Advertisment

सोच बदलने की जरूरत, सास-बहु का रिश्ता भी प्यारा हो सकता है

शुरू से ही सास और बहू के रिश्ते को कभी प्यार भरा नहीं दिखाया गया है। हमेशा इनमें लड़ाई, झगड़ा, जलन या फिर एक दूसरे के बारे में बुरा सोचना ही दिखाया गया है। इसमें मीडिया का भी बहुत बड़ा रोल है।यह भी आम धारणा है कि सास और बहू के बीच बनती नहीं है-

author-image
Rajveer Kaur
New Update
sas bahu

(Image Credit: Zee News)

The Lovely Relationship Between Saas-Bahu: शुरू से ही सास और बहू के रिश्ते को कभी प्यार भरा नहीं दिखाया गया है। हमेशा इनमें लड़ाई, झगड़ा, जलन या फिर एक दूसरे के बारे में बुरा सोचना ही दिखाया गया है। इसमें मीडिया का भी बहुत बड़ा रोल है। भारतीय सीरियल्स में हमेशा दिखाया गया है कि या तो सास अच्छी है या तो बहू। यह भी आम धारणा है कि सास और बहू के बीच बनती नहीं है लेकिन ऐसा क्यों है? अपनी यह बात भी सुनी होगी की औरत ही औरत की दुश्मन होती है। यह सब बातें कहां से आती है? क्यों पुरुषों में भाईचारा और औरतों में जलन देखने को मिलती हैं। हम यह कह देते हैं कि औरतों की दोस्ती ज्यादा टिकती नहीं है, इनकी आपस में बनती नहीं है और एक दूसरे से के लिए जलन होती है। चलिए हम आज इस टॉपिक पर बात करते हैं-

Advertisment

सोच बदलने की जरूरत, सास-बहु का रिश्ता भी प्यारा हो सकता है

सदियों से ऐसे ही चलता आ रहा है

इसमें कोई शक नहीं है कि सास और बहू का रिश्ता प्यारा नहीं हो सकता है लेकिन आसपास का माहौल और हमारी कंडीशनिंग ऐसे ही हुई है जिसके कारण रिश्ते में दरार आती है। जब लड़की बचपन से बड़ी होती है तब उसने अपनी दादी को अपनी मां के साथ अच्छा व्यवहार करते हुए नहीं देखा है। उसकी मां ने भी यही सिखाया है कि बेटा सास कभी माँ नहीं बन सकती और ना ही वह हमेशा ही तुम्हें कम प्यार और अपने बेटे को ज्यादा करेगी। तुम्हें ज्यादा उसके साथ बात नहीं करनी है। वहीं सास का भी यही दृष्टिकोण होता है कि बहू उसके बारे में अच्छा नहीं सोचेंगी, बातें छुपाएगी या फिर बहू को नीचे लगा कर रखना चाहिए। ऐसा नहीं किया तो यह ज्यादा उड़ने लगती है। उन्हें भी ऐसा ही सिखाया गया है और उन्होंने अपनी जिंदगी में भी ऐसा देखा है इसी कारण है कि सास और बहू की बन नहीं पाती है।

अगर हम चाहते हैं कि  सास और बहू का रिश्ते में प्यार हो तो हमें आसपास के माहौल को बदलना होगा। हमें सिस्टरहूड को बढ़ावा देना होगा। हमें ऐसी बातों के बारे में लोगों को अवेयर करना होगा कि महिलाएं भी एक-दूसरे के लिए अच्छा सोच सकती हैं। उनकी दोस्ती भी पुरुषों से बढ़कर होती है। इसके साथ सबसे बड़ी समस्या जेनरेशन गैप भी है। सास और बहू में जेनरेशन बदल जाती है जिसके कारण लाइफस्टाइल बदल जाता है तो ऐसे में सास को भी चाहिए कि वह बहू के ऊपर उन पुरानी चीजों को मत थोपें, जिनका आज के समय में कोई महत्व नहीं है और बहू को भी इस बात को समझना होगा उन्हें नई बातों के बारे में बताना पड़ेगा और थोड़ा वक्त देना पड़ेगा। 

सास को हमेशा यह सिखाया जाता है कि पावर उसके पास होनी चाहिए। इसके कारण उनके रिश्ते में दरार आ जाती है। आपको पावर नहीं प्यार चाहिए। आपको एक दूसरे के समय रिश्ते को समय देना और समझना चाहिए। इसके साथ ही धीरे-धीरे एक-एक स्टेप करके आगे बढ़ना चाहिए। जब तक आप दोनों में एक गहरी समझ नहीं होगी तब तक रिश्ते में समस्याएं आएंगी। इसके साथ ही घर की जिम्मेदारियां दोनों साथ में संभाले। सास को अकेले बहू के ऊपर ही बोझ नहीं डालना चाहिए। उनके साथ बात करनी चाहिए और उनके रिश्ते में किसी और की भागीदारी नहीं होनी चाहिए। यह रिश्ता भी बहुत प्यार हो सकता है। इसके लिए एक दूसरे को समझना होगा, धैर्य रखना होगा और समय देना होगा।

Relationship Between Saas-Bahu Lovely Relationship
Advertisment