बच्चे बहुत चंचल होते हैं | हमेशा यहां और वहां घूमते रहते हैं | इसलिए उन्हें खाद्य पदार्थों की अधिक आवश्यकता होती है | जिन बच्चों में एनर्जी की मात्रा कम होती है वे बच्चे कमज़ोर और सुस्त हो जाते हैं | यह अत्यंत महत्वपूर्ण है कि बच्चों को पर्याप्त पोषक तत्वों से अधिक ऊर्जा मिलती रहे। बच्चे बहुत कम खाते हैं जिससे उन्हें कम शक्ति प्राप्त होते हैं| उनके भोजन के साथ  एनर्जी की मात्रा बढ़ाने के लिए और उनकी भूख को तृप्त करने के लिए अधिक एनर्जी और समृद्ध खाद्य पदार्थों का प्रयोजन कीजिए जिनमें काफी कैलोरी हो।

बच्चों का एनर्जी लेवल बढ़ाने के लिए घरेलू उपाय..

  • रोजाना बच्चों  को हल्दी का दूध पिलाएं
  • तुलसी के पत्ते रोज़ाना बच्चों को चबाने दे ।
  •  बच्चों को आयुर्वेदिक च्यवनप्राश खिलाये।
  • पर्याप्त नींद बच्चों को लेने दे।
  • बच्चों के साथ रोजाना 3० मिनट्स व्यायाम करे।

बच्चों का एनर्जी लेवल बढ़ाने के लिए खाद्य पदार्थ

बादाम

बादाम बच्‍चों की इम्‍यूनिटी को बढ़ाते हैं और हड्डियों को मजबूत करते हैं। यह मस्तिष्‍क ( mind) के विकास में मदद करता है और एनर्जी देता है। बच्‍चों में कब्‍ज की परेशानी को भी बादाम से दूर किया जा सकता है।

पनीर

पनीर में उच्‍च मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है और ये कैल्शियम से भी युक्‍त होता है। बच्‍चे को पनीर खिलाने से उसकी हड्डियां और दांत मजबूत होते हैं। इसमें मौजूद विटामिन-बी की उच्‍च मात्रा बोन कार्टिलेज को बनाने में सुधार करती है। इसमें डायट्री फाइबर और प्रोटीन होते हैं जो इम्‍यूनिटी को मजबूत करते हैं। बच्‍चे के विकास के लिए जरूरी पोषण भी पनीर से लिया जा सकता है।

घी

खाने को पचाने में घी मदद करता है और इससे पेट से संबंधी परेशानियां भी दूर रहती हैं। बच्‍चों के लिए घी एनर्जी का भी प्रमुख स्रोत है। इसमें सैचुरेटिड फैटी एसिड होते हैं जो बच्‍चे को एनर्जी और ताकत देते हैं। पांच साल की उम्र तक बच्‍चे के मस्तिष्‍क का अधिकतर विकास हो जाता है इसलिए इस समय बच्‍चे को घी जरूर खिलाएं, क्‍योंकि घी में ओमेगा 3 फैटी एसिड  होते हैं।

केला 

केला शेक एनर्जी का भरपूर सोर्स है। केले को दूध के साथ मिलकर रोजाना बच्चों को पीने को दे सकते हैं

दाल

दालें सभी डेली प्रोटीन की भरपूर मात्रा में सोर्स होती है। दाल का पानी बच्चों को रोजाना पीने दे सकते हैं

हरी सब्ज़ियाँ

हरी सब्ज़ियाँ भी प्रोटीन युक्त होती है। हरी सब्ज़ियों का सेवन रोजाना बच्चों के आहार मे अवश्य शामिल कर करे

पढ़िए -कैसे एक फेमिनिस्ट बेटे की परवरिश करे?

Email us at connect@shethepeople.tv