Advertisment

भाजपा नेता स्मृति ईरानी ने अमेठी से हार को स्वीकार किया

भाजपा नेता स्मृति ईरानी ने उत्तर प्रदेश के अमेठी सीट से 1.6 लाख वोटों के अंतर से हार का सामना किया। हार के बावजूद, उन्होंने हाल ही में अपने सोशल मीडिया पोस्ट में एक आत्मविश्वासपूर्ण रवैया दिखाया।

author-image
Vaishali Garg
एडिट
New Update
Amethi Lok Sabha Seat

Image Credit: Indian Express

Defeat in Amethi: Smriti Irani's Sporting Spirit Shines Through : भाजपा नेता स्मृति ईरानी ने उत्तर प्रदेश के अमेठी सीट से 1.6 लाख वोटों के अंतर से हार का सामना किया। हार के बावजूद, उन्होंने हाल ही में अपने सोशल मीडिया पोस्ट में एक आत्मविश्वासपूर्ण रवैया दिखाया।

Advertisment

भाजपा नेता स्मृति ईरानी ने अमेठी से हार को स्वीकार किया

4 जून को घोषित किए गए 2024 के लोकसभा चुनाव नतीजों के अनुसार, भारतीय जनता पार्टी की स्मृति ईरानी ने कांग्रेस के किशोरी लाल शर्मा को एक बड़े अंतर से 1.6 लाख वोटों से हार मानी। ईरानी ने 3,72,032 वोट प्राप्त किए, जबकि शर्मा ने 5,39,228 वोट प्राप्त किए। हार के बावजूद, ईरानी ने हाल ही में अपने सोशल मीडिया पोस्ट में आत्मविश्वासपूर्ण रवैया दिखाया।

Advertisment

कांग्रेस ने अमेठी को पुनः प्राप्त किया

भाजपा नेता स्मृति ईरानी को अमेठी में 1,60,000 वोटों के अंतर से हार का सामना करना पड़ा, जबकि कांग्रेस के गांधी-परिवार के प्रशंसक केएल शर्मा ने लगभग 5.4 लाख वोटों से सीट जीती। प्रियंका गांधी वाड्रा, जब अमेठी में शर्मा के लिए प्रचार कर रही थीं, तो उन्होंने कहा, "वह पिछले 40 वर्षों से अमेठी से जुड़े हैं। उन्होंने अपना पूरा जीवन अमेठी को समर्पित किया है।"

Advertisment

स्मृति ईरानी ने 2019 के लोकसभा चुनाव में अमेठी से तत्कालीन कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को 50,000 से अधिक मतों से हराकर सफलतापूर्वक चुनाव लड़ा था।

मई 2014 से जुलाई 2016 के बीच ईरानी मानव संसाधन विकास मंत्री रहीं और जुलाई 2017 से मई 2018 तक उन्होंने सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय का कार्यभार संभाला। वर्तमान में वे महिला एवं बाल विकास और कपड़ा मंत्रालय की केंद्रीय मंत्री हैं। फिलहाल ईरानी कांग्रेस उम्मीदवार केएल शर्मा से पीछे चल रही हैं।

इतिहास में 2019 के लोकसभा चुनाव में स्मृति ईरानी ने 468,514 वोटों के साथ अपनी शानदार जीत हासिल की, जिससे अमेठी के चुनावी परिदृश्य की बदलती राजनीतिक दृष्टिकोण को दर्शाया गया। वहीं राहुल गांधी ने 413,394 वोट प्राप्त किए, जिससे चुनावी युद्ध की घेरे गए स्वरूप की नजदीकी लड़ाई की जानकारी मिली। 

2014 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के स्टार उम्मीदवार राहुल गांधी और भाजपा की स्मृति ईरानी के बीच कड़ी टक्कर देखने को मिली थी। राहुल गांधी को 4,08,650 वोटों या निर्वाचन क्षेत्र में डाले गए कुल वोटों का 46.82% वोट पाकर विजेता घोषित किया गया था।

स्मृति ईरानी Amethi अमेठी
Advertisment