Advertisment

Neck Hump: जानिए अपने गर्दन के कूबड़ को कैसे ठीक करें?

गर्दन के कूबड़ का मतलब है गर्दन के पीछे का भाग जो फैट के कारण उभरा हुआ लगता है। यह एक आम समस्या है जो अधिकांश लोगों को होती है। इसके कारण हैं गलत बैठने का तरीका, ज्यादा समय तक फोन या कंप्यूटर का उपयोग, मोटापा, आदि।

author-image
Kumkum
New Update
Neck Hump (Image Credit Freepik)

(Image Credit - Freepik)

Fix Your Neck Hump Now: गर्दन के कूबड़ का मतलब है गर्दन के पीछे का भाग जो फैट के कारण उभरा हुआ लगता है। यह एक आम समस्या है जो अधिकांश लोगों को होती है। इसके कारण हैं गलत बैठने का तरीका, ज्यादा समय तक फोन या कंप्यूटर का उपयोग, मोटापा, जेनेटिक फैक्टर या स्टेरॉयड का सेवन। इससे गर्दन का आकार बिगड़ जाता है और गर्दन और पीठ में दर्द और अकड़न होती है। गर्दन के कूबड़ को ठीक करने के लिए आपको अपनी बैठने की मुद्रा में सुधार करना होगा। आपको अपनी रीढ़ को सीधा रखना होगा, अपना सीना फैलाना होगा, अपनी ठुड्डी को ऊपर की ओर उठाना होगा, अपने कंधे को चौड़ा करना होगा और अपना पेट अंदर की ओर खींचना होगा। इसके अलावा, आपको नियमित रूप से योगासनों का अभ्यास करना होगा। योगासन आपकी गर्दन की मांसपेशियों को मजबूत और लचीला बनाते हैं और फैट को कम करते हैं।

Advertisment

अपने गर्दन के कूबड़ को ठीक करें

1. भुजंगासन 

इस आसन को करने के लिए जमीन पर पेट के बल लेट जाएं। अपनी कोहनियों को कमर से लगा के रखें और हथेलियां ऊपर की ओर रखें। अब धीरे-धीरे सांस भरते हुए, अपनी छाती को ऊपर की ओर उठाएं। उसके बाद अपने पेट के भाग को धीरे-धीरे ऊपर उठा लें। इस स्थिति में 30 सेकंड तक रहें। अब सांस छोड़ते हुए, अपने पेट, छाती और फिर सिर को धीरे-धीरे जमीन की ओर नीचे लाएं।

Advertisment

2. बालासन 

इस आसन को करने के लिए घुटने के बल जमीन पर बैठ जाएं। अपने शरीर का सारा भार एड़ियों पर डाल दें। अब गहरी सांस भरते हुए आगे की ओर झुकें। ध्यान रहे कि आपका सीना जांघों से छूना चाहिए। फिर अपने माथे से फर्श को छूने की कोशिश करें। कुछ सेकंड तक इस स्थिति में रहने के बाद वापस सामान्य अवस्था में आ जाएं।

3. शलभासन 

Advertisment

इस आसन को करने के लिए सबसे पहले जमीन पर पेट के बल लेट जाएं। अपनी हथेलियों को जांघों के नीचे रखें। अपने सिर, गर्दन और मुंह को एकदम सीधा रखें। अब लंबी गहरी सांस लें। फिर अपने दोनों पैरों को एक साथ ऊपर की तरफ उठाने की कोशिश करें। 10-15 सेकेंड तक इस मुद्रा में रहें। फिर धीरे-धीरे अपने पैरों को नीचे लाएं। इसके बाद सांस छोड़ते हैं।

4. मत्स्यासन 

इस आसन को करने के लिए जमीन पर पीठ के बल लेट जाएं। अपने दोनों पैरों को एक साथ रखें। अपने हाथों को अपने शरीर के नीचे रखें। अब अपने छाती को ऊपर की ओर उठाएं। अपने सिर को पीछे की ओर मोड़ें। अपने माथे से जमीन को छूने की कोशिश करें। इस स्थिति में 10-15 सेकंड तक रहें। फिर धीरे-धीरे अपने सिर, छाती और हाथों को सामान्य स्थिति में लाएं।

इन योगासनों को नियमित रूप से करने से आपकी गर्दन के कूबड़ को ठीक करने में मदद मिलेगी। इसके अलावा, आपको अपने आहार में फाइबर, प्रोटीन और विटामिन से भरपूर चीजें शामिल करनी चाहिए। आपको ज्यादा तेल, चीनी और नमक का सेवन कम करना चाहिए। आपको पानी और निम्बू पानी जैसे तरल पदार्थों का अधिक सेवन करना चाहिए। आपको नियमित रूप से व्यायाम और चलना चाहिए। ये सभी उपाय आपकी गर्दन के कूबड़ को ठीक करने में बहुत लाभदायक होंगे।

Neck Hump Fix
Advertisment