Delhi Cantt Rape Case: लाश के नाम पर महज़ जले हुए दो पैर से कैसे पता लगाएगी पुलिस कि बच्ची के साथ रेप हुआ था या नहीं ?

Delhi Cantt Rape Case: लाश के नाम पर महज़ जले हुए दो पैर से कैसे पता लगाएगी पुलिस कि बच्ची के साथ रेप हुआ था या नहीं ? Delhi Cantt Rape Case: लाश के नाम पर महज़ जले हुए दो पैर से कैसे पता लगाएगी पुलिस कि बच्ची के साथ रेप हुआ था या नहीं ?

SheThePeople Team

04 Aug 2021


Delhi Cantt Rape Case: रविवार को दक्षिण-पश्चिम दिल्ली में दिल्ली कैंट के पास श्मशान के एक पुजारी और तीन पुरुष कर्मचारियों ने एक नौ साल की लड़की के साथ बलात्कार करने के बाद उसकी हत्या कर दी। आरोपियों ने उनके माता-पिता की सहमति या पुलिस को सूचित किए बिना उसके शरीर का अंतिम संस्कार भी कर दिया।

Justice For Delhi Cantt Girl क्यों ट्रैंड कर रहा है ?

मामले में परिवार और साथी ग्रामीणों के साथ विरोध प्रदर्शन करने के बाद पुलिस द्वारा चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है। घटना के बाद से ही जनता का आक्रोश सोशल मीडिया पर नज़र आ रहा है। #JusticeForDelhiCanttGirl ट्विटर पर ट्रैंड कर रहा है।

Delhi Cantt Rape Case:

नौ साल की नाबालिग लड़की मोहन लाल और सुनीता देवी की बेटी अपने माता-पिता के साथ गांव पुराना नांगल में श्मशान के सामने किराए पर रहती थी। पुलिस के मुताबिक रविवार शाम करीब साढ़े पांच बजे लड़की श्मशान घाट के वाटर कूलर से ठंडा पानी लेने के लिए अपने घर से निकली थी लेकिन वापस नहीं लौटी। शाम छह बजे श्मशान घाट के पुजारी राधेश्याम व नाबालिग बच्ची की मां को जानने वाले 2-3 अन्य लोगों ने उसे श्मशान में बुलाया और बच्ची का शव दिखाते हुए कहा कि वाटर कूलर से पानी पीते समय करंट लग गया। हालांकि माँ को उनकी बात पर यकीन नहीं हुआ ,और ज़बरदस्ती उसकी चिता जला दी गई।

लाश के नाम पर महज़ जले हुए दो पैर से कैसे पता लगाएगी पुलिस कि रेप हुआ था या नहीं ?

गौर करने वाली बात ये है कि पूरे मामले में अबतक कहा तक कार्यवाही पहुंची है। पुलिस के मुताबिक़ मामले की जांच जारी है ,उन्होंने भारतीय दंड संहिता (IPC) की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। पुजारी समेत अन्य 3 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। उन्होंने कहा कि CFSL और क्राइम ब्रांच की टीमों ने मौके से सबूत जुटाए है। Delhi Cantt Rape Case

फोरेंसिक टीम ने पंडित के कमरे की चीज़े ,जैसे तकिया बिस्तर आदि बरामद कर टेस्टिंग के लिए भेजा है। CFSL की टीम DNA प्रोफाइलिंग और माइक्रो साइंटिफिक इन्वेस्टिगेशन के जरिए तकिये और चादर पर मिले किसी भी तरह से खून के निशान, वीर्य के निशान, शरीर के रोएं और बालों की मौजूदगी का पता लगाएगी। इसके अलावा चारो आरोपियों के ब्लड टेस्ट किये जायेंगे ताकि उनकी DNA टेस्ट किया जा सका। इन सभी टेस्ट्स के लिए दिल्ली पुलिस को पहले कोर्ट से इजाज़त लेनी होगी ,फिर इन टेस्ट के बाद ही पूरी असलियत सामने आएगी। Delhi Cantt Rape Case Delhi Cantt Rape Case

और पढ़े : Justice For Delhi Cantt Girl क्यों ट्रैंड कर रहा है ?

दिल्ली कैंट रेप केस : जानिये मामले से जुड़ी ये 10 बातें


अनुशंसित लेख