हेल्थी डाइट और रेगुलर रूटीन के साथ-साथ अपने वजाइनल हेल्थ (vaginal health in hindi) को भी ध्यान में रखना आवश्यक है। वजाइना आपके शरीर का एक सेंसेटिव हिस्सा है और इसे एक निश्चित मात्रा में देखभाल की आवश्यकता होती है।

वजाइनल हेल्थ के लिए 7 जरूरी गाइडलाइन्स (vaginal health in hindi) 

1. पानी और साबुन

वजाइना को साफ करने का सबसे अच्छा तरीका पानी और हल्के साबुन का इस्तेमाल करना है।

2. गंध (odour)

वजाइना में गंध होना नॉर्मल है। हालांकि, अगर आपको लगता है कि आपकी वजाइना की गंध एक चिंता है, तो mild vaginal wash का उपयोग करें। हालाँकि, परफ्यूमड साबुन, जैल और एंटीसेप्टिक्स से बचें क्योंकि यह वजाइना के हेल्थी बैलेंस को अफेक्ट कर सकता है।

3. Post peedom

पेशाब करने के बाद, इसे आगे से पीछे की ओर धीरे से धोएं और दबाएं, इसके विपरीत नहीं।

एक बैलेंसड, पौष्टिक डाइट और बहुत सारे तरल पदार्थ पीने से वजाइना और रीप्रोडक्टिव हेल्थ बनी रहती है। क्रैनबेरी जूस और दही यीस्ट इनफेक्शन के ट्रीटमेंट और प्रिवेंशन के लिए लाभदायक है।

4. In Pubic Interest

कई महिलाओं को लगता है कि वे गंदे और अनहाइजीनिक हैं, अगर उन्होंने अपने पयुबिक हेयर (pubic hair) नहीं निकाले हैं। हालाँकि, आपके पास अनचाहे बालों को हटाने के लिए बहुत ऑप्शनस हैं – जैसे बिकनी वैक्स, शेविंग, क्रीम हेयर रिमूवर, आदि।

5. पीरियड्स के लिए सॉफ्ट पैड

अपने पीरियड्स के दौरान कंफर्टेबल रहने के लिए, हर 3 घंटे में अपना टैम्पोन या सैनिटरी पैड बदलें। सॉफ्ट पैड का इस्तेमाल करें।

6. अच्छी तरह से खाएं

एक बैलेंसड, पौष्टिक डाइट और बहुत सारे तरल पदार्थ पीने से वजाइना और रीप्रोडक्टिव हेल्थ बनी रहती है। क्रैनबेरी जूस और दही यीस्ट इनफेक्शन के ट्रीटमेंट और प्रिवेंशन के लिए लाभदायक है।

अच्छी हाइजीन सुनिश्चित करने के लिए हर 2-3 महीने में अपने genitals पर एक नज़र डालें। किसी भी इंफेक्शन के मामले में, गायनोकोलॉजिस्ट से कांटेक्ट करने में झिझके ना।

पढ़िए : एक क्या आप अपने Vaginal Odour से छुटकारा पाना चाहते हैं ?

Email us at connect@shethepeople.tv