Advertisment

Mental Health Myths: मेंटल हेल्थ के बारे में 7 सामान्य वहम

मानसिक स्वास्थ्य को समझने और इसकी चर्चा करने से हम उसे स्वीकार कर सकते हैं और सहायता प्राप्त कर सकते हैं। दवाइयों के अलावा, मानसिक स्वास्थ्य की समस्याओं के समाधान के लिए अन्य तकनीकों का भी महत्व है।

author-image
Trishala Singh
New Update
Common Myths about Mental Health

(Credits: Pinterest)

Busting Common Mental Health Myths: मानसिक स्वास्थ्य के बारे में कई भ्रम हमारी सोच को गलत दिशा में ले जाते हैं। यह भ्रम हमें न केवल सही जानकारी से वंचित करते हैं बल्कि इसके कारण हमारे बारे में गलत धारणाएं भी हो सकती हैं। यहां हम आपको मानसिक स्वास्थ्य के सात सामान्य भ्रमों के बारे में बताएंगे और यहां दी गई जानकारी आपके मानसिक स्वास्थ्य के बारे में सही जानकारी देने की कोशिश करेंगे।

Advertisment

Mental Health Myths: मेंटल हेल्थ के बारे में 7 सामान्य वहम

1. मानसिक स्वास्थ्य सिर्फ मेंटल बीमारियों के लिए है

आजकल के समय में बहुत से लोग मानते हैं कि मानसिक स्वास्थ्य केवल मानसिक बीमारियों से संबंधित है। लेकिन यह एक भ्रम है। मानसिक स्वास्थ्य हमारे समाजिक, आर्थिक और शारीरिक स्वास्थ्य के साथ गहरा रिश्ता रखता है। अच्छे मानसिक स्वास्थ्य से हमारी जीवनशैली, व्यक्तित्व और संबंधों में सुधार होता है। इसलिए, हमें मानसिक स्वास्थ्य के महत्व को समझना चाहिए और इसे समय-समय पर देखभाल करना चाहिए।

Advertisment

2. मानसिक स्वास्थ्य के बारे में बात करना शर्मनाक है

कुछ लोग मानसिक स्वास्थ्य के बारे में बात करने से शर्माते हैं और यह एक गलतफहमी है। मानसिक स्वास्थ्य की बात करना बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि यह हमें अपनी समस्याओं को समझने और सहायता प्राप्त करने में मदद करता है। यह हमारे लिए स्वस्थ और सकारात्मक जीवन जीने में सहायक होता है।

3. मानसिक स्वास्थ्य के लिए सिर्फ दवाइयां ही काम करती हैं

Advertisment

कई लोगों का मानना है कि मानसिक स्वास्थ्य की समस्याओं का समाधान सिर्फ दवाइयों में ही है। लेकिन यह एक और गलतफहमी है। अच्छी चिकित्सा, मनोविज्ञान और योग की मदद से हम अपने मानसिक स्वास्थ्य को सुधार सकते हैं। इसलिए, सिर्फ दवाइयों पर निर्भर नहीं करना चाहिए और अन्य सहायक उपायों का भी इस्तेमाल करना चाहिए।

4. मानसिक स्वास्थ्य के सामने अनाधिकृत संज्ञान

मानसिक स्वास्थ्य समस्याओं के समाधान के लिए संज्ञान को अनाधिकृत मानना एक गलतफहमी है। सही तकनीकों और सहायता से हम अपनी समस्याओं को ठीक कर सकते हैं। मानसिक स्वास्थ्य समस्याओं को समझना, उन्हें सही दृष्टिकोण से देखना और उपयुक्त इलाज प्राप्त करना महत्वपूर्ण है। संज्ञाना बढ़ावा देने के बजाय, सही जानकारी और गुणवत्ता वाली सहायता खोजना हमारे मानसिक स्वास्थ्य को सुधारने में मदद कर सकता है।

Advertisment

5. मानसिक स्वास्थ्य का कोई नियंत्रण नहीं

यह भ्रम है कि हम मानसिक स्वास्थ्य की समस्याओं को नियंत्रण में नहीं ले सकते हैं। सही इलाज और सहायता से हम अपने मानसिक स्वास्थ्य को सुधार सकते हैं। मानसिक स्वास्थ्य को नियंत्रित करने की प्रक्रिया में अपनी भावनाओं को समझना, सही जानकारी लेना और उपयुक्त इलाज प्राप्त करना शामिल होता है। सहायता प्राप्त करने से हम अपनी मानसिक स्वास्थ्य को प्रबल और स्थिर बना सकते हैं।

6. मानसिक स्वास्थ्य सिर्फ महिलाओं की समस्या है

Advertisment

यह भ्रम है कि मानसिक स्वास्थ्य समस्याएं सिर्फ महिलाओं को होती है। वास्तव में, यह सभी लोगों को प्रभावित कर सकती है और समाज के हर वर्ग के लोगों के लिए महत्वपूर्ण है। मानसिक स्वास्थ्य को लेकर समाज में जागरूकता बढ़ाना और सही जानकारी साझा करना जरूरी है। समाज को यह जानकरी मिलना चाहिए कि मानसिक स्वास्थ्य समस्याएं लिंग, जाति या सामाजिक वर्ग से नहीं बंधी होतीं हैं।

7. मानसिक स्वास्थ्य से जुड़ी बातों को छिपाना चाहिए

यह भ्रम है कि मानसिक स्वास्थ्य से जुड़ी बातें छिपानी चाहिए। सही जानकारी और सहायता प्राप्त करके हम अपनी समस्याओं को हल कर सकते हैं। मानसिक स्वास्थ्य समस्याओं को सामने लाकर और सही तरीके से इलाज प्राप्त करना हमारी ज़िम्मेदारी होती है। इससे हम अपनी जिंदगी में सकारात्मक बदलाव ला सकते हैं और खुशहाल जीवन जी सकते हैं।

इन भ्रमों को दूर करके हम एक स्वस्थ और उत्तम मानसिक स्वास्थ्य की ओर बढ़ सकते हैं। ध्यान और सहायता की तलाश में हमें इन भ्रमों को दूर करना चाहिए और समाज में इस बारे में जागरूकता बढ़ानी चाहिए।

myths mental health Busting मानसिक स्वास्थ्य
Advertisment