Ayurvedic Tips: स्वस्थ और दर्द रहित पीरियड्स कैसे पाएं

ऐसे बहुत कम सवाल है जिनके उत्तर आयुर्वेद के पास नहीं होते। इनमें से ही एक चिंता का विषय है पीरियड्स। ज्यादातर हर महिला की यह आम समस्या होती है। यदि आपको इररेगुलर और बहुत दर्द के साथ पीरियड्स आते हैं। तो इस हैल्थ ब्लॉग में जाने आयुर्वेद के उपाय

Shruti Upadhyay
27 Dec 2022
Ayurvedic Tips: स्वस्थ और दर्द रहित पीरियड्स कैसे पाएं

Ayurvedic remedies

Ayurvedic Tips: ऐसे बहुत कम सवाल है जिनके उत्तर आयुर्वेद के पास नहीं होते। दरअसल आपकी बहुत सी समस्याओं का हल आयुर्वेद के पास होता है। इनमें से ही एक चिंता का विषय है पीरियड्स। ज्यादातर हर महिला की यह आम समस्या होती है। यदि आपको इररेगुलर और बहुत दर्द के साथ पीरियड्स आते हैं। तो आपको अधिक चिंतित होने की आवश्यकता नहीं है। आज हम आपको बताएंगे आयुर्वेद की कुछ ऐसी टिप्स। जिनके उपयोग से आप स्वस्थ और दर्द रहित पीरियड्स पा सकते हैं।

Ayurvedic tips for healthy and pain free periods


1.  हींग (Asafoetida)

आयुर्वेद ( ayurved )के अनुसार आप  हिंग का उपयोग करके अपने पीरियड्स में क्रैंप से राहत पा सकते हैं। बहुत सी महिलाओं में पीरियड्स के दौरान ज्यादा दर्द की समस्या सामने आती है। तो वहीं दूसरी ओर कुछ महिलाओं को नॉर्मल पेन भी होता है। अगर आपको ज्यादा या कम दर्द की समस्या है तो पेनकिलर की जगह आप हींग का उपयोग कर सकते हैं।

एक चुटकी हींग को एक ग्लास दूध में मिलाकर पीने से आपको डाइजेशन में मदद मिलती है। ब्लोटिंग से प्रिवेंट करती है। साथ ही साथ आपके मेंस्ट्रुअल क्रैंप में राहत देते हैं।

2. अजवाइन (ajwain)

अजवाइन एक बहुत ही अच्छी औषधि है यह आमतौर पर हर इंडियन किचन में मौजूद होती है। यह आपके पीरियड्स को रेगुलर रखने में भी मदद करती है। साथ ही साथ पीरियड्स क्रैंप में राहत देती है।

दो चम्मच अजवाइन को एक ग्लास पानी में डालकर उबाल लें। फिर हल्का गुनगुना होने पर इसे पी लें। यह बहुत फायदेमंद होती है।

3. जीरे (cumin seeds)

जीरे जिन्हे क्यूमिन सीड्स भी कहा जाता है। यह हमें पीरियड्स मे पेट दर्द , अच्छा पाचन तंत्र और अच्छी नींद देते हैं। एक कप पानी में जीरों को उबाल कर आप इसे छान लें हल्का गुनगुना होने पर इसका सेवन कर लें।

4. भुजंगआसन (cobra pose)

योगा हमारी बहुत सी समस्याओं का हल है। यदि आपको इर रेगुलर पीरियड्स की समस्या है तो इस आसन के करने से आपको इस समस्या में कमी देखने मिलेगी। आपको दोनों हाथों से खुद को उपर उठना है। जबकि पूरी बॉडी नीचे धरती से जुड़ी रहेगी।

यह हैं वह आयुर्वेदिक उपाय, जो आपको पीरियड्स को रेगुलर और कम पेनफुल करने में आपकी काफी सहायता कर सकते हैं।

Read The Next Article