Advertisment

Mehndi In Sawan: जानिए सावन क्यों लगाई जाती है मेहंदी

सावन का महिना महिलाओ के लिए बहुत ही शानदार और यादगार होता है। इस महीने में उन्हें बहुत ही खूबसूरत दिखने और सजने संवरने का मौका मिलता है। फिर चाहे वो हरी-हरी चूड़ियों से सजना हो या फिर हरी साड़ी से या फिर मेहेंदी से। अधिक पढ़ें इस ब्लॉग में-

author-image
Priya Singh
Jul 14, 2023 16:20 IST
Mehndi In Sawan(Grihsobha)

Know Why Mehndi Is Applied In Sawan (Image Credit - Grihsobha)

Mehndi In Sawan: सावन का महिना महिलाओ के लिए बहुत ही शानदार और यादगार होता है। इस महीने में उन्हें बहुत ही खूबसूरत दिखने और सजने संवरने का मौका मिलता है। फिर चाहे वो हरी-हरी चूड़ियों से सजना हो या फिर हरी साड़ी से या फिर मेहेंदी से। सावन के दौरान मेहंदी लगाने का रिवाज शदियों से चला आ रहा है। महिलायें सावन के महीने में आने वाले त्योहारों पर मुख्य रूप से मेहंदी लगाती हैं और अपने हाथों पर बहुत ही खूबसूरत डिजाइन बनाती हैं यह डिजाइन उन्हें बहुत ही खूबसूरत दिखाती हैं उनके हाथों और पावों का रंग निखर कर आ जाता है। सावन में हर लड़की हर महिला मेहँदी जरुर लगाती है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि महिलाएं सावन में मेहँदी क्यों लगाती हैं इसके कारण क्या हैं। आइये जानते हैं।

Advertisment

जानिए सावन में मेहँदी लगाने के कुछ प्रमुख कारण 

1. शुभता

हिंदू कैलेंडर में सावन को बेहद शुभ महीना माना जाता है, खासकर भगवान शिव के भक्तों के लिए। ऐसा माना जाता है कि सावन के महीने में मेहंदी लगाने से सौभाग्य, समृद्धि और बुरी ताकतों से सुरक्षा मिलती है।

Advertisment

2. अनुष्ठान और व्रत

कई लोग भगवान शिव का आशीर्वाद पाने के लिए सावन में व्रत रखते हैं और अन्य कई विशेष अनुष्ठान करते हैं। मेहंदी लगाना अक्सर इन अनुष्ठानों के एक पार्ट के रूप में देखा जाता है, जो पवित्रता और भक्ति का प्रतीक है।

3. दुल्हन मेहंदी

Advertisment

कुछ क्षेत्रों में शादियों के लिए सावन का महीना एक पॉपुलर टाइम होता है। इसलिए उन क्षेत्रों में इस महीने के दौरान दुल्हन मेहंदी सेरेमनीज ऑर्गेनाइज की जाती हैं, जहां दुल्हन के हाथों और पैरों पर मेहंदी के सुंदर डिजाइन बनाए जाते हैं। ऐसा माना जाता है कि मेहंदी से दुल्हन की खूबसूरती और भी ज्यादा बढ़ती है और वैवाहिक जीवन और भी ज्यादा समृद्ध और खुशहाल रहता है।

4. सांस्कृतिक उत्सव

सावन का महीना दक्षिण एशिया के अलग -अलग हिस्सों में सांस्कृतिक उत्सव का टाइम होता है।इसमें लोग म्यूजिक, डांस और अन्य उत्सवों में पार्टिसिपेट करने के लिए एक साथ आते हैं। इन समारोहों के दौरान खुद को सजाने और खुशी के माहौल को अपनाने के तरीके के रूप में मेहंदी लगाई जाती है।

Advertisment

5. पारंपरिक मान्यताएं

धार्मिक और सांस्कृतिक महत्व के अलावा, सावन के दौरान मेहंदी से जुड़ी कुछ पारंपरिक मान्यताएं भी हैं। ऐसा माना जाता है कि मेहंदी का रंग जितना गहरा होगा, दुल्हन को अपने पति और ससुराल वालों से उतना ही अधिक प्यार और स्नेह मिलेगा।

6. हर्बल और मेडिसिनल बेनिफिट्स

मेहंदी में नेचुरल कूलिंग प्रॉपर्टीज होती हैं इसके अलावा मेहंदी अपने विभिन्न हेल्थ बेनिफिट्स के लिए जानी जाती है। ऐसा माना जाता है कि यह सावन के गर्म और ह्यूमिड मौसम में होने वाले सिरदर्द को कम करने, स्ट्रेस को कम करने और शरीर को शांत करने में हेल्प  करती है।

#सावन #mehndi #Mehndi In Sawan #मेहंदी
Advertisment