Say No To Plastic: खुद को प्लास्टिक के इस्तेमाल से रोके

Say No To Plastic: खुद को प्लास्टिक के इस्तेमाल से रोके Say No To Plastic: खुद को प्लास्टिक के इस्तेमाल से रोके

Apurva Dubey

23 Sep 2022

प्लास्टिक हम मनुष्यों और हमारे पर्यावरण के लिए बहुत हानिकारक है । आजकल प्रधानमंत्री मोदी ने भारत में प्लास्टिक की थैलियों पर रोक लगा दी है जिससे की पर्यावरण को नुक्सान ना पहुंचे और हमारा देश स्वच्छ और साफ़ रहे। 

Say No To Plastic: खुद को प्लास्टिक के इस्तेमाल से रोके  

आज के आधुनिक में हम सब प्लास्टिक के आदि बन चुके है। प्लास्टिक को पूरी तरह से खत्म होने में बहुत साल लग जाते है। इससे बैक्टीरिया भी खत्म नहीं कर पाते । आइये जानते है प्लास्टिक को अपने जीवन में कम करने के लिए हम क्या कर सकते है। 

1. अपना पीने के पानी की एक बोतल हमेशा अपने पास रखे

कुछ लोग अपनी कार की खिड़की से अपनी प्लास्टिक की बोतलें बाहर फेंक देते हैं। प्लास्टिक की बोतलों के बजाय, स्टेनलेस स्टील की पानी की बोतल का उपयोग करें। इन बोतलों को हम बार -बार इस्तेमाल कर सकते हैं ।

2. प्लास्टिक बैग्स का इस्तेमाल बिल्कुल बंद करें 

क्या आप कल्पना कर सकते हैं कि वास्तव में कितने और अधिक प्लास्टिक बैग समुद्र में मिल जाते हैं और लैंडफिल में खत्म हो जाते हैं? एक विकल्प के रूप में, खरीदारी के लिए कपड़े के थैले का उपयोग करें, चाहे किराने का सामान खरीदना हो या अन्य वस्तुओं के लिए। यह एक प्लास्टिक बैग का उपयोग करने से बेहतर होगा। यदि आप ऐसा नहीं करते हैं, तो अपने स्वयं के कपडे के बने बैग खरीदें और उन्हें अपने साथ लाएँ।

3. अधिक प्लास्टिक या फोम कप का उपयोग बंद करें

प्लास्टिक के कप शीर्ष 4 डिस्पोजेबल प्लास्टिक हैं जो हम उपयोग करते हैं।आधे ट्रिलियन डिस्पोजेबल कप दुनिया भर में सालाना बनते हैं; ग्रह पर प्रत्येक व्यक्ति के लिए 70 से अधिक डिस्पोजेबल कप और प्लास्टिक कप लिड्स उन शीर्ष दस वस्तुओं में से एक हैं जो हर साल हमारे शहरों से प्राप्त होती हैं। इसके बजाय, अपनी कार या बैग में एक स्टेनलेस स्टील का मग ले जाएं, जिसे आप गर्म या ठंडे चाय या कॉफ़ी के लिए उपयोग कर सकते हैं।

4. प्लास्टिक कटलरी का प्रयोग न करें 

प्लास्टिक कटलरी का भी प्लस्टिक के रूप में सबसे ज़्यादा इस्तेमाल किया जाता है। इसे समुद्र के जानवरों के लिए सबसे खतरनाक प्लास्टिक माना जाता है। एक रिसर्च के अनुसार पूरे साल में 50 बिलियन प्लास्टिक के बर्तनों का उपयोग किया जाता है। 

5. वेट वाइप्स का इस्तेमाल मत कीजिये

वेट वाइप्स में जहरीले केमिकल्स भी होते हैं, जिनमें से कुछ त्वचा की एलर्जी के लिए ज़िम्मेदार है, और इनमें से कोई भी पर्यावरण के लिए अच्छा नहीं है। अन्य प्लास्टिक की तरह, वे कभी भी पूरी तरह से ख़राब नहीं होते हैं, लेकिन बस छोटे और छोटे प्लास्टिक फाइबर में टूट जाते हैं जो पानी और हवा को नुक्सान पहुंचा सकते हैं।

अनुशंसित लेख