Advertisment

Women And Orgasm: महिलाओं को ऑर्गेज्म से क्यों प्यार करना चाहिए?

सदियों से महिलाएं शारीरिक सुख से वंचित रह रही हैं। उन्होंने कभी भी अपने शारीरिक जरूरत को प्राथमिकता नहीं दी है। आज भी बहुत सारी महिलाएं फेक ऑर्गेज्म करती हैं। इसका मतलब यह है कि उन्हें अपनी शारीरिक जरूरत के बारे में बताने में डर लगता है।

author-image
Rajveer Kaur
New Update
Nipple Orgasm (Huffpost)

(Image Credit: Huffpost)

Why Should Women Need To Be In Love To Orgasm: सदियों से महिलाएं शारीरिक सुख से वंचित रह रही हैं। उन्होंने कभी भी अपने शारीरिक जरूरत को प्राथमिकता नहीं दी है। आज भी बहुत सारी महिलाएं फेक ऑर्गेज्म करती हैं। इसका मतलब यह है कि उन्हें अपनी शारीरिक जरूरत के बारे में बताने में डर लगता है और वे ओवरऑल वैल्यूज सुधार आता है अपने पार्टनर के साथ कंफर्टेबल नहीं है। दूसरा उन्हें यह भी लगता है कि उनके पार्टनर को मेल इगो को ठेस पहुंचेगी। कुछ महिलाएं ऐसी शादी भी है जो सेक्स के दौरान कंफर्टेबल और पेनफुल महसूस करती हैं। इसके कारण भी वो सेक्स को जल्दी खत्म कर देना चाहती हैं। आज हम बताएंगे कि महिलाओं को ऑर्गेज्म से प्यार क्यों करना चाहिए-

Advertisment

महिलाओं को ऑर्गेज्म से क्यों प्यार करना चाहिए?

महिलाओं को प्लेजर मिलता है

जब महिलाएं ऑर्गेज्म प्राप्त करती हैं तब उन्हें प्लेजर (Pleasure) मिलता और संतुष्टि मिलती है। जब महिलाएं शारीरिक रूप से संतुष्ट होती है तब वह अपने बाकी कामों में अच्छा प्रदर्शन करती हैं। उनके अंदर स्ट्रेस और फ्रस्ट्रेशन नहीं होता है। इसके साथ ही उनके रिलेशनशिप में सुधार आता है। उनके रिश्ते में इंटिमेसी आती है। प्लेजर मिलने के कारण महिलाओं को अपनी बॉडी आपके साथ भी कंफर्टेबल होती हैं और खुद पर डाउट नहीं करती हैं।

Advertisment

खुद के बारे में जानने का मौका मिलता है

महिलाओं को ऑर्गेज्म से खुद के बारे में जानने का मौका मिलता है। उन्हें अपनी और बॉडी के बारे में जानकारी मिलती है। इससे उन्हें सेल्फ अवेयरनेस मिलती है म। उदाहरण के तौर पर जब महिलाएं मास्टरबेशन करती हैं तब उन्हें अपनी सेक्सुअल हेल्थ के बारे में बहुत सारी चीज पता चलती हैं। इसके साथ ही वह अपनी बॉडी के साथ सहज महसूस करने लग जाती हैं और उनका कॉन्फिडेंस भी बढ़ता है।  जब महिलाओं को खुद के बारे में जानकारी होगी तब वो अपने पार्टनर को भी बता पाएंगी कि हमें सेक्स के दौरान क्या अच्छा लगता है और क्या नहीं।

ऑर्गेज्म से जुड़े टैबू टूटते हैं

Advertisment

जब महिलाएं ऑर्गेज्म को प्रायोरिटी देती हैं तब वह बहुत सारे टैबू तोड़ती हैं जैसे यह माना जाता है कि ऑर्गेज्म सिर्फ पुरुषों के लिए है या महिलाएं मास्टरबेशन (Masturbation) नहीं कर सकती है। इसके साथ ही जो महिलाएं प्लेजर को प्राप्त करते हैं उन्हें शर्मिंदा महसूस करवाया जाता है या फिर उन्हें दोषी ठहराया जाता है। इन सभी टैबू के मौजूद होने के कारण के महिलाएं पार्टनर के सामने या खुद भी वल्नरेबल होने से घबराती हैं और इसे एक्सप्लोर नहीं कर पाती। इसलिए जब महिलाएं ऑर्गेज्म को प्राप्त करती हैं तब वह इन सारे टैबू को किनारा कर देती हैं।

महिलाएं खुद से प्यार करने लगती हैं

कुछ महिलाओं को खुद की बॉडी से प्यार नहीं होता है। उन्हें अपने में कमियां दिखाई देती हैं। उन्हें लगता है कि वह सुंदर नहीं हैं या फिर पार्टनर उन्हें पसंद करता लेकिन जब महिलाएं ऑर्गेज्म प्राप्त करती हैं तब उन्हें अपनी असली ताकत के बारे में पता चलता है और अपनी बॉडी के बारे में जानकारी मिलती है ।उन्हें अपनी इच्छाओं के बारे में पता चलता है। इसके साथ ही ऑर्गेज्म से महिलाएं अपने सेल्फ प्लेजर को भी प्राथमिकताएं देने लगती हैं और उनका कॉन्फिडेंस भी बड़ता है। वो खुद के साथ वल्नरेबल भी होती हैं और अपनी बॉडी को वैसे ही स्वीकार करती है जैसे वो हैं।

Advertisment

ओवरऑल वेलबीइंग में सुधार आता है 

ओर्गास्म के साथ महिलाओं की शारीरिक और मानसिक सेहत के ऊपर पॉजिटिव प्रभाव पड़ता है। अगर हम ऑर्गेज्म के शारीरिक फायदों की बात करें तो इससे एंड्राॅफिन रिलीज होता है जो एक नेचुरल पेनकिलर की तरह काम करता है। इसके साथ ही ब्लड प्रेशर कम होता है और महिलाओं की इम्यूनिटी पर पॉजिटिव प्रभाव पड़ता है। इसके साथ ही पेल्विक फ्लोर मजबूत होता है। वहीं मानसिक सेहत की बात की जाए तो ऑर्गेज्म स्ट्रेस रिलीफ करने में मदद करता है और इससे मूड में सुधार आता है। इसके साथ ही यह स्लीप को रेगुलेट करने में मदद करता है। ऐसे महिलाओं को शारीरिक और मानसिक दोनों फायदे मिलते हैं।

Disclaimer: इस प्लेटफॉर्म पर मौजूद जानकारी केवल आपकी जानकारी के लिए है। हमेशा चिकित्सा या स्वास्थ्य संबंधी निर्णय लेने से पहले किसी एक्सपर्ट से सलाह लें।

 

orgasm Masturbation pleasure Women Need To Be In Love To Orgasm
Advertisment