हो सकता हैं एक वर्किंग मदर होने की वजह से आप अपने बच्चों के साथ ज्यादा समय नहीं बिता पाती हों ,लेकिन इसका मतलबः ये नहीं कि आप उन्हें प्यार नहीं करती या आपको उनकी चिंता नहीं है। क्या आप भी ये सोचते हैं कि आप कैसे बिताये बच्चों के साथ क्वालिटी टाइम ?अपने अक्सर लोग वर्किंग मदर्स पर एक अच्छी माँ न होने का आरोप लगा देते हैं लेकिन याद रखें बच्चो के साथ अधिक समय बिताने से ज्यादा महत्वपूर्ण हैं उनके साथ क्वालिटी टाइम बिताना। तो आइये जानते हैं कैसे बिताये बच्चों के साथ क्वालिटी टाइम :

1.सोशल साइट्स को विराम दें:

आजकल हर किसी का सोशल साइट्स, जैसे- फेसबुक, इंस्टाग्राम, ट्विटर, व्हाट्सऐप आदि पर अधिक समय बिताना  हॉबी सी बन गया है। यदि आपको भी यह बीमारी है, तो इसका तुरंत इलाज कराएं। इन सबका कम इस्तेमाल करें, उस समय को बच्चे के साथ खेलने, घूमने-फिरने, मौज-मस्ती करने में बिताएं। इन सबसे बच्चे पैरेंट्स से अधिक जुड़ते हैं और पैरेंट्स को भी संतुष्टि रहती है कि वे बच्चों को पर्याप्त समय दे रहे हैं।

2.कभी बच्चों के साथ बच्चे बन जाएं:

यह ज़रूरी नहीं कि आप हमेशा अपने बड़े होने का मुखौटा ओढ़े रहें। कभी-कभी अपने मैच्योरिटी के आवरण को हटाकर बच्चों की तरह हो जाएं। उनके साथ हर वो काम करें, जो उन्हें पसंद हैं, फिर चाहे वो खिलौनों से खेलना हो, ड्रॉइंग करना, क्राफ्ट, मिट्टी से घर बनाना हो, साइकिलिंग करना या वीडियो गेम खेलना। इससे बच्चे को बेइंतहा ख़ुशी मिलेगी और वे आपको अपना प्यारा दोस्त भी समझने लगेंगे।

3.गार्डनिंग मिलकर करें:

बच्चों को गार्डनिंग का भी ख़ूब शौक़ होता है। आप उनके साथ मिलकर बागवानी कर सकते हैं। इससे जहां उन्हें फूल-पौधों की जानकारी मिलेगी, वहीं उनका बौद्धिक विकास (intellectual development) भी होगा।

4.बच्चों के साथ करें एक्सरसाइज़:

यदि आप मॉर्निंग वॉक, जिम, योग आदि करते हैं, तो बच्चों को भी इसमें इन्वॉल्व करें। इससे फैमिली की फिटनेस और क्रिएटिविटी बढ़ेगी और पैरेंट्स-बच्चों का रिश्ता भी बेहतर होगा।

और पढ़िए :बच्चों को मोबाइल से कैसे दूर रखें

5.वीकेंड बच्चों की चॉइस :

हर हफ़्ते शनिवार की शाम या रात बच्चों की इच्छानुसार बिताएं। फिर चाहे वो कोई मूवी देखना हो या बाहर डिनर करना या फिर रविवार को पिकनिक ही मनाना क्यों न हो। इससे बच्चों के साथ आपकी बॉन्डिंग भी मज़बूत होगी और सभी एनर्जेटिक भी महसूस करेंगे।

6.ऑफिस के बाद बच्चों का साथ :

पैरेंट्स ऑफिस से आने के बाद तुरंत टीवी पर सीरियल, न्यूज़, मनोरंजन आदि में बिज़ी न हो जाएं, बल्कि सबसे पहले थोड़ा-सा समय बच्चों को ज़रूर दें। इसके लिए चाहे आपको अपने पसंदीदा टीवी सीरियल का भी त्याग क्यों न करना पड़े या फिर ज़रूरी न्यूज़ ही क्यों न छूट जाए। पर ऐसा करके आप अपने बच्चे के क़ीमती बचपन को और भी निखार-संवार सकते हैं।

7.बच्चों के साथ मिलकर काम करें:

अधिकतर माता-पिता अपने बच्चों से काम लेना पसंद नहीं करते, जो ठीक नहीं है। वे खाना बनाने से लेकर साफ़-सफ़ाई करने, पौधों को पानी देने आदि छोटे-मोटे काम करते समय बच्चों की मदद ले सकते हैं। उनके साथ मिलकर काम करने से दो फ़ायदे होंगे, एक तो काम जल्दी हो जाएगा और दूसरा आप बच्चों के साथ अधिक से अधिक समय बिता सकेंगे।

8.मोबाइल फोन का इस्तेमाल न करें:

जब भी आप बच्चों के साथ रहें, मोबाइल फोन का इस्तेमाल न करें या फिर बहुत ज़रूरी हो, तभी करें। इस तरह आप बच्चों के साथ अधिक क्वालिटी टाइम बिता सकेंगे। बच्चे भी ख़ुशी-ख़ुशी अपने दिनभर की एक्टिविटीज़ के बारे में आपको बताएंगे, जैसे- उन्होंने दिनभर क्या किया, स्कूल में कैसा समय बीता, कोई परेशानी हुई हो, तो उसे भी ज़रूर बताएंगे। ध्यान रहे, जब वे ऐसा कर रहे हों, तो उस समय भूल से भी अपने मोबाइल फोन पर कोई ज़रूरी काम न करते रहें, बल्कि कुछ समय के लिए ख़ुद को फोन से डिसकनेक्ट कर लें। बच्चों को यह बिल्कुल पसंद नहीं होता कि पैरेंट्स उनसे बातचीत करते समय फोन पर बिज़ी रहें. अतः इस बात का ख़्याल रखें।

इस आर्टिकल में हमने जाना कि कैसे बिताये बच्चों के साथ क्वालिटी टाइम।

और पढ़िए :बच्चों की Energy Level को कैसे बढ़ाया जाए

Email us at connect@shethepeople.tv