Advertisment

बरसात में UTI से बचने के लिए महिलाएं अपनाएं ये उपाय

यूरिन ट्रैक इन्फेक्शन (यूटीआई) विशेष रूप से परेशान करने वाला हो सकता है, खासकर बारिश के मौसम में जब नमी और स्वच्छता से समझौता जैसे विभिन्न कारकों के कारण खतरा बढ़ जाता है।आइये जानते हैं बारिश के मौसम में यूटीआई से बचने के लिए महिलाएं क्या करें।

author-image
Priya Singh
New Update
UTI (Pinterest)

(Image Credit: Pinterest)

Women should Do These Things to avoid UTI during rainy season: यूरिन ट्रैक इन्फेक्शन (यूटीआई) विशेष रूप से परेशान करने वाला हो सकता है, खासकर बारिश के मौसम में जब नमी और स्वच्छता से समझौता जैसे विभिन्न कारकों के कारण खतरा बढ़ जाता है। विशेष रूप से महिलाएं अपनी शारीरिक संरचना के कारण यूटीआई के प्रति ज्यादा सेंसिटिव होती हैं। लेकिन इस मौसम में यूटीआई से जुड़े खतरे और परेशानी को कम करने के लिए वे कई सक्रिय उपाय अपना सकती हैं। आइये जानते हैं बारिश के मौसम में यूटीआई से बचने के लिए महिलाएं क्या करें।

Advertisment

बरसात में UTI से बचने के लिए महिलाएं अपनाएं ये उपाय

1. हाइड्रेटेड रहना

यूटीआई को रोकने के लिए सबसे ज़रूरी कदमों में से एक है हाइड्रेटेड रहना। भरपूर पानी पीने से यूरिन ट्रैक से बैक्टीरिया बाहर निकल जाते हैं, जिससे संक्रमण की संभावना कम हो जाती है। बारिश के मौसम में, जब तापमान ठंडा हो सकता है, तो हाइड्रेशन को नज़रअंदाज़ करना आसान होता है, लेकिन पर्याप्त मात्रा में तरल पदार्थ का सेवन ज़रूरी रहता है।

Advertisment

2. व्यक्तिगत स्वच्छता का ध्यान रखना

यूटीआई को रोकने के लिए व्यक्तिगत स्वच्छता बनाए रखना बहुत ज़रूरी है। महिलाओं को जेनिटल एरिया की उचित सफ़ाई सुनिश्चित करनी चाहिए, ख़ास तौर पर बाथरूम का इस्तेमाल करने के बाद और सेक्स से पहले और बाद में। सौम्य, बिना स्मेल वाले साबुन का इस्तेमाल करना और आगे से पीछे की ओर पोंछना बैक्टीरिया के प्रसार को रोकने में मदद कर सकता है।

3. गीले कपड़ों को तुरंत बदलें

Advertisment

बारिश के मौसम में अक्सर नमी होती है, जो बैक्टीरिया के पनपने के लिए आदर्श वातावरण बना सकती है। महिलाओं को बैक्टीरिया के विकास को रोकने और यूटीआई के खतरे को कम करने के लिए जितनी जल्दी हो सके गीले कपड़े, जैसे कि स्विमसूट या नम अंडरगारमेंट्स को बदल देना चाहिए।

4. सांस लेने योग्य कपड़े पहनें

नमी को कम करने और हवा के संचार को अनुमति देने के लिए कॉटन जैसे सांस लेने योग्य कपड़े चुनें, ख़ास तौर पर अंडरगारमेंट्स में। तंग कपड़े नमी को फँसा सकते हैं, जिससे बैक्टीरिया के पनपने का माहौल बन सकता है। ढीले-ढाले, सांस लेने योग्य कपड़े चुनने से जननांग क्षेत्र को सूखा रखने और यूटीआई के खतरे को कम करने में मदद मिलती है।

Advertisment

5. मूत्राशय को स्वस्थ रखें

लंबे समय तक पेशाब को रोककर न रखें क्योंकि इससे मूत्राशय में बैक्टीरिया पनपने लगते हैं और यूटीआई का खतरा बढ़ जाता है। ज़रूरत पड़ने पर पेशाब करने से बैक्टीरिया बाहर निकल जाते हैं और संक्रमण से बचाव होता है। इसके अलावा, सेक्स से पहले और बाद में मूत्राशय को खाली करने से यूटीआई का खतरा कम हो सकता है।

6. आहार में बदलाव करना

कुछ खाद्य पदार्थ और पेय पदार्थ ब्लैडर में जलन पैदा कर सकते हैं और यूटीआई का खतरा बढ़ा सकते हैं। कैफीन, शराब और मसालेदार खाद्य पदार्थों का सेवन सीमित करने से जलन को रोकने और यूटीआई की संभावना को कम करने में मदद मिल सकती है। इसके बजाय, मूत्र पथ में बैक्टीरिया के स्वस्थ संतुलन को बढ़ावा देने के लिए अपने आहार में प्रोबायोटिक्स से भरपूर खाद्य पदार्थ जैसे कि दही को शामिल करने पर ध्यान दें।

Disclaimer: इस प्लेटफॉर्म पर मौजूद जानकारी केवल आपकी जानकारी के लिए है। हमेशा चिकित्सा या स्वास्थ्य संबंधी निर्णय लेने से पहले किसी एक्सपर्ट से सलाह लें।

#Women UTI Rainy Season
Advertisment