Advertisment

Women's Rights : जानिए कैसे जंग के कारण महिलाओं के अधिकारों का होता हैं खंडन

जभी कहीं जंग का माहौल हो या कहीं जंग छिड़ी होती हैं तो मानव अधिकारों का तो खड़न होना तय है। वहीं एक महिला को इसकी भारी कीमत चुकानी पड़ती है क्योंकि इस वक्त एक महिला के सारे अधिकार का कोई मयना नहीं रहता

author-image
Khushi Jaiswal
New Update
Women's rights

( image credit : People )

Women's Rights : जभी कहीं जंग का माहौल हो या कहीं जंग छिड़ी होती हैं तो मानव अधिकारों का तो खड़न होना तय है। वहीं एक महिला को इसकी भारी कीमत चुकानी पड़ती है क्योंकि इस वक्त एक महिला के सारे अधिकार का कोई मयना नहीं रहता बल्कि उनकी तनाव पूर्ण इलाकों में बत से बत्तर हालत करी जाती हैं।

Advertisment

जंग के कारण महिलाओं के अधिकारों का खंडन

1) उनकी मूल अधिकारों से इंकार

जभी कहीं जंग जैसे हालात होते है एक महिला को घर से निकलने पर सक्त पाबंदी लगा दी जाती है। वहीं अगर कोई महिला इस बीच प्रेगनेंट है या लेबर में है उनकी हालत और गंभीर हो जाती हैं। वहीं ऐसे तनाव भरे इलाकों में लड़कियों के शिक्षा पर भी रोक लगा दी जाती है। इसके कारण वैसे इलाकों में लिट्रेसी रेट काफी ज्यादा गिर जाते हैं।

Advertisment

2) महिलाओं के साथ होता दूर व्यवहार 

जंग के वक्त बने संघटन महिलाओं के साथ मार- पिट, सेक्शुअल हैरासमेंट और कई तरह के वायलेंस करते हैं। इस बीच कई महिलाओं और लड़कियों के साथ रेप, गैंग रैप जैसे कई सारे घटनाएं सामने आते हैं। कई बार उनके नग्न तस्वीरें और वीडियो भी बनाकर सोशल मीडिया पर लीक कर दिए जाते हैं। युमन  ट्रैफकिंग जैसे मामले इस वक्त बहुत ज्यादा होते हैं। ऐसे वक्त पर कई महिलाएं लापता होजाती है तो कइयों की मृत्यू।

3) घर और जमीनों पर कब्जा

Advertisment

कई महिलाओं का पेशा खेती करना होता हैं। ये ज्यदा तर अनडेवलप्ड एरिया में देखने को मिलता है। कई बार हमले के कारण कितने घर टूट जाते हैं, कितने जमीनों पर कब्जा हो जाता है। महिलाए अपने छोटे- छोटे बच्चों के साथ बिल्कुल बेघर हो जाती हैं। ऐसे वक्त पर अपने पेट और अपने परिवार का पेट भरने के लिए नया काम ढूंढ़ना भी पॉसिबल नहीं हो पाता जिससे कितनों की भूक से तपड़ कर मौत हो जाती हैं।

4) घर के काम काज में महिलाओं को जबरजस्ती ढकेलना

कई देश जैसे ईरान, इजरायिल में एक महिला को सिर्फ घर के काम काज में लगाया जाता हैं। ऐसे देशों के जेंडर असमानता का रेट तेजी से बढ़ता है। यहां औरतें पढ़ीं लिखी नहीं होती उनके हर छोटी चीजें और मूल अधिकारों पर भी रोक लगा दिया जाता हैं।

ऐसे वक्त पर महिलाओं के अधिकारों को बचाने के लिए क्या कर सकते हैं?

ऐसे देशों में जहां तनाव पूर्ण माहौल हैं और जंग के हालात हैं या किसी गिरोह का कब्जा है वहां की  महिलाओं के अधिकारों के लिए छोटे एजुकेशन ड्राइव चलाया जा सकता है। जिससे लोगों में जागरूकता बने रहें। उस देश के सरकार को महिलाओं की सुरक्षा व्यवस्था पर गौर करना चाहिए ताकी कोई भी महिला सेक्शुअल वॉयलेंस का शिकार ना हों साथ ही ऐसे संघटन जोकी ये लड़ाइयों में इस्तमाल होने वाले वेपंस को फंड कर रहें है उसे बंद करना चाहिए ताकी कोई भी जंग को टाला जा सके और मासूमों की जान बचाई जा सके।

जंग women's Rights
Advertisment