Home Remedies For Period Cramps: पाएं पीरियड्स क्रैम्प से छुटकारा

Home Remedies For Period Cramps: पाएं पीरियड्स क्रैम्प से छुटकारा Home Remedies For Period Cramps: पाएं पीरियड्स क्रैम्प से छुटकारा

Apurva Dubey

02 Aug 2022

पीरियड्स क्रैम्प्स एक बहुत ही बुरा अहसास है। महिलाओं को हर महीने इस दर्द से गुजरना पड़ता है। हालांकि हर महिला में इसके दर्द का लेवल अपने-अपने हिसाब से कम या ज्यादा होता है। अक्सर सामान्य पीरियड क्रैम्प को कुछ घरेलु नुस्खों के मदद से ही दूर करने की कोशिश की जाती है। इसमें ज्यादा मेडिकल हेल्प या किसी दवाई की जरुरत नहीं होती। बस घर पर मसालों से बनी घरेलु नुस्खे और ड्रिंक्स इन क्रैम्प्स से आजादी दिला सकते हैं। 

Home Remedies For Period Cramps:  पीरियड्स क्रैम्प से छुटकारा

तिल के तेल की मालिश

तिल के तेल से मालिश करना अभ्यंग नामक आयुर्वेदिक दिनचर्या का हिस्सा है। तिल के तेल में लिनोलिक एसिड होता है जो इसे एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट बनाता है। यदि आपको पीरियड्स क्रैम्प्स का अनुभव होता है, तो आप थोड़ा सा तिल का तेल लेकर अपने पेट के निचले हिस्से पर मालिश कर सकती हैं।

काली मिर्च और अदरक वाली चाय

सूखे अदरक और काली मिर्च से बनी हर्बल चाय प्रोस्टाग्लैंडीन के स्तर को कम कर सकती है, जिससे क्रैम्प्स कम हो सकती है। यह समय के साथ पीरियड्स को नियमित करने में भी मदद करता है और उस थकान को दूर करता है जो प्रीमेंस्ट्रुअल सिंड्रोम का हिस्सा है।

अपने भोजन में दालचीनी शामिल करें

दालचीनी के एंटीस्पास्मोडिक, एंटी-क्लॉटिंग और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण पीरियड्स क्रैम्प्स के खिलाफ राहत प्रदान करने में फायदेमंद होते हैं। इस मसाले को अपने व्यंजनों में थोड़ा सा डालने की कोशिश करें या शहद के साथ दालचीनी की चाय लें। बेहतर परिणामों के लिए आप अपने पीरियड्स शुरू होने से दो दिन पहले चाय पीना शुरू कर सकती हैं।

मेथी-हींग पानी

एक मुट्ठी मेथी के दानों को रात भर पानी में भिगो दें और सुबह इसे पी लें। यह पीरियड्स के दर्द को कम करने में मदद कर सकता है।

हिबिस्कुस चाय

पीरियड्स क्रैम्प्स प्रोस्टाग्लैंडीन के निकलने के कारण होती है। उन्हें राहत देने के लिए हिबिस्कस वाली चाय पीने की कोशिश करें। हिबिस्कस में एनाल्जेसिक गुण होते हैं जो गर्भाशय और मूत्राशय की मांसपेशियों को आराम देते हैं।

अधिक मात्रा में पानी पिएं

पीरियड्स के दौरान हाइड्रेटेड रहना बेहद जरूरी है। ऐसे भोजन का सेवन करें जिसमें पानी की मात्रा अधिक हो जैसे कि खीरा, तरबूज, टमाटर आदि। ये सभी प्राकृतिक मूत्रवर्धक हैं और सूजन को कम करने में मदद करते हैं और इसलिए ऐंठन भी। पूरे दिन गर्म पानी पीने की कोशिश करें। यदि आवश्यक हो तो आप इसमें कुछ अजवायन के बीज भी मिला सकते हैं।

सेंक लगाएं 

यह एक घरेलू उपाय है जिसने सदियों से अपना जादू चलाया है। गर्म पानी की थैली लगाने या अपने पेट को गर्म पानी से स्नान करने से मासिक धर्म में ऐंठन में मदद मिल सकती है। ऐसा इसलिए है क्योंकि गर्मी दर्द को कम करने के लिए आपके गर्भाशय की सिकुड़ती मांसपेशियों को आराम देती है।

अनुशंसित लेख