Feminist Dad(Feminism): क्या है फेमिनिस्ट डैड की निशानी

Rajveer Kaur
02 Nov 2022
Feminist Dad(Feminism): क्या है फेमिनिस्ट डैड की निशानी

पिता का हमारे जीवन में बहुत बढ़ा रोल होता है। अगर देखा जाए तो बेटियों की सबसे ज़्यादा अपने पिता से बनती हैं। समाज ने पिता की छवि को कुछ और ही पेश किया जैसे स्ट्रिक्ट, हमेशा ग़ुस्से में रहना, बच्चों से ज़्यादा बात नहीं करना, अपनी बेटी से ज्यादा खुलना नहीं है। जिस कारण समाज के प्रेशर में आकर बहुत सारे पिता अपनी बेटियों के साथ खुलते नहीं है। आज हम आपको बताएंगे फेमिनिस्ट डैड की निशानियों के बारे में -

Feminist Dad(Feminism): क्या है फेमिनिस्ट डैड की निशानी?

आपके फैसले का साथ देना
अगर आपके पिता फेमिनिस्ट है तो जरूर आपके फैसलों का साथ देंगे। उन्हें इससे कोई फर्क नहीं पड़ेगा कि लोग क्या कहेंगे? या लड़की हो इसलिए यह नहीं कर सकती, वहां नहीं जा सकती। वे आपकी चॉइस या सपनों को लेकर आपको कोई जज नहीं करेंगे।  

आपको अपने प्रॉपर्टी और बिजनेस में शामिल करेंगे
हमेशा से ऐसा ही देखा जाता है कि घर की प्रॉपर्टी और बिजनेस में  सिर्फ लड़कों  को शामिल किया जाता है।  यह चीज लॉ भी बन गई है लेकिन फिर भी बहुत सी लड़कियों को प्रॉपर्टी में शामिल नहीं किया जाता है। अगर आपके पिता आपको इन सब चीजों में शामिल कर रहे है, वे फेमिनिस्ट है।

लड़कियां पैसा संभाल सकती है 
उनके हिसाब से लड़कियां पैसा संभाल सकती हैं। इसलिए वह शुरू से ही आपको पैसों को कैसे मैनेज करना या बिजनेस कैसे चलाया जाता है उन चीजों के बारे में जानकारी देते हैं।  आगे जाकर भी आपको फोर्स नहीं करती कि आपकी बिजनेस में ही शामिल होना है जो भी आपकी निज्जी पसंद होती है उसका साथ देते है।

घर के कामों में मदद करना
फेमिनिस्ट पिता यह नहीं सोचते कि घर का काम सिर्फ औरतों की जिम्मेदारी है। वे आपकी माता और आप के  साथ घर के कामों में हाथ मदद करते हैं। उनके लिए जेंडर रोल नाम की कोई चीज नहीं है। उनके हिसाब से घर का काम अगर बेटी को सीखना चाहिए तो बेटे को भी जरूर सीखना चाहिए। अगर बेटा बाहर जाकर काम कर रहा है तो बेटी को भी  बाहर जाकर काम अवश्य करना चाहिए।

शादी की कोई 'एज' नहीं
फेमिनिस्ट पिता कभी भी आपके ऊपर शादी के लिए प्रेशर नहीं डालेंगे। कभी नहीं कहेंगे कि तुम्हारी शादी की उम्र निकलती जा रही है, शादी कब कर रही हो? 30 के बाद तुम्हें कोई लड़का नहीं मिलेगा।  इन सब बातों में विश्वास नहीं रखते है। वे आप का साथ देते हैं।

पीरियड्स के बारे में बात करना
अगर आप अपने पिता के साथ  पीरियड के बारे में  बात कर सकते हैं, उन्हें होने वाले पेन के बारे में बता सकते है। आपके पिता उन दिनों की तकलीफ को समझते हैं तो इसका मतलब है कि आपके पिता फेमिनिस्ट है।

अनुशंसित लेख