Sleeplessness: पूरी नींद न लेने से होती है बहुत सी समस्याएं

Apurva Dubey
10 Oct 2022
Sleeplessness: पूरी नींद न लेने से होती है बहुत सी समस्याएं

हमारे स्वस्थ रहने के लिए जितना महत्वपूर्ण हमारा खान-पान और हमारी दैनिक दिनचर्या है उतना ही महत्वपूर्ण हमारा सोना है। डॉक्टरों के अनुसार आदमी को अपने मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य को अच्छा बनाए रखने के लिए कम से कम 8 घंटे की नींद लेना आवश्यक होता है। लेकिन हमारे दैनिक दिनचर्या में भागदौड़ इतनी बढ़ गई है कि हमारी नींद अक्सर पूरी नहीं हो पाती है। नींद का पूरा होना हमारे शरीर के लिए बहुत सी समस्याओं को आमंत्रण देता है। आइए जानते हैं ऐसी समस्याओं के बारे में जो आपकी नींद न पूरी होने के कारण आपको परेशान कर सकती हैं।

Sleeplessness

1. मानसिक स्वास्थ्य पर पड़ता है असर

जब आपकी नींद पूरी नहीं हो पाती है तब आपके मानसिक स्वास्थ्य पर काफी असर पड़ता है। इस कारण आपके मस्तिष्क को आराम नहीं मिल पाता है और आप तनाव, एंजाइटी और डिप्रेशन का शिकार होते हैं। नींद ना पूरी होने के कारण आप पर स्ट्रेस बढ़ता है और आप में इरिटेशन जैसी भावनाएं बढ़ने लगती है।

2. दिल पर पड़ता है बुरा असर

जब आप अच्छी नींद नहीं ले पाते हैं तब आपके शरीर में शारीरिक और मानसिक दोनों तनाव बढ़ने लगते हैं। इस कारण आपके शरीर का मेटाबॉलिज्म रेट खराब होने लगता है, जिससे आपका वजन निरंतर बढ़ता रहता है और वजन बढ़ने से आपके दिल पर काफी प्रभाव पड़ता है। इससे हृदय संबंधित कई समस्याओं को बढ़ावा मिलता है।

3. महिलाओं में स्तन कैंसर का खतरा

महिलाओं में नींद न पूरी होने से स्तन कैंसर होने का खतरा होता है। डॉक्टर की माने तो नींद ना पूरी होने से शरीर की कोशिकाओं पर बुरा प्रभाव पड़ता है और उन्हें नुकसान पहुंचता है। जिस कारण महिलाओं में स्तन कैंसर का खतरा बढ़ जाता है।

4. शरीर में हार्मोंस का बदलाव

हमारे शरीर में हार्मोन का बदलाव होने के बहुत से कारण होते हैं। उनमें से एक कारण नींद का पूरा ना होना भी है। क्योंकि नींद ना पूरी होने से तनाव और एंजाइटी जैसी समस्याएं बढ़ती है। जिस कारण हार्मोन का बदलाव होना स्वाभाविक है। इसके साथ ही चिड़चिड़ापन, पीरियड्स में अनियमितता, वजन का बढ़ना, मूड स्विंग्स जैसी अन्य समस्याओं को भी बढ़ोतरी मिलती है।

5. इम्यूनिटी पावर पर पड़ता है बुरा असर

⁠⁠⁠⁠⁠⁠⁠हमारे अच्छी नींद ना लेने से हमारी इम्यूनिटी पावर खराब होने लगती है। अगर शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होती है या खराब होती है इस कारण शरीर में ओर भी समस्याएं होने का खतरा बढ़ जाता है। किसी भी प्रकार के इन्फेक्शन, खांसी, जुखाम, बुखार की चपेट में हम बहुत आसानी से आ जाते हैं।

अनुशंसित लेख