Vaginal Care: क्या हैं वजाइनल PH अनबेलेंस होने के लक्षण

वजाईनल डिस्चार्ज भी एक आम समस्या है। यह आपको सेक्शुअली एक्टिवेटे होने या पीरियड्स से पहले भी ही सकता है। यह पूरी तरीके से आम बात है। लेकिन यदि आपको ग्रे, ग्रीन या फॉम्य युक्त डिस्चार्ज होता है।

Shruti Upadhyay
23 Dec 2022
Vaginal Care: क्या हैं वजाइनल PH अनबेलेंस होने के लक्षण

Vaginal Care

Vaginal Care: अगर आपको अपने वजाइना से स्मेल आती है। तो यह पूरे तरीके से नॉर्मल बात है। आपको यह बात समझना बहुत ज्यादा जरूरी है कि किसी का भी वजाइना गुलाब की तरह खुशबू नहीं देता। हमारे वजाइना की एक अलग सी स्मेल होती है। यदि आप किसी भी केमिकल प्रोडक्ट या परफ्यूम युक्त प्रोडक्ट (perfume product) का उपयोग कर ते हैं। 

आप इससे अपने वजाइना को साफ रखने की कोशिश करते हैं। तो आपको इसके लिए पैसे खर्च करने की आवश्यकता नहीं है। हमारी वजाइना खुद ही साफ हो जाती हैं यदि उसका PH मेंटेन रहता है। केवल पानी और साफ कपड़े से आप उसे साफ रख सकते हो। लेकिन यदि आपको वजाइनल पीएच अनबैलेंस हुआ है। तो आपको यह लक्षण आराम से दिख सकते हैं।

What are the Symptoms of unbalanced vaginal PH?

1. स्मेल में आएगा परिवर्तन

यदि आपको वजाइनल PH अनबैलेंस हुआ है। तो सबसे पहला लक्षण उसका यही होगा,कि आपको अपने वजाइना से स्ट्रांग स्मेल आने लगेगी। हर किसी के वजाइना की एक माइल्ड स्मेल होती है। यह स्मेल काफी आम होती है। लेकिन यदि आपको वजाइनल पीएच इन बैलेंस हुआ है। तो आपको मछली की तरह काफी तेज स्ट्रांग स्मेल (fisheries smell) आएगी।यदि आपको इस तरह की स्मेल आती है। तो आप समझ जाइए कि आपको वजाइनल पीएच बैलेंस ही हुआ है। आपको  गाइनेकोलॉजिस्ट से कंसल्ट करने की आवश्यकता है।

2. वजाईनल डिस्चार्ज (vaginal discharge)

वजाईनल डिस्चार्ज भी एक आम समस्या है। यह आपको सेक्शुअली एक्टिवेटे होने या पीरियड्स से पहले भी ही सकता है। यह पूरी तरीके से आम बात है। लेकिन यदि आपको ग्रे, ग्रीन या फॉम्य युक्त डिस्चार्ज होता है। तो यह एक चिंताजनक बात हो सकती है। दरअसल इस तरह का डिस्चार्ज  वजाइनल पीएच अनबैलेंस का एक लक्षण हो सकता है। आपको इसके लिए गाइनेकोलॉजिस्ट से कंसल्ट करने की आवश्यकता है।

3. वजाईनल इचिंग (vaginal itching)

यदि आपके वजाईना मे इंटेंस स्मेल हेवी डिस्चार्ज और ज्यादा खुजली कि समस्या है। तो आपको वजाइनल पीएच अनबैलेंस हो सकता है। यदि आपको ज्यादा खुजली कि समस्या है। तो यह जरूरी नहीं की आपको वजाइनल पीएच अनबैलेंस ही हो। हो सकता है कि आपको और भी कोई इन्फेक्शन हो। इस के लिए आपको गाइनेकोलॉजिस्ट(gynecologist) से कंसल्ट करने की आवश्यकता है।

4. सूजन और इरिटेशन (vaginal swelling and irritation)

वजाइनल पीएच अनबैलेंस होने पर आपको अपने वजाएना में काफी सूजन की समस्या भी हो सकती है। दरअसल यदि आपको खुजली होती है। तो ज्यादा खुजाने की वजह से वजाइना मे इरिटेशन और सूजन दोनों हो सकती है। आपको ऐसे में एलोवेरा का उपयोग करना चाहिए। लेकिन सबसे बेहतर यही होगा कि आपको गाइनेकोलॉजिस्ट से कंसल्ट करने की आवश्यकता है।

5. सेक्स (sex) के दौरान जलन और दर्द

वजाइनल पीएच बैलेंस होने पर आपको इंटर कोर्स (intercourse) के समय जलन की फीलिंग हो सकती है या फिर सेक्स के दौरान आपको काफी दर्द झेलना पड़ सकता है यह सारे ही रक्षण वजाइनल पीएच बैलेंस के होते हैं आपको इस समय में ज्यादा से ज्यादा लुब्रिकेंट (lubricant) का उपयोग करना चाहिए नहीं तो सबसे अच्छा उपाय कि आप गाइनेकोलॉजिस्ट से कंसल जरूर करें।

6. उरिनेशन या बाथरूम के दौरान जलन

वजाइनल पीएच अनबैलेंस के कारण अक्सर लोगों को यूरिनेशन के दौरान, काफी जलन का सामना करना पड़ सकता है। यदि आपको यूरिनेट(urinate) करते समय काफी ज्यादा जलन और दर्द महसूस होता है। यूरिनेशन लगभग असंभव सा लगने लगे। तो आपको गाइनेकोलॉजी से जरूर कंसल्ट करना चाहिए। दरअसल यह पूरी तरीके से वजाइनल पीएच अनबैलेंस के लक्षण है।

तो यह थे वह सारे के सारे लक्षण। जो वजाइनल Ph अनबैलेंस के कारण आपको देखने को मिल सकते हैं। आप  खुद से इसका ट्रीटमेंट करने की कोशिश बिल्कुल भी ना करें। हां ज्यादा लंबे समय तक यदि आप अपने यूरिन को सिर्फ पानी से साफ करते हैं। तो यह धीरे-धीरे ठीक हो सकता है। लेकिन यदि ऐसा नहीं होता तो आपको जल्द से जल्द गायनेकोलॉजी से कंसल्ट करना चाहिए।

Read The Next Article