Breast Cancer Symptoms: ब्रेस्ट कैंसर के पांच मुख्य लक्षण

Swati Bundela
15 Oct 2022
Breast Cancer Symptoms: ब्रेस्ट कैंसर के पांच मुख्य लक्षण

ब्रेस्ट कैंसर महिलाओं में होने वाला दूसरा सबसे बड़ा कैंसर है। इसलिए जरूरी है कि आपको ब्रेस्ट कैंसर के लक्षणों के बारे में जानकारी होनी चाहिए। जिसकी मदद से आप समय रहते इन लक्षणों की पहचान कर सकें और कैंसर का खतरा अधिक बढ़ने से रोक सके। आज हम आपको ऐसे ही 5 लक्षणों के बारे में बताएंगे जो ब्रेस्ट कैंसर के मुख्य लक्षण है और जिन्हें आप को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए।

1. ब्रेस्ट और निप्पल में दर्द होना

डॉक्टर की माने तो ब्रेस्ट कैंसर दर्द रहित होता है। लेकिन ब्रेस्ट और निप्पल में अत्यधिक दर्द का होना ब्रेस्ट कैंसर के शुरुआती लक्षणों होने से है। क्योंकि ब्रेस्ट कैंसर के दौरान निप्पल और ब्रेस्ट के आकार में कुछ बदलाव आता है जिस कारण भी यह दर्द हो सकता है। इसलिए इस दर्द की पहचान कर सही समय पर डाक्टर से परामर्श करें।

2. ब्रेस्ट की त्वचा में परिवर्तन

ब्रेस्ट कैंसर के लक्षणों में ब्रेस्ट की त्वचा में बदलाव होना एक मुख्य लक्षण है। जब कैंसर की सेल्स बढ़ती है तो ब्रेस्ट एरिया में सूजन आ जाती है। जिस कारण ब्रेस्ट और निप्पल के आसपास की त्वचा में बदलाव होता है और उनके रंग में भी बदलाव होता है। ब्रेस्ट और निप्पल के आसपास का एरिया काफी खुरदुरा और पपडीदार दिखने लगता है।

3. निप्पल से डिस्चार्ज होना

अगर आपके निप्पल से पीले, लाल या हरे रंग का लिक्विड डिस्चार्ज होता है तो यह ब्रेस्ट कैंसर का मुख्य लक्षण है। अगर आप स्तनपान नही करवाती है और आपके ब्रेस्ट से डिस्चार्ज होता है तो यह चिंता का विषय है और इस संबंध में आपको तुरंत डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए। ध्यान दे कि निप्पल डिस्चार्ज के और भी कई कारण हो सकते हैं लेकिन एक बार डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

4. निप्पल का आकार बदलना या उलटा होना

ब्रेस्ट कैंसर में जब कोशिकाएं बढती हैं तो यह आपकी ब्रेस्ट और निप्पल की कोशिकाओ में भी परिवर्तन करता है। इस कारण निपल्स या तो उलटे हो जाते हैं या अंदर की ओर चले जाते हैं। यह बदलाव आपको कभी कभी पीरियड्स के दौरान भी दिखाई पडते हैं। ऐसा कुछ महसूस करने पर डॉक्टर के पास अवश्य जाएं।

5. सूजन आना

ब्रेस्ट कैंसर के दौरान ब्रेस्ट लाल, बैंगनी और नीली यानी चोटिल दिखायी पडती है। इसके साथ ही ब्रेस्ट पर सूजन भी आ जाती है। यह सामान्य नहीं है अथवा ऐसा कुछ भी होने पर अपने डॉक्टर को जरूर बताएं।

अनुशंसित लेख