Pregnancy Myths: जाने कहीं आप तो नहीं इन मिथ्स को सच मानते

जब औरत प्रेग्नेंट होती है तब उसे यही सलाह दी जाती है कि अब तुम्हें दोनों के लिए खाना है लेकिन अगर औरत दोनों के लिए खाना खाएंगी इससे सिर्फ उसका वजन बढ़ेगा और सेहत पर बुरा असर पढ़ेगा। इसलिए ज्यादा खाने कि बजाय मां को पौष्टिक आहार दे।

Rajveer Kaur
12 Dec 2022
Pregnancy Myths: जाने कहीं आप तो नहीं इन मिथ्स को सच मानते

Pregnancy Myths

महिलाओं के लिए प्रेग्नेंसी बहुत महत्वपूर्ण समय होता हैं। इस समय में महिलाओं बहुत कुछ नया अनुभव करती हैं। इस समय का भी अपना ही एक अलग आनंद होता है। भारतीय समाज में औरतों के गर्भधारण के समय ऐसी बहुत सी धारणाएँ बनाई होती है जो आज भी लोग मानते हैं। इसके  पीछे का तथ्य किसी ने जानने की कोशिश ही नहीं की है। ऐसे ही यह धारणाएँ एक पीढ़ी से दूसरी पीढ़ी जा रही है। आज हम आपको बताएँगे कि प्रेगनेंसी में कही जाने वाली बातों में कौन सी धारणाएँ है?

Pregnancy Myths: जाने कहीं आप तो नहीं इन मिथ्स को सच मानते

  • दोनों के लिए खाना चाहिए 
    जब औरत प्रेग्नेंट होती है तब उसे यही सलाह दी जाती है कि अब तुम्हें दोनों के लिए खाना है। यह एक बड़ी मिथ है कि औरत को अपने लिए और बच्चे दोनों के लिए खाना चाहिए लेकिन अगर औरत दोनों के लिए खाना खाएंगी इससे सिर्फ उसका वजन बढ़ेगा और सेहत पर बुरा असर पढ़ेगा। इसलिए ज्यादा खाने कि बजाय मां को पौष्टिक आहार दे। 
  • प्रेगनेंसी में सेक्स नहीं करना चाहिए 
    हमारे समाज में सेक्स को लेकर हमेशा ही धारणाएं रहीं हैं। इसके बारे में कभी भी पूरी जानकारी नहीं दी जाती है।अब रही बात प्रेग्नेंसी में सेक्स करने की तो यह बिल्कुल एक मिथ हैं। इसके साथ ही गर्भावस्था के दौरान सेक्स करने से गर्भपात नहीं होता है इसका कारण कुछ और भी हो सकता है जैसे भ्रूण सामान्य रूप से विकसित न हो रहा हो। जब तक आपको किसी तरह कोई परेशानी नहीं है आप प्रेगनेंसी में सेक्स कर सकते हैं अगर आप को कोई समस्या है सबसे पहले डॉक्टर से परामर्श ले। 
  • पेट के आकार से बच्चे का सेक्स पता लग जाता है 
    प्रेग्नेंट औरत के पेट के आकार से लोग यह जानने की कोशिश करते हैं कि लड़का होगा या लड़की। महिला का वजन ज्यादा है तो   तो लड़की होने की आशंका है अगर वही कमती है तो लड़का ही होगा लेकिन इस बात में कोई तथ्य नहीं है आपके पेट का आकार यह बिल्कुल नहीं तय कर सकता कि लड़का होगा या लड़की इसका संबंध और बहुत सारे तथ्यों के साथ हो सकता है। 
  • भारी वजन उठाने से गर्भपात हो सकता है
    यह भी एक मिथ है कि भरी वजन उठाने से औरत का गर्भपात हो सकता है लेकिन  ऐसे नहीं होता है। रिसर्च के मुताबिक आप 10-11 किलो वजन उठा सकते हैं। 
  • गर्भवती महिला को बाहर नहीं जाना चाहिए 
    गर्भवती होना कोई बीमारी नहीं यह एक नार्मल प्रोसेस है इसलिए आप एक आम ज़िन्दगी ज़ी सकते हैं आप अपने काम पर जाएं। वैसे भी बाहर जा सकते इस समय पर एक्टिव रहना बिलकुल नार्मल हैं। 
  • महिला को बेड रेस्ट करना चाहिए 
    हमारे यहाँ औरतों को प्रेग्नन्सी में नार्मल नहीं फील कराया जाता हैं इसमें उन्हें ज्यादा काम नहीं करने दिया जाता हैं लेकिन प्रेगनेंसी में बेड रेस्ट तब करें जब डॉक्टर ने सलाह दी हो। अगर आप बिलकुल फिट है तो आप वैसे ही रहे जैसे आम दिनों में होते है। इसके साथ ही अगर आप बेडरेस्ट करते इससे आप को हेल्थ रिस्क हो सकते हैं। 

Read The Next Article