Normal Delivery Tips: नार्मल डिलीवरी के लिए इन चीज़ों पर ध्यान दे

‘नार्मल डिलीवरी’ में कोई सर्जरी शामिल नहीं होती है। यह एक नेचुरल प्रक्रिया है जिसमें जिसमें बच्चा योनि से बहार निकलता हैं। नार्मल डिलीवरी माँ और बच्चे दोनों के लिए बेहतर होती है लेकिन जो महिला युवा और स्वस्थ है वह ही आसानी से नॉर्मल डिलीवरी कर सकती है।

Rajveer Kaur
02 Dec 2022
Normal Delivery Tips: नार्मल डिलीवरी के लिए इन चीज़ों पर ध्यान दे

Normal Delivery Tips

आजकल सिजेरियन डिलीवरी का रुझान ज्यादा है लेकिन क्या आप जानते हैं माँ और बच्चों दोनों के लिए नार्मल डिलीवरी अच्छी हैं? सिजेरियन डिलीवरी के समय आप को लेबर पैन नहीं होता लेकिन इसके बाद शरीर में बहुत सी कठनाइयां का सामना पड़ता हैं इससे आपको रिकवर होने में  महीने लग जाते हैं। यह चीज़ बिलकुल भी जरूरी नहीं हैं कि आप नार्मल डिलीवरी को ही चुने यह बिलकुल आपके शरीर के ऊपर निर्भर हैं लेकिन जितना हो सकें नार्मल डिलीवरी को ही पहल दे। 

Normal Delivery Tips: नार्मल डिलीवरी के लिए इन चीज़ों पर ध्यान दे 

‘नार्मल डिलीवरी’ एक ऐसी प्रक्रिया हैं जिसमें कोई सर्जरी शामिल नहीं होती है। यह एक नेचुरल प्रक्रिया है जिसमें जिसमें बच्चा योनि से बहार निकलता हैं। नार्मल डिलीवरी माँ और बच्चे दोनों के लिए बेहतर होती है लेकिन जो महिला युवा और स्वस्थ है वह ही आसानी से नॉर्मल डिलीवरी कर सकती है।

-जितना हो सके अपने आप को स्ट्रेस को दूर रखें। इसके साथ ही अपने आस-पास सकारात्मक माहौल रखें। जिन चीजों से आपको स्ट्रेस या नेगटिव विचार आते हो उनसे दूरी बनाए। इससे आपकी डिलविरी में मुश्किलें आ सकती है।

-अपने आप शांत रखें इसके लिए आप योगा और मेडिटेशन करें। इसके साथ उन लोगों के साथ रहे जिनके साथ आप को अच्छा महसूस होता है।

-अपनी बॉडी में पानी की कमी ना होने दे। इसके लिए भरपूर पानी पिए। इससे बॉडी आपकी हाइड्रेट रहेगी। इससे आपके बच्चे के जन्म के समय एनर्जी और आंतरिक बल मिलेगा।

-अपना उठने बैठने का तरीक़ा ठीक रखें। जब आप गर्भवती हो तब आप  स्पाइन पर  ज़्यादा प्रेशर ना डाले। बैठते समय अपनी टांगों को हिलाते रहे एक ही स्थिति में मत रहें।

-एक ही स्थिति में लम्बे समय तक मत बैठे। अपने शरीर को हिलाते रहे।

-शरीर में वजन को ज़्यादा म बढ़ने दे। इस बात का ध्यान जितना ज़रूरी हो वजन उतना ही रहे इससे ज़्यादा ना बढ़े।

-इसके साथ ही नियमित रूप से कसरत करें। इससे आपका आंतरिक बल बढ़ेगा और आप लेबर पैन को ज़्यादा समय तक सहन भी कर सकेंगे। इसके साथ ही आपके मसल भी मजबूत होंगे।

-अपनी डायट में स्वस्थ खाना शामिल करें जैसे फल, सब्ज़ियाँ, दूध, अनाज इसके साथ ही एंटीऑक्सिडेंट और विटामिन को शामिल और शुगर को कम कर दे।

Read The Next Article