Weight Loss Myths: मोटापा घटाने से जुड़ी यह बातें कितनी झूठ?

ऐसी बहुत सी चीजें हैं जिनको हम अपनी डाइट में इसलिए इंक्लूड कर लेते हैं क्योंकि हम विश्वास करते हैं कि वह हमारे वजन कम करने में सहायक है। लेकिन यह बात कितनी सच है और कितनी झूठ आइए जानते हैं इस ब्लॉग में-

Monika Pundir
07 Dec 2022
Weight Loss Myths: मोटापा घटाने से जुड़ी यह बातें कितनी झूठ?

Weight Loss Myths

Weight Loss Myths: मोटापा घटाने से जुड़ी यह बातें कितनी झूठ?

हर कोई चाहता है कि उनका वजन नियंत्रण में रहे और वह मोटापे का शिकार ना हो क्योंकि मोटापा शरीर के लिए बहुत सारी समस्याओं को बुलावा देता है। वजन कम करने के लिए हम हैवी एक्सरसाइज, हैवी वर्कआउट और एक डाइट का सहारा लेते हैं। लेकिन ऐसी बहुत सी चीजें हैं जिनको हम अपनी डाइट में इसलिए इंक्लूड कर लेते हैं क्योंकि हम विश्वास करते हैं कि वह हमारे वजन कम करने में सहायक है। लेकिन यह बात कितनी सच है और कितनी झूठ आइए जानते हैं इस लेख में-

1. वजन कम करने के लिए कैलोरीज घटाएं

वजन कम करने के लिए यह जरूरी है कि हम जितना कैलोरीज ले रहे हैं उससे अधिक हम अपनी वर्कआउट में बर्न आउट कर दें। लेकिन अगर आप यह सोच रहे हैं कि कैलोरीज कम करने से ही आपका वजन कम हो जाएगा तो यह गलत है। कैलोरीज कम करने के साथ-साथ ऐसे बहुत से फैक्टर है जिन पर वजन कम करने के लिए ध्यान देना आवश्यक होता है जैसे कि मेटाबॉलिक एक्टिविटीज, हार्मोनअल इंबैलेंस आदि।

2. ब्रेकफास्ट का महत्व

ब्रेकफास्ट करना आपको पूरे दिन की एनर्जी देने के लिए जरूरी होता है लेकिन अगर आप इंटिमेटेड फास्टिंग करके अपना वजन कम कर रहे हैं तो शायद ब्रेकफास्ट को एस्केप करना आपके लिए बेनिफिट हो सकता है। ऐसा करने से आपकी कैलोरी की मात्रा भी नियंत्रण में रहेगी और ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल बेहतर होगा।

3. सप्लीमेंट्स जरूरी है?

वजन कम करने के लिए अक्सर हम बाहरी सप्लीमेंट्स पर भी निर्भर करते हैं लेकिन इन सप्लीमेंट्स के साइड इफेक्ट भी होते हैं इसलिए जरूरी है कि आप बाहरी सप्लीमेंट्स पर निर्भर करने से बेहतर एक डाइट प्लान बनाएं जिसमें जरूरी पोषक तत्वों की मात्रा होनी चाहिए।

4. फैट्स खाना शरीर के लिए हानिकारक है?

जब हम अपना वजन कम करना चाहते हैं तो हम ऐसे खानों को छोड़ देते हैं जिनमें फैट की मात्रा अधिक होती है। यह करना जरूरी भी होता है लेकिन हमारी बॉडी एनर्जी को प्राप्त करने के लिए फैट पर ही निर्भर रहती है। इसलिए वजन कम करते समय भी आपको अपनी डाइट में मोनोसैचुरेटेड और पोलिसैचुरेटेड फैट को लेना चाहिए क्योंकि यह हेल्दी फैट की श्रेणी में आता है।

5. कार्बोहाइड्रेट वजन बढ़ाते हैं?

हमारा शरीर अपनी एनर्जी को प्राप्त करने के लिए कार्बोहाइड्रेट पर भी निर्भर रहता है क्योंकि यह शरीर को स्लो एनर्जी देते रहते हैं। इसलिए पूरी तरीके से अपनी डाइट में कार्बोहाइड्रेट्स को बंद कर देना गलत निर्णय होता है। आपको बींस, नट्स और फल आदि का सेवन करते रहना चाहिए क्योंकि यह कॉन्प्लेक्स कार्बोहाइड्रेट की श्रेणी में आते हैं जिनमें पोषक तत्वों की मात्रा भरपूर होती है।

6. आर्टिफिशियल स्वीटनर्स फायदेमंद है?

वजन कम करने के लिए हम अपनी डाइट में मीठे की मात्रा को भी सीमित कर लेते हैं। इसलिए जब हमें मीठा खाना होता है तो हम आर्टिफिशियल स्वीटनर्स को इस्तेमाल करते हैं। लेकिन इन आर्टिफिशियल स्वीटनर्स के कारण Type 2 डायबिटीज का खतरा बढ़ सकता है।

Read The Next Article