Advantages And Disadvantages Of Aspirin: जानिए क्या हैं एस्पिरिन के फ़ायदे और नुकसान

Advantages And Disadvantages Of Aspirin: जानिए क्या हैं एस्पिरिन के फ़ायदे और नुकसान Advantages And Disadvantages Of Aspirin: जानिए क्या हैं एस्पिरिन के फ़ायदे और नुकसान

SheThePeople Team

30 Nov 2021


एस्पिरिन के फ़ायदे और नुकसान: एस्पिरिन मामूली दर्द और बुखार से राहत के लिए एक कॉमन दवा है। लोग इसका इस्तेमाल एंटी-इंफ्लेमेटरी या ब्लड थिनर के रूप में भी करते हैं। लोग बिना प्रिस्क्रिप्शन के भी काउंटर पर एस्पिरिन खरीद सकते हैं। डेली यूज़ में सिरदर्द से राहत, सूजन को कम करना और बुखार को कम करना शामिल है।


एस्पिरिन हाई रिस्क वाले लोगों में हृदय संबंधी घटनाओं, जैसे दिल का दौरा या स्ट्रोक के जोखिम को कम कर सकता है। दिल के दौरे के तुरंत बाद डॉक्टर एस्पिरिन का प्रबंध कर सकते हैं ताकि आगे के क्लॉट्स और हार्ट टिशूज़ को मरने से रोका जा सके। एस्पिरिन बहुत फ़ायदेमंद होने के साथ साथ बहुत नुकसानदायक भी है। क्या आप उन सब के बारे में जानते हैं ?


Advantages And Disadvantages Of Aspirin: जानिए क्या हैं एस्पिरिन के फ़ायदे और नुकसान-


Advantages Of Aspirin:


1. दर्द और सूजन से रहत 


एस्पिरिन हल्के से मध्यम दर्द, सूजन और कई हेल्थ प्रॉब्लम्स को दूर कर सकता है, जैसे:



बहुत सीरियस पेन के लिए, डॉक्टर किसी अन्य दवा के साथ एस्पिरिन का इस्तेमाल करने की सलाह दे सकता है।


2. हृदय संबंधी घटनाओं को रोकना


कम खुराक वाली एस्पिरिन का रोज़ाना इस्तेमाल कुछ लोगों में हृदय संबंधी घटनाओं के जोखिम को कम कर सकता है - यह सभी के लिए सेफ नहीं है। हृदय संबंधी घटनाओं के हाई रिस्क वाले लोगों में, कम खुराक वाली एस्पिरिन ब्लड क्लॉट्स को बनने से रोककर जोखिम को कम कर सकती है।


3. अन्य उपयोग


एस्पिरिन कई पुरानी हेल्थ कंडीशन्स से जुड़े दर्द और सूजन के इलाज में भी मदद कर सकता है। जैसे: रियूमेटॉइड आर्थराइटिस, पुराने ऑस्टियोआर्थराइटिस, और कई इंफ्लेमेटरी जॉइंट कंडीशन्स


डॉक्टर लोगों को कम खुराक वाली एस्पिरिन की सलाह दे सकते हैं:



Disadvantages Of Aspirin:


कुछ लोगों को एस्पिरिन लेने के बारे में सतर्क रहना चाहिए। उन्हें एस्पिरिन तभी लेनी चाहिए जब डॉक्टर इसकी सलाह दें। जैसे:



  • ब्लीडिंग डिसऑर्डर, जैसे हीमोफिलिया वाले लोग

  • अनकंट्रोल्ड हाई ब्लड प्रेशर वाले पेशेंट्स

  • दमा के पेशेंट्स

  • पेट के अल्सर वाले लोग

  • दिल या गुर्दे की बीमारी वाले लोग


इसके अलावा प्रेग्नेंट लेडीज़ या फीडिंग मदर्स को भी एस्पिरिन नहीं लेना चाहिए।


डॉक्टर स्ट्रोक के दौरान एस्पिरिन नहीं देते हैं क्योंकि सभी स्ट्रोक ब्लड क्लॉट्स के कारण नहीं होते हैं। कुछ मामलों में, एस्पिरिन स्ट्रोक को और भी खराब कर सकता है।
साथ ही, जो कोई भी रेगुलरली शराब पीता है या दंत या डेंटल ट्रीटमेंट ले रहा है, चाहे वह कितना ही छोटा क्यों न हो, एस्पिरिन लेने से पहले डॉक्टर से पूछना चाहिए।


Disclaimer: यह सार्वजनिक रूप से एकत्रित जानकारी है। यदि आपको किसी विशिष्ट सलाह की आवश्यकता है तो कृपया डॉक्टर से परामर्श करें।


 


 


अनुशंसित लेख