क्या कभी आपने सोचा है कि ब्रा पहनना जरूरी है भी या नहीं? हम सब ब्रा पहनते आये हैं क्योंकि माँ, दादी-नानी ने कहा है की पहनो! लेकिन ब्रा पहनने का कोई वैज्ञानिक कारण नहीं है, यह तो बस एक कपड़ा है जिसे इतना सेक्सुअलाइज किया गया है की अगर नहीं पहना तो सभी जज करने, कमेंट पास करने लग जाते हैं।  लेकिन ब्रा पहनना हमेशा एक चॉइस होनी चाहिये, सोसाइटी या फैमिली की नहीं सिर्फ आपकी। आइए जानते हैं क्यों? bra ke fayde aur nuksan

image

ब्रा पहनने के फायदे और नुकसान bra ke fayde aur nuksan

ब्रा के फायदे (bra ke fayde)

  • एक्सरसाइज और दौड़ के वक़्त ब्रेस्ट को सपोर्ट मिलती है।
  • कुछ कपड़ों की फिटिंग को बेहतर और सुडौल बनाता है।
  • अगर ब्रा पहना तो सोसाइटी की बॉडी शेमिंग से बच जाएँगे।

ब्रा ना पहनने के कुछ कारण – (bra ke nuksan)

  • ब्रा के बिना हम काफी comfortable फील करते हैं।
  • ब्रा काफी महंगे होते हैं, तो अगर ना पहने तो काफी पैसों की बचत जरुर हो जाएगी। 
  • कन्धों पर ब्रा के प्रेशर लाइन्स से छुटकारा मिलेगा।
  • यंग लडकियों में ब्रा ना पहनने से हैल्दी ब्रेस्ट टिशु (Healthy Breast Tissue) बढ़ते हैं।
  • गलत साइज़ की ब्रा पहनने से बहुत हेल्थ प्रॉब्लम्स का सामना करना पड़ता है।

ब्रा पहनने का इतना प्रेशर क्यों ?

अगर पुराने civilization को देखें तो सदियों तक औरतें कभी ब्रा नहीं पहनती थी। लेकिन फिर यूरोपियन corsets आया जो की अच्छी बॉडी posture के लिये काफी औरतें पहनने लगी। फिर 1898 में फ्रांस में ब्रेज़ियर (brasierre) आया और आज की ब्रा उन्हीं brasierre का मॉडर्न रुप है। 

सदियों से औरतें अपनी बॉडी को कैसे संवारती हैं ये पुरुषों की मानसिकता पर ही डिपेंड करता आया है, कि वे किस तरह की फीमेल बॉडी को सेक्सी मानते हैं। औरतों के कपड़ों को कभी भी आराम या comfort के तौर पर नहीं बल्कि वे कितने सेक्सी या attractive हैं इसपर बांटा गया है।

इसलिए ब्रा पहनने का इतना प्रेशर है क्योंकि वे ब्रेस्ट को सेक्सी बनाते हैं, और इस सेक्सी के नाम पर हम उन सभी चीज़ों को अपनाते आये हैं जो बिल्कुल भी आरामदायक नहीं है, जैसे की हील्स, ब्रा, दर्द भरे बॉडी वैक्स करवाना, आदि। 

ब्रा पहनना सिर्फ आपकी चॉइस होनी चाहिये।

सोसाइटी ने औरतों के ब्रेस्ट को सेक्सुअलाइज  (sexualise) करके ब्रा पहनना जरूरी कर दिया है लेकिन यह आपकी बॉडी है तो इसपर सिर्फ आपका हक़ है, ना ही आपकी फैमिली, सोसाइटी या पार्टनर का। 

आपने #freethenipple के बारे में सुना होगा जिसमें आवाज़ उठाई गई है कि पुरुषों और महिलाओं दोनों के ब्रेस्ट टिस्शू, निप्पल, और aerola होते हैं चाहे बड़े या छोटे हों तो फिर सिर्फ औरतों के ही निप्पल को क्यों इतना शेम और सेक्सुअलाइज क्यों किया गया है? 

इसलिए आप यह खुद तय करें की ब्रा आपको पहननी है या नहीं और कब कब पहननी है, जैसे की आप चाहें तो एक्सरसाइज के वक़्त सपोर्ट के लिये पहने और बाकी दिन नहीं क्योंकि यह हमारे आराम का मामला है।

ये थे bra ke fayde aur nuksan

और पढ़ें: ब्रेस्ट कैंसर क्या है? जानें इसके 5 कारण और 10 लक्षणों के बारें में

Email us at connect@shethepeople.tv