Menopause Symptoms: मेनोपॉज के 5 लक्षण जो हर महिला को पता होना चहिए

मेनोपॉज के समय यूरिनरी लीकेज की समस्या भी बढ़ जाती है। यह लगभग 40 वर्ष के उम्र और उससे ज्यादा उम्र वाली महिलाओं को इन समस्याओं से जूझना पड़ता है। जाने पूरी जानकारी इस हैल्थ ब्लॉग में-

Vaishali Garg
04 Jan 2023
Menopause Symptoms: मेनोपॉज के 5 लक्षण जो हर महिला को पता होना चहिए

Menopause Symptoms

Menopause Symptoms: आमतौर पर एक ना एक दिन सभी महिलाओं को मेनोपॉज के स्टेज से गुजरना पड़ता है। जब महिलाओं की उम्र 40 से वर्ष 45 वर्ष होती है तो उनमें मेनोपॉज की शुरुआत हो जाती है। मेनोपॉज का मतलब होता है periods का बंद होना। मेनोपॉज के पहले महिलाओं के अंदर कई तरह के लक्षण पैदा होते हैं। महिलाओं में मेनोपॉज की स्थिति तब पैदा होती है जब ओवरी अंडे रिलीज करना बंद कर देती है, इसके बाद महिला कभी भी मां नहीं बन सकती है। तो आइए उन लक्षणों के बारे में चर्चा करते हैं।

5 Common Symptoms Of Menopause In Hindi -


1. स्तनों का मुलायम होना 

स्तनों का मुलायम होना और उसमें सूजन होना मेनोपॉज का पहला लक्षण है। कभी-कभी स्तनों में ज्यादा दर्द भी अनुभव होता है। इसलिए ऐसे लक्षण पाए जाने पर आपको डॉक्टर के पास जाकर उनसे इलाज करना बहुत जरूरी हो जाता है।





2.वजाइन में बदलाव

वजाइन में भी तरह-तरह के बदलाव का अनुभव होने लगता है। जैसे योनि पूरी तरह से सूखने लगती है इसकी वजह से सेक्स के दौरान भी बहुत दर्द का सामना करना पड़ता है। कभी-कभी योनि में जलन और खुजली की समस्या भी उत्पन्न होने लगती है। इसलिए ऐसी स्थिति होने पर गाइनेकोलॉजिस्ट (gynaecologist) को जरूर दिखाएं।

3.वजन बढ़ना 

मेनोपॉज के दौरान वजन में अत्यधिक वृद्धि होती है क्योंकि मेटाबॉलिज्म धीमा हो जाता है। इसलिए वजन कम करने के लिए सामान उपकरणों का प्रयोग करें। जैसे अपने डाइट का बदलाव करें,वर्कआउट करें आदि। इसके लिए आप किसी डाइटिशियन की सहायता भी ले सकते हैं।

4.नींद नहीं आना

मेनोपॉज के दौरान शरीर अत्यधिक गर्म होने के कारण पसीना आता रहता है और अजीब सी बेचैनी महसूस होती है जिससे आपको नींद नहीं आता है। इसलिए सोने से पहले मेडिटेशन करके सोए। इससे आपका मन शांत रहता है और सोने में भी काफी मदद मिलता है।




5.यूरिनरी लीकेज

मेनोपॉज के समय यूरिनरी लीकेज की समस्या भी बढ़ जाती है। यह लगभग 40 वर्ष के उम्र और उससे ज्यादा उम्र वाली महिलाओं को इन समस्याओं से जूझना पड़ता है। लेकिन यह कोई चिंताजनक बात नहीं है, आप हर समय अपने डॉक्टर से अपना इलाज कराते  रहें ताकि इन समस्याओं का समाधान आपको मिलता रहे।

Read The Next Article