5 Bad Stereotypes Women Should Break: हमें इनकी जरूरत नहीं हैं

एक और stereotype है जिसे हमें तौड़ने की जरूरत है कि जो लड़कियां चश्मा पहनती है इससे उनकी फेस की ब्यूटी है वह कवर हो जाती है। चश्मा पहनने से किसी की ब्यूटी नहीं छूटती है यह सब छोटी सोच की बातें हैं।

Rajveer Kaur
28 Nov 2022
5 Bad Stereotypes Women Should Break:  हमें इनकी जरूरत नहीं हैं

5 Stereotypes Women Should Break

हमारे समाज में खासकर लड़कियों के लिए बहुत सारे ऐसे स्टीरियोटाइप बनाएं कि ऐसा नहीं करना चाहिए ज्यादा छोटे कपड़े नहीं पहने चाहिए लोग क्या सोचेंगे? ऐसा करोगी तो तुम्हारे घरवालों की इज्जत चली जाएगी। इन सब चीजों में लड़कियों को फंसा कर रखा हुआ है। जिसका  फोकस है कि वे लड़कियां विकास ना हो पाए।आज हम बात करेगें उन स्टीरियोटाइपस की जिन्हें तोड़ना चाहिए

5 Stereotypes Women Should Break:-  हमें इनकी जरूरत नहीं हैं  

Short hair
हमारे समाज में यह भी एक स्टीरियोटाइप है के  लड़कियों के छोटे बाल अच्छे नहीं लगते लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं है। यह एक व्यक्ति की पर्सनल चॉइस है कि उसे छोटे बाल रखने हैं यहां लंबे बाल रखने हैं। इसमें कोई भी जेंडर का बैरियर नहीं है कि सिर्फ लड़के ही छोटे बाल रख सकते हैं लड़कियां लंबे बाल रख सकती हैं ।

ग्लास आपकी ब्यूटी कवर कर लेते है
एक और  stereotype है जिसे हमें तौड़ने की जरूरत है कि जो लड़कियां चश्मा पहनती है इससे उनकी फेस की ब्यूटी है वह कवर हो जाती है। चश्मा पहनने से किसी की ब्यूटी नहीं छूटती है यह सब छोटी सोच की बातें हैं।

डार्क कलर पर लाइट लिपस्टिक लगानी चाहिए 
हमारे समाज में वैसे भी डार्क कलर को अच्छा नहीं समझा जाता जिन लड़कियों को डार्क कलर होता है उन्हें बहुत से ब्यूटी स्टैंडर्ड्स में से गुजरना पड़ता है। समाज उनका जीना बहुत कठिन कर देता है। ऐसी लड़कियों को बहुत स्ट्रांग होना पड़ता है हम बात करें डार्क कलर पर लाइट लिपस्टिक यह भी कोई जरुरी नहीं है आपका जो मन करें आप लगा सकते हैं।

फैटी लड़कियों को वेस्टर्न ड्रेस नहीं पहनी चाहिए
यह किसी के पास भी अधिकार नहीं है कि वह आपके लिए डिसाइड करेगी आपको कैसे कपड़े पहने हैं या फिर आप को क्या पहनना चाहिए और क्या नहीं आपकी यह आपकी व्यक्तिगत चॉइस है आपको जो पहनना है आप पहन सकती है हमारे समाज में ऐसी और भी बहुत सारी स्टीरियोटाइप्स है जिनमें से औरतों को गुजरना पड़ता है लेकिन अब जरूरत है हमें इन्हें तोड़ने की है।

Wife Material: महिलाओं के आजाद व्यवहार को सीमित करता है यह कांसेप्ट

स्किनी लड़कियां साड़ी नहीं पहन सकती
स्किनी लड़कियों को साड़ी पहननी चाहिए या नहीं यह भी उनकी व्यक्तिगत च्वाइस है। कोई भी यह उनके लिए नहीं तह नहीं कर सकता कि उन्हें क्या पहनना है क्या नहीं।अगर कोई बहुत ज्यादा मोटा है या पतला है इसका मतलब यह नहीं है कि वह इस टाइप के कपड़े नहीं पहन सकता।

Read The Next Article