Self-Love Tips: सेल्फकेयर को बनाएं अपना रूटीन

Apurva Dubey
03 Aug 2022
Self-Love Tips: सेल्फकेयर को बनाएं अपना रूटीन

सेल्फ केयर एक्टिविटी में शामिल होना न सिर्फ आपको शारीरिक बल्कि मानसिक तौर पर भी हेल्दी रखने में मदद करता है। खुद से प्यार करना एक बहुत जरुरी फैक्टर है। अगर आपको अपनी केयर या चिंता नहीं होती या आप अपना ठीक से ख्याल नहीं रख पाओगे तो यह समझ लें कि आप अपनी हेल्थ के साथ खिलवाड़ कर रहें हैं। 

हम सभी हमेशा चुनौतीपूर्ण समय से गुजरने में हमारी मदद करने के तरीकों की तलाश में रहते हैं जो हर परिस्थिति में जीवन की चल रही चुनौतियों का सामना करने की हमारी क्षमता को बढ़ाएंगे, विशेष रूप से कोविड -19 महामारी के बीच जहां आइसोलेशन और बीमारी के डर के कारण तनाव, चिंता, उदासी, भय और अकेलेपन जैसी भावनाओं का हमें अनुभव हुआ है। हम कैसा महसूस करते हैं इसमें हमारे हार्मोन बहुत बड़ी भूमिका निभाते हैं और सेल्फ केयर हमारे मूड स्विंग्स से निपटने में मदद कर सकती है।

Self-Love Tips: सेल्फकेयर को बनायें अपना रूटीन  

नेगेटिविटी से रहें दूर 

कोशिश करें कि आप अपनी लाइफ में जितना हो सके पॉजिटिव रहें। किसी भी तरह के नेगेटिव विचार या इंसान को अपने आसपास न रखें। कुछ लोगों की आदत होती है कि वह हर काम में कमियां व मीन मेख ढूंढ ही लेते हें यह उनके लिए दुनिया का सबसे आसान काम है। ऐसा करके वे दूसरों को नीचा दिखाने का एक मौका नहीं छोड़ते। ऐसे लोगों के जाल में फंसने से बचे और सोचें कि जो आपने किया है वह बेस्ट किया है। नेगेटिविटी से दूर रहें यह आपकी लाइफ में परेशानियां, दिक्कतें ही लेकर आएगी। 

स्लीप थेरेपी है जरुरी 

स्लीपिंग भी एक थेरेपी है, यह सुनकर आपको हैरानी जरूर हुई होगी लेकिन यह सच है। हमारे लिए अच्छी  नींद लेना बहुत जरुरी होता है। नींद हमारे बॉडी को रिचार्ज करती है जिससे हम रिलैक्स होतें है और इससे हमारे स्ट्रेस भी रिलीज़ होता है। अच्छी नींद हमारे माइंड को फ्रेश करती है और अगले दिन हम नए तरीके से अपने दिन की शुरुआत करने के लिए पूरी तरह रेडी होते हैं। हर रोज कम से कम 8 से 10 घंटे की नींद जरूर लें।   

स्किनकेयर है सेल्फकेयर 

सोशल मीडिया पर आजकल स्किनकेयर रूटीन इतने पॉपुलर हो चुके हैं कि अब हर कोई इसे अपने आप ही फॉलो करने लगा है। अपनी स्किन का ख्याल रखना; खुद को मेंटेन करना; कभी-कभी पार्लर जाना भी उतना ही जरुरी है जितना खुदको स्ट्रेस से दूर रखना। जब आपका शरीर खिला-खिला होगा तो आपका मन भी खिला-खिला सा महसूस होगा और आप अंदर से खुश होंगी।   

फीलिंग्स शेयर करना सीखें 

लाइफ में जो भी चल रहा हो; चाहे आपको जितना भी स्ट्रेस या एंग्जायटी का सामना करना पड़ रहा हो। कभी भी इन चीज़ों से अकेले न भिड़े, हमेशा अपनी फीलिंग्स, अपने दिल के जज्बात को शेयर करते रहें। इससे आपको अंदर से हल्का महसूस होगा। कोई भी इंसान अकेला नहीं रह सकता, जब आप किसी से अपनी फीलिंग्स शेयर करना शुरू करते हो तो आपका बांड भी डेवेलोप होता है। चाहे वह दोस्ती हो , पेरेंट्स का प्यार, या लाइफ पार्टनर- किसी न किसी के साथ अपने दिल के जज्बात को शेयर करना सीखें।    

अनुशंसित लेख