Benefits Of Fitkari(Alum): फिटकरी के कुछ अनसुने फायदे 

Benefits Of Fitkari(Alum): फिटकरी के कुछ अनसुने फायदे  Benefits Of Fitkari(Alum): फिटकरी के कुछ अनसुने फायदे 

SheThePeople Team

18 Oct 2021


Benefits Of Fitkari(Alum):  फिटकरी एक प्राकृतिक रूप से पाया जाने वाला नमक है जो कई लाभ देता है। यह एल्यूमीनियम सल्फेट और पोटेशियम सल्फेट का एक कॉम्बिनेशन है। फिटकरी हम सब के घर में पाई जाती है और इसका कई प्रकार से इस्तमाल किया जाता है। फिटकरी शेविंग के बाद और रसोई की साफ सफाई में इस्तमाल की जाती है इसके बारे में हम सब को पता है लेकिन फिटकरी का उपयोग वर्षों से कई स्वास्थ्य लाभों के लिए किया जाता है। आज यहां बताए जा रहे हैं फिटकरी के कुछ लाभ हमारे स्वास्थ्य के लिए। 

फिटकरी के 5 बड़े फायदे


1. खांसी, बलगम और बुखार 

खांसी एक ऐसी समस्या है जो किसी को भी हो सक्ति है, लेकिन इसका हद ज्यादा बढ़ जाना काफी खतरनाक साबित हो सकता है। खांसी दो तरह की होती है - सूखी और बलगम वाली। खांसी होने के कई कारण होते हैं जैसे मौसम में बदलाव, ठंडी चीजों का सेवन, बुखार, आदि। खांसी के लिए लोग अक्सर घरेलू नुस्खे अपनाते हैं जिनसे काफी फायदा मिलता है और कोई साइड इफेक्ट भी नहीं होता। खांसी के लिए आप फिटकरी का इस्तमाल कर सकते हैं। फिटकरी के गरारे कर सकते हैं यां फिर शहद के साथ फिटकरी को चाट सकते हैं। इसके साथ साथ फिटकरी बुखार को ठीक करने के लिए भी फायदेमंद साबित होती है। 

2. चोट के लिए 

छोटी छोटी चोट लगना आम जिंदगी में स्वाभाविक है। कई बार घर पर चोट पर लगाने के लिए मलहम मौजूद नहीं होता तो लोग अक्सर घाव को पानी से धोते हैं जो कि एक अच्छी बात है। फिटकरी में एंटीबैक्टीरियल और एंटीसेप्टिक गुण होते हैं जो घाव को भरने में मदद करते हैं। इसलिए साधारण पानी के बदले आप फिटकरी वाले पानी के साथ घाव को धोएं इसे घाव से निकलता खून रुक जाता है, घाव को जल्दी भरने में मदद करती है और सूजन को कम करती है करने में मदद करता है।

3. ओरल हैल्थ

फिटकरी में एंटीसेप्टिक गुण होते हैं जो डेंटल बैक्टीरिया को मारने में मदद करता है और दांतों और मसूड़ों को मजबूत करता है। फिटकरी दांतों की समस्याओं जैसे कैविटी, दांत दर्द, मसूढ़ों में दर्द का इलाज करने में मदद करती है। फिटकरी मुंह कि बदबू को दूर करने के लिए भी काफी फायदेमंद है। रोज फिटकरी से कुल्ला करें, गरारे करें, यां फिर एक चुटकी फिटकरी के पाउडर को एक चम्मच शहद में मिलाकर सेवन करें। 

4. नाक से खून बहना

एपिस्टेक्सिस (नाक से खून बहना) के नियंत्रण में फिटकरी सिल्वर नाइट्रेट का एक बेहतर विकल्प है। सिल्वर नाइट्रेट एक अंतीनफेक्टिव एजेंट है जिसका उपयोग त्वचा के इंफेक्टेड टिश्यूज़ को ठीक करता है। घर में सिल्वर नाइट्रेट नहीं होता इसलिए आप फिटकरी का इस्तमाल कर सकते हैं। फिटकरी कम समय में ब्लीडिंग को रोकने में काफी मदद करता है। फिटकरी के पानी में रुई को डूबकर नाक पर लगाने से नाक से खून बहना रुक जाता है। 

5. त्वचा के लिए

फिटकरी में एंटी-रिंकल और एंटी-एजिंग गुण होते हैं और साथ में एंटीबैक्टीरियल और एंटीसेप्टिक गुण भी होते हैं। फिटकरी में त्वचा को टाइट बनाने और झुर्रियों को अपने आप दूर करने की क्षमता होती है और फिटकरी सनबर्न को ठीक करने के लिए भी इस्तमाल की जाती है। फिटकरी को पानी में घोलकर, उस पानी से अपने चेहरे को धोएं। 





अनुशंसित लेख