Cervical Cancer Symptoms: सर्वाइकल कैंसर के संकेत जानिए

Cervical Cancer Symptoms: सर्वाइकल कैंसर के संकेत जानिए Cervical Cancer Symptoms: सर्वाइकल कैंसर के संकेत जानिए

Monika Pundir

07 Jul 2022

सर्विक्स वेजाइना और यूट्रस की बीच की जगह है। प्रेगनेंसी में यह पार्ट एक बच्चे को यूट्रस से निकलने से रोकता है, और डिलीवरी के समय, यही पार्ट एक्सपैंड करता है ताकि बच्चा आराम से निकल सके। 

भारत में 7 में 1 महिला की मृत्यु का कारण बनता है सर्वाइकल कैंसर। यह भारत में सबसे आम कैंसर में द्वितीय स्थान पर आता है। डॉक्टरों के अनुसार सर्वाइकल कैंसर की वजह है एक वायरस, जिसे ह्यूमन पेपिलोमावायरस या HPV कहा जाता है। 

 हर कैंसर के तरह इसके भी 4 स्टेज होते हैं। पहले स्टेज में कैंसर केवल सेरविक्स में रहता है, और डॉक्टर के जांच के बिना इसे पहचानना बहुत ही मुश्किल है। दूसरे स्टेज में कैंसर उतेरुस तक फ़ैल जाता है और संकेत देना सुरु कर देता है। इस स्टेज में इलाज हो सकता है। बस इस समय में कैंसर को पहचान लेना ज़रूरी है। तीसरे स्टेज में कैंसर पेल्विक वाल तक फ़ैल जाता है और चौथे में वह लंग्स और खून में भी हो सकता है।

सर्वाइकल कैंसर उन कैंसर में से हैं जिन्हें पहचानने में देरी होने से मृत्यु का खतरा बढ़ जाता है।इसलिए हर महिला को इसके संकेत और बचाव के तरीकों के बारे में जानना चाहिए।

सर्वाइकल कैंसर के संकेत:

1. सेक्स के बाद ब्लीडिंग 

अगर आपकी पहली बार, या प्रेग्नेंसी के बाद पहली बार सेक्स नहीं है तो आपको सेक्स के समय ब्लीडिंग नहीं होनी चाहिए। सेक्स के बाद वेजाइनल ब्लीडिंग(जो पीरियड नहीं है) खतरनाक है और तुरंत डॉक्टर की सलाह लेने की आवश्यकता है।

2. पीरियड के बीच ब्लीडिंग 

2 पीरियड के बीच ब्लीडिंग होना या मेनोपॉज़ के बाद पीरियड जैसा ब्लीडिंग होना सर्वाइकल कैंसर का बहुत ज़रूरी संकेत हैं। इसे इग्नोर न करें और पाप स्मीयर टेस्ट करवाए।

3. वेट लॉस 

बहुत लोगों के लिए वेट लॉस ख़ुशी की बात होती है, मगर अगर आप किसी प्रकार का नया एक्सेर्साइज़ या डाइट नहीं कर रहे, और आपका सप्ताह में एक किलो से ज़्यादा वज़न कम रहा है, यह चिंता की बात हो सकती है। आपको एक फुल बॉडी चेक-अप करवा लेना चाहिए, ताकि आप कोई भी बीमारी को शुरुआत में ही समाप्त कर सकते हैं।

4. रेक्टल ब्लीडिंग 

आपके स्टूल के साथ खून दिखना नॉर्मल नहीं है। यह चिंता का विषय है, और उसका अपने आप इलाज करने का प्रयास न करें।

5. एब्डोमिनल पेन 

अगर आपको लगातार पेट या एब्डॉमिन में दर्द हो रहा है, पेशाब के समय दर्द या जलन महसूस हो रही है, वेजाइनल डिस्चार्ज में बदलाव, और स्मेल दिख रही है तो यह कैंसर का संकेत हो सकता है। इन सारे संकेत के साथ में आने पर, डॉक्टर की सलाह लेने में देर न करें।

सर्वाइकल कैंसर से बचाव किया जा सकता है, और प्री कैंसर और ट्यूमर का भी इलाज किया जा सकता है, कुल अगर उसे सही समय पर पकड़ा जाए।

अनुशंसित लेख