Advertisment

महिलाओं की Sexual Satisfaction को क्या चीजें इफेक्ट करती हैं?

आपके रिश्ते में सेक्सुअल सेटिस्फेक्शन का होना बहुत कुछ तय कर सकता है। अगर आपका पार्टनर सेक्सुअल सेटिस्फाइड है तो आपका रिलेशनशिप लंबा चल सकता है। आप दोनों में प्यार बढ़ सकता है और एक बॉन्ड पैदा हो सकता है।

author-image
Rajveer Kaur
New Update
Couple Sex Life(FREEPIK)

(Image Credit: FREEPIK)

Factors That Affects Sexual Satisfaction Of Women: आपके रिश्ते में सेक्सुअल सेटिस्फेक्शन का होना बहुत कुछ तय कर सकता है। अगर आपका पार्टनर सेक्सुअल सेटिस्फाइड है तो आपका रिलेशनशिप लंबा चल सकता है। आप दोनों में प्यार बढ़ सकता है और एक बॉन्ड पैदा हो सकता है। अगर वहीं पर रिलेशनशिप में सेक्स प्रोब्लेम्स आ जाती हैं तो रिश्ता खराब होने लग जाता है। जब बात महिलाओं की आती है तो उन्हें हमेशा से ही सेक्स के लिए रोककर रखा गया है। उन्हें कभी भी अपने आप को व्यक्त करने ही नहीं दिया गया लेकिन अब इसके बारे में बात होने लगी है। महिलाओं के सेक्स को भी एक्नॉलेज किया जाने लगा है तो चलिए बात करते हैं कि ऐसे कौन से फैक्टर हैं जो महिलाओं की सेक्स लाइफ को इफेक्ट करते हैं-

Advertisment

महिलाओं की Sexual Satisfaction को क्या चीजें इफेक्ट करती हैं?

मानसिक समस्याएं (Mental Issues)

अगर आप मानसिक समस्याओं से जूझ रहे हैं तब भी आपकी सेक्स लाइफ पर असर देखने को मिल सकता है। मेंटल स्ट्रेस होने के कारण आपकी सेक्स को लेकर इच्छा में भी कमी दिखाई देने लग जाती है. आपका सेक्स में मन नही लगता है। आपकी परफॉर्मेंस पर भी इसका असर पड़ता है। आपके लिए क्लाइमैक्स और ऑर्गेज्म तक पहुंचना भी कठिन हो सकता है। अगर आपको सेक्स के दौरान स्ट्रेस पैदा होता है या फिर आप अपनी परफॉर्मेंस के बारे में सोचते हैं तो आपको एक बार हेल्थ केयर प्रोवाइडर इस जरूर बात करनी चाहिए।

Advertisment

उम्र का बढ़ना (Aging)

उम्र का महिलाओं की सेक्स लाइफ के ऊपर असर पड़ता है जिससे आपकी सेक्स लाइफ प्रभावित हो सकती है जैसे आप में काफी सारे शारीरिक बदलाव आने लग जाते हैं। आपका वेट कम होने लग जाता है। वजन में बदलाव आने लग जात जाते हैं और स्किन ढीली हो जाती है। इसके साथ ही वजाइना में लुब्रिकेशन की कमी हो जाती है। वजाइना की वॉल पतली होने लग जाती है। मेनोपॉज भी हो जाता है। इस दौरान भी आपको बहुत सारी शारीरिक और मानसिक बदलावों से गुजरना पड़ता है लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि आप सेक्स लाइफ इंजॉय नहीं कर सकते हैं। बहुत सारी महिलाएं बुढ़ापे की उम्र में भी सेक्स एंजॉय करती हैं।

मेडिकल कंडीशंस (Medical Conditions)

Advertisment

बहुत सारे मेडिकल कंडीशंस भी हैं जो महिलाओं की सेक्सुअल सेटिस्फेक्शन को इफेक्ट कर सकती हैं जैसे किडनी, हार्ट फेलियर और मल्टीपल स्क्लेरोसिस यौन रोग का कारण बन सकते हैं। इसके साथ ही बॉडी में होने वाले हार्मोनल बदलाव जैसे एस्ट्रोजन की कमी के कारण भी आपकी सेक्सुअल लाइफ पर असर पड़ सकता है। ,अगर आप किसी तरीके की दवाई ले रहे हैं जैसे ब्लड प्रेशर या फिर डिप्रेशन से जुड़ी दवाइयां भी आपकी सेक्सुअल लाइफ पर असर डालती हैं।

लाइफस्टाइल (Lifestyle Choices)

NIH के अनुसार,  सेक्सुअल फंक्शनिंग स्पष्ट रूप से महिलाओं में यौन संतुष्टि (Sexual Contributor) में योगदान देने वाला एकमात्र कारक नहीं है। महिलाओं की यौन संतुष्टि और जीवन की गुणवत्ता से जुड़े कई कारकों के बीच महत्वपूर्ण संबंध पाए गए हैं, जिनमें उम्र, शारीरिक स्वास्थ्य और सामान्य खुशहाली व खुशी शामिल हैं। इसलिए महिलाओं को अपने लाइफस्टाइल को अच्छा बनाना चाहिए जिसमें उनकी शारीरिक और मानसिक सेहत अच्छी हो। हेल्थी लाइफस्टाइल से आपकी सेक्स लाइफ भी अच्छी हो सकती है।

Disclaimer: इस प्लेटफॉर्म पर मौजूद जानकारी केवल आपकी जानकारी के लिए है। हमेशा चिकित्सा या स्वास्थ्य संबंधी निर्णय लेने से पहले किसी एक्सपर्ट से सलाह लें।

lifestyle Aging Sexual satisfaction Mental Issues
Advertisment