Hijab: तुर्की की सिंगर ने चलते शो में बाल काटकर किया हिजाब का विरोध

Apurva Dubey
28 Sep 2022
Hijab: तुर्की की सिंगर ने चलते शो में बाल काटकर किया हिजाब का विरोध

ईरान में हिजाब ना पहनने पर लड़की की मौत के बाद वहाँ पर हिंसा प्रदर्शन तेज हो गये है।इस दौरान लड़कियाँ विरोध में अपने बाल में काट रही है और हिजाब को जला रही है।लड़के भी इन प्रदर्शन में लड़कियों का साथ दे रहे है। वहाँ के नौजवानों ने सरकार के ख़िलाफ़ बग़ावत बोल दी है।अब खबर यह है की तुर्की की एक सिंगर जिसका नाम मेलेक मॉसो है उसने महासा अमिनी जिसको ईरान में हिजाब न पहनने पर मार दिया गया था और सभी ईरानी औरतों के साथ चलते शो  में बाल काटकर एकजुटता दिखाई है।

Hijab: तुर्की की सिंगर ने चलते शो में बाल काटकर किया हिजाब का विरोध

ईरानी पत्रकार ने ओमिद मेमरीयन ने एक विडीओ शेयर किया है जिसमें वह अपने बाल काटते हुए नज़र आ रही है। विडीओ में दर्शकों ने ज़ोर-ज़ोर से ताड़ियों बजाई और चीकें मार रहे है।

इसके पहले सिंगर मेलेक मॉसो ने ईरान की औरतों के सपोर्ट में तुर्की भाषा में ट्वीट किया था।उसने लिखा था, मैं ईरान में अपनी बहनों के उचित प्रतिरोध में उनके साथ हूं। पुरुष जो उन्हें अकेला नहीं छोड़ते 👏🏾 महिलाएं इस दुनिया को सुंदर बनाएंगी सभी के लिए समान और स्वतंत्र दुनिया ✊🏽 #Mahsa_Amini

मेलेक मॉसो कौन है?

मेलेक मॉसो का जन्म 11 नवंबर को टर्की के कायसेरी शहर में हुआ।वह एक टर्किश म्यूज़िशन और टीचर भी है। 2018 में वह म्यूज़िक इंडस्ट्री में आयी थी। 9 साल की उम्र में उसने म्यूज़िक सीखना शुरू कर दिया और अपनी पढ़ाई फ़ाइन आर्ट्स हाई स्कूल से ली।

अपनी यूनिवर्सिटी की पढ़ाई उसने अदनान मेंडेरेस यूनिवर्सिटी, स्कूल ओफ़ एजुकेशन, डिपार्टमेंट ओफ़ म्यूज़िक टीचिंग से की। अपनी शिक्षा पूरी करने के बाद, वह कभी कभी इस्तांबुल में कादिकोय-बेसिकतास में प्रदर्शन करती थी।

मॉसो ने  “यिल्डिज टिल्बे” के गाने पर कवर किया था यूट्यूब पर इस गाने पर 100 मिल्यन व्यूज़ हुए थे।

बैन
मई 2022  में इसपारता मुंशी पार्टी की तरफ से 3 जून को इस्पात इंटरनेशनल गुल फेस्टिवल में मॉसो को प्रदर्शन करने पर बैन लगा दिया था। अब उसके द्वारा हिजाब में ईरान में हो रहे हिजाब विरोधी प्रदर्शन का समर्थन किया गया है। उसने स्टेज पर चलते शो के दौरान अपने बाल काटकर इसका समर्थन किया है।

अनुशंसित लेख
नवीनतम कहानियां