Happy Birthday Sushmita Sen: बोल्ड फैसलों के लिए जानी जाती हैं

आज सुष्मिता अपना 47 वा जन्मदिन मना रही है। सुष्मिता ने अपना सफर 18 साल की उम्र में किया जब वह मिस यूनिवर्स बनी थी। उन्होंने ये ख़िताब 1994 में अपने नाम किया वे पहली भारतिय थी जिन्होनें यह ख़िताब जीता था। इसके बाद पहली फिल्म दस्तक से बॉलीवुड में कदम रखा।

Rajveer Kaur
19 Nov 2022
Happy Birthday Sushmita Sen: बोल्ड फैसलों के लिए  जानी जाती हैं

Sushmita Sen

सुष्मिता सेन एक ऐसी अभिनेत्री जिन्होनें हमेशा समाज के बंधन को तोडा है।  हमेशा पितृसत्तात्मक  सोच को तोड़ कर अपने जीवन में फैसले लिए है। आज सुष्मिता अपना 47 वा जन्मदिन मना रही है। सुष्मिता ने अपना सफर 18 साल की उम्र में किया जब वह मिस यूनिवर्स बनी थी। उन्होंने ये ख़िताब 1994 में अपने नाम किया था। वे पहली भारतिय थी जिन्होनें यह ख़िताब जीता था। इसके बाद  पहली फिल्म दस्तक से बॉलीवुड में कदम रखा। बॉलीवुड के सफर दौरान उन्होंने बहुत से अवार्ड भी जीते। अभी वे हॉटस्टार पर रिलीज़ हुई वेब सीरीज में दिखी थी।

सुष्मिता ने  पोस्ट शेयर की

अपने जन्मदिन के मौके पर सुष्मिता ने एक पोस्ट शेयर की है। सुष्मिता लिखती है, "आखिरकार 47!!! एक संख्या जो लगातार 13 वर्षों से मेरा पीछा कर रही है!!! सबसे अविश्वसनीय वर्ष आने वाला है...मैं इसे लंबे समय से जानती हूं...और अंतत: इसकी घोषणा करते हुए रोमांचित हूं इसका आगमन!!! #dugadugga.मैं आप लोगों से प्यार करती हूँ!!! #yourstruly #birthdaygirl#19thnovember #scorpio #yassssssss,"

इससे पहले पिछले हफ्ते, अभिनेत्री अपने जन्मदिन के सप्ताह के लिए एक अज्ञात स्थान पर रवाना हुई थी। "बोर्ड करने के लिए तैयार ... उड़ान भरने का समय ... जन्मदिन की लड़की के लिए एक सप्ताह की उलटी गिनती शुरू होती है !!! ओह, क्या मैंने उल्लेख किया है ... मुझे जन्मदिन पसंद है !!! इमोजी का गुच्छा।

Happy Birthday Sushmita Sen: बोल्ड फैसलों के लिए  जानी जाती हैं 

24 की उम्र में बच्ची को गोद लिया 
हमारे समाज में आज भी ये माना जाता है कि  लड़की जितनी मर्ज़ी सफल हो जाए लेकिन असली सफलता उस चीज़ में ही है जब उसकी शादी हो जाए और बच्चे हो जाए। सुष्मिता ने इस सोच को नकारा कि महिला के लिए शादी का होना जरूरी है। इसके साथ ही वे बिना शादी के माँ बन सकती है।

सुष्मिता सेन एक  सिंगल मॉम हैं - सुष्मिता ने 2000 में रेनी को गोद लिया था जबकि अलीशा 2010 में परिवार में शामिल हुईं।सुष्मिता ने सिंगल मदरहुड पर लोगों के सवालों का जबाब देते हुए पोस्ट डाली थी। जिसमें वे लिखती हैं-"रेनी मेरे दिल से पैदा हुई थी जब मैं सिर्फ 24 साल की थी। यह एक बड़ा फैसला था! कई लोगों ने इस पर सवाल उठाया। गोद क्यों लिया? बिना शादी किए आप बच्चे की परवरिश कैसे करेंगी? क्या आप सिंगल पैरेंट बनने के लिए तैयार हैं? आपको एहसास है इस निर्णय का आपके पेशेवर और व्यक्तिगत जीवन पर प्रभाव पड़ेगा? सवाल और राय अंतहीन थी।"


सुष्मिता लिखती हैं- "और फिर भी, मैंने वही किया जो मेरे दिल में सही लगा। मुझे पता था कि मैं एक माँ बनने के लिए तैयार हूँ। और यह मेरे द्वारा किया गया अब तक का सबसे अच्छा निर्णय निकला, एक इतना गहरा ... मैंने इसे दो बार किया !! अब मुझे दो खूबसूरत बेटियों का आशीर्वाद मिला है: रेनी और अलीसा। मैं वह हूं जो मैं हूं क्योंकि मुझे अपने दिल की आवाज सुनने का साहस मिला... सही मार्गदर्शन, जानकारी और समर्थन की तलाश थी, जिसकी जरूरत थी, जब मुझे इसकी जरूरत थी। मैं इन पूर्वाग्रहों को जानती हूं वास्तव में रुकी नहीं हूँ । लेकिन उन्हें आपको रोकना नहीं चाहिए... यह उनके बारे में बात करने के लिए एक रिमाइंडर है। अपना उत्तर ढूंढें।"

जब लोगों ने उसे ‘गोल्ड डिगर’ बोला 
लड़कियों को हमेशा जल्द ही जज कर लिया जाता हैं। समाज में महिलाओं के एक चर्चित और बहुत ही छोटी सोच को दर्शाती हुई धारणा  है कि लड़किया पैसे के लिए किसी के साथ भी संबंध बना सकती है।  

ऐसा ही सुष्मिता सेन के  साथ हुआ- जब व्यवसायी और इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के संस्थापक ललित मोदी ने सोशल मीडिया पर घोषणा की कि वह सेन के साथ रिश्ते में थे। जिसके बाद सुष्मिता स्त्री द्वेषी सोच का शिकार हुई। इसके साथ सोशल मीडिया भद्दे और स्त्री-विरोधी चुटकुलों से भर गया।  आने वाले समय में  'ताली' नामक एक वेब सीरीज में ट्रांसजेंडर एक्टिविस्ट गौरी सावंत की भूमिका निभाने के लिए तैयार हैं। 


अनुशंसित लेख