते हैं क्योंकि रिलेशनशिप में कभी भी कोई भी परफेक्ट नहीं होता है। ,आप हमेशा दूसरों से अपने बारे में अच्छी बातें सुनना चाहते हैं जिसके लिए आप रिलेशनशिप में हद से ज्यादा ही कर देते है। इसके कारण आपको बाउंड्रीज बिल्ड करने में दिक्कत आती है।

relationship Intimacy childhood Trauma Childhood Trauma Affects Your Relationship
Advertisment