Women On Her Periods: बातें जो महिलाओं को एक दूसरे से पीरियड्स के समय नहीं कहनी चाहिए

Published by
Muskan Mahajan

Women On Her Periods: पीरियड्स सामान्य होते हैं और ये हर लड़की को होते हैं। पीरियड्स हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही जरूरी होते हैं लेकिन पीरियड्स के साथ अनेक परेशानियां आती हैं जैसे क्रैंप्स, सूजन, मूड स्विंग। अलग-अलग महिलाओं के लिए पीरियड्स का अनुभव अलग होता है। एक महिला का पीरियड्स में अनुभव, मूड, पैन दूसरी महिला से काफी अलग होता है जैसे कुछ को पीठ और पेट के निचले हिस्से में दर्द होता है और कुछ को नहीं होना और ये बिल्कुल सामान्य है। 

जब हम बात करते हैं कि हर लड़की और महिला के लिए पीरियड्स का अनुभव कितना अलग हो सकता है, तो हमे पता चलता हैं कि यह शरीर का कार्य कितना अलग और डाइवर्स है। लेकिन फिर भी हम अक्सर एक लड़की की स्तिथि की तुलना दूसरो के साथ करते हैं जो बिल्कुल ग़लत है। इसलिए आज यहां बताई जा रही है चीजें जो महिलाओं के एक दूसरे से नहीं कहनी चाहिए। 

Women On Her Periods: 4 बातें जो महिलाओं को एक दूसरे से पीरियड्स में नहीं कहनी चाहिए –

1. पीरियड्स ही तो है, इतनी चिड़चिड़ी क्यों है

पीरियड्स में अक्सर हार्मोन बदलते रहते हैं जिसकी वजह से आपका चिडचिड़ा मेहसूस करना, गुस्से में रहना, एक दम से खुश होना। पीरियड्स के दौरान लड़कियां को मूड स्विंग होना सामान्य है। मूड खराब होने की समस्या एक लड़की को काफी परेशान कर सकती है इसलिए आपको किसी भी लड़की को यह नहीं कहना चाहिए कि ओवर रिएक्ट कर रही हो क्योंंकि मूड स्विंग आपके दिमाग को काफी प्रभावित करते हैं। 

2. मुझे तो पीरियड्स में दर्द नहीं होता

जरूरी नहीं होता की हर लड़की को पीरियड्स में दर्द हो। कुछ को ज्यादा होता है और कुछ को कम। जिन लड़कियों को पीरियड्स पेन नहीं होती उनके लिए यह कहना बहुत आसान होता है कि पीरियड्स ही तो हैं, इतना दर्द तो नहीं होता लेकिन पीरियड सच में बेहद दर्दनाक हो सकते हैं। कुछ लड़कियों को सिर्फ कुछ घंटों के लिए दर्द हो सकता है और कुछ को 1-2 दिन के लिए को बिल्कुल सामान्य है। हर शरीर अलग तरह से काम करता है इसलिए कभी भी एक दूसरे के साथ तुलना न करें। 

3. कम से कम तुम प्रेग्नेंट नहीं हो

कई बार पीरियड्स लड़कियों को लेट आते हैं जिसकी वजह से लड़कियां काफी परेशान होने लगती हैं। पीरियड्स हमेशा पिछ्ले महीने वाली तारीक पर नहीं आते, कभी के बार कुछ दिन पहले तो कुछ दिन बाद में आना सामान्य होता है। ऐसे में जब एक लड़की आपसे इस बात को शेयर करती है कि इस महीने उसके पीरियड्स लेट आए हैं तो यह बिल्कुल नहीं कहना चाहिए कि कम से कम तुम प्रेग्नेंट नहीं हो। क्योंंकि यह कहना बहुत ही फालतू है क्योंंकि पीरियड्स लेट आने की वजह से हैवी ब्लीडिंग, क्रैंप्स और काफी परेशानियां हो सकती हैं। इसलिए इन फालतू कॉमेंट्स को नहीं कहना चाहिए। 

4. मंदिर और रसोई में मत जाना 4 दिन तक

हमरे घरों में आज भी पीरियड्स को लेकर बहुत सारे अंधविश्वास और धारणाओं को माना जाता है। जिनमें से एक है मंदिर और रसोई में मत जाना। जब एक लड़की को सिर्फ पीरियड्स की वजह से इन चीजों के लिए रोका जाता है तो इससे उसकी भावनाओं और मानसिकता पर असर पड़ता है। पहले के समय में जिन चीजों को महिलाओं को आराम करने के लिए कही जाती थी उन्हें आज हम मिथक मानकर लड़कियों पर मानसिक टॉर्चर करते हैं।

 

Recent Posts

Vitamins & Minerals For Flu: फ्लू से लड़ने के लिए यह विटामिन व मिनरल्स है जरूरी

विटामिन ए को एंटी- इन्फेक्टिव विटामिन कहा जाता है क्योंकि यह बॉडी में बैक्टीरियल, पैरासिटिक,…

1 day ago

क्या आप गहराइयाँ फिल्म देखने का सोच रहे हैं? जरुरी बातें जो आपको पता होना चाहिए

यह फिल्म अगले महीने 11 फरवरी को रिलीज़ हो जाएगी। इस फिल्म में दीपिका अलीशा…

1 day ago

Disadvantages Of Caffiene: क्यों है कैफीन युक्त प्रोडक्ट्स का सेवन नुकसानदायक?

दिन में 3 से 4 कप चाय या कॉफ़ी या उससे अधिक सेवन करने से…

1 day ago

Bulli Bai Case Update: दिल्ली पुलिस ने बुल्ली बाई एप के क्रिएटर की बेल का विरोध किया

एडवोकेट इरफ़ान अहमद जो कि दिल्ली पुलिस की तरफ से है का कहना है कि…

1 day ago

फाल्गुनी शाह कौन हैं? महिलाओं के लिए बनी प्रेरणा स्त्रोत्र क्यों बन गई हैं?

फाल्गुनी शाह के नाम ऐसे कई उपलब्धियाँ है कि सभी को एक साथ लिख पाना…

1 day ago

This website uses cookies.