Sound Sleep: गुड क्वालिटी स्लीप पाने के 5 लक्षण

अगर आप बेहतर नींद नहीं लेते हैं तो इसका असर आपके शारीरिक, मानसिक और भावनात्मक स्वास्थ्य पर देखने को मिलता है। आपको दिन भर में 7 से 8 घंटे की गुड क्वालिटी स्लीप चाहिए होती है|

Monika Pundir
03 Dec 2022
Sound Sleep: गुड क्वालिटी स्लीप पाने के 5 लक्षण

Sound Sleep

Sound Sleep: गुड क्वालिटी स्लीप पाने के 5 लक्षण 

जिस प्रकार हमारे शारीरिक स्वास्थ्य को अच्छा बनाए रखने के लिए योग और एक्सरसाइज रोजाना करना जरूरी है उसी लिए हमारे शारीरिक, मानसिक और भावनात्मक स्वास्थ्य को बेहतर बनाए रखने के लिए रोजाना पर्याप्त और अच्छी नींद लेना भी उतना ही आवश्यक है।

Good Quality Sleep: अगर आप बेहतर नींद नहीं लेते हैं तो इसका असर आपके शारीरिक, मानसिक और भावनात्मक स्वास्थ्य पर देखने को मिलता है। आपको दिन भर में 7 से 8 घंटे की गुड क्वालिटी स्लीप चाहिए होती है जिससे आपका स्वास्थ्य अच्छा बना रहता है। आइए जानते हैं उन लक्षणों के बारे में जो दर्शाते हैं कि आप गुड क्वालिटी स्लीप ले रहे हैं।

1. बिस्तर पर जाते ही नींद आ जाना

गुड क्वालिटी स्लीप का पहला लक्षण यह है कि जब आप सोने जाते हैं तो उसके 10 से 15 मिनट के अंदर ही आपको नींद आ जानी चाहिए। लेकिन अगर आप बिस्तर पर जाने के आधे या एक घंटे बाद तक भी करवटें बदलती रहती है और आपको नींद नहीं आती है तो यह एक संकेत है कि आपको अपनी नींद को बेहतर बनाने के लिए कुछ उपाय करने चाहिए।

2. बार-बार नींद टूटती है

अगर एक बार सोने के बाद आपकी नींद रात में नहीं टूटती है तो यह एक गुड क्वालिटी स्लीप का लक्षण है। रात में बार-बार नींद का टूटना आपके मानसिक स्वास्थ्य को प्रभावित करता है साथ ही जब सुबह होती है तो आप एनर्जेटिक और रिफ्रेशिंग महसूस नहीं करती हैं।

3. रात में देखे सपने याद नहीं रहते

यह गुड क्वालिटी स्लीप का एक बहुत प्रभावी लक्षण है। अगर आप बेहतर नींद लेते हैं तो उठने के बाद आपको रात में देखे सपने याद नहीं रहते हैं। लेकिन अगर आप तनाव या फिर रात में बार-बार टूटने वाली नींद लेते हैं तो बहुत चांसेस है कि आपको अपने सपने याद रह जाए।

4. सुबह उठकर एनर्जेटिक महसूस करना

अगर आप रात भर गुड क्वालिटी स्लीप लेती है तो सुबह उठने पर आपको एनर्जेटिक महसूस होता है और उसका प्रभाव आपके दिन पर भी पड़ता है। अगर आपको सुबह उठने पर आलस आता है, उठने का मन नहीं करता है साथ ही थकान भी महसूस होती है तो आप अच्छी नींद नहीं ले रही हैं।

5. उठने के लिए अलार्म की जरूरत नहीं होती

जो लोग गुड क्वालिटी साउंड स्लीप लेते हैं उनके लिए उनका शरीर ही बायोलॉजिकल क्लॉक की तरह काम करता है। नींद पूरी हो जाने पर वह खुद उठ जाते हैं और उठने के बाद एनर्जेटिक महसूस करते हैं। लेकिन अगर आपको उठने के लिए अलार्म की जरूरत पड़ रही है या फिर बार-बार उठ कर भी आप अलार्म बदल देते हैं तो यह आपकी गुड क्वालिटी स्लीप का लक्षण नहीं है।

Read The Next Article