Advertisment

Marriages Breakdown: जानिये आजकल शादियाँ क्यों टूट जाती हैं

रिलेशनशिप/ब्लॉग: हिन्दू धर्म में ऐसा माना जाता है कि शादी की रश्मों के बाद पति और पत्नी 7 जन्मों तक के लिए एक दूसरे के हो जाते हैं लेकिन आजकल की कुछ शादियाँ 7 जन्म तो क्या 7 साल तक भी नहीं चलती हैं। आखिर इतनी जल्दी शादी टूट जाने का क्या रीजन है।

author-image
Priya Singh
Jul 14, 2023 15:44 IST
Marriages Breakdown (Herzindagi)

Why Marriages Breakdown Nowadays (Image Credit - Herzindagi)

Marriages Breakdown: आज कल हम सभी देखते हैं कि शादी का सीजन आते ही बहुत से लोगों की शादियाँ होती हैं लेकिन आज कल की शादियाँ ज्यादा समय तक नहीं चल पाती हैं। शादियाँ बहुत ही जल्दी टूट जाती है। कुछ लोग कुछ सालों तक ही साथ रह पाते हैं तो कुछ तो ऐसे भी हैं जो कुछ महीने ही साथ रह पाते हैं। लोगों के लिए शादी तोड़ना जैसे आज कल एक आम बात हो गई। पहले जब शादियाँ होती थीं तो वह जन्मो-जन्मांतर का रिश्ता होता था। हिन्दू धर्म में तो ऐसा माना जाता था कि शादी की रश्मों के बाद पति और पत्नी 7 जन्मों तक के लिए एक दूसरे के हो जाते हैं लेकिन आज कल की कुछ शादियाँ 7 जन्म तो क्या 7 साल तक भी नहीं चलती हैं। आखिर इतनी जल्दी शादी टूट जाने का क्या रीजन है। लोग अपने पार्टनर के साथ अपना रिश्ता मजबूत क्यों नहीं कर पाते हैं क्यों उनका रिश्ता कमजोर होकर टूट जाता है। आइये जानते हैं आज कल जल्दी शादियाँ क्यों टूट जाती हैं।

Advertisment

जानिए जल्दी शादियाँ टूटने के कुछ रीजन्स 

1. फाइनेंशियल इश्यूज

पैसों का स्ट्रेस और पैसे के बारे में असहमति विवाह टूटने का एक बड़ा कारण हो सकता है।खर्च करने की हैबिट्स फाइनेंशियल गोल्स या फाइनेंशियल गैरजिम्मेदारी से  संघर्ष और टेंशन हो सकती है जो बाद में अलगाव या शादी टूटने का एक बड़ा कारण बन सकता है।

Advertisment

2. प्रायोरिटीज और लाइफ़स्टाइल बदलना

टाइम के साथ-साथ लोगों की प्रायोरिटीज़ और लाइफ़स्टाइल डेवलप हो सकती हैं जैसे-जैसे हम ग्रो करते हैं और विकसित होते हैं हमारे इंटरेस्ट,गोल्स और वैल्यूज चेंज हो सकते हैं। ये चेंजेस पति-पत्नी के बीच में मतभेद पैदा करते हैं, इससे विवाह में असंगति और एक दूसरे से सैटिस्फाइड नहीं हो पाते हैं और उनमें धीरे-धीरे दूरियां पैदा हो सकती हैं।

3. इंटिमेसी की कमी

Advertisment

इमोशनल और फिजिकल इंटिमेसी हेल्दी मैरिज के लिए बहुत इंपॉर्टेंट पहलू होते हैं। जब कपल्स इमोशनल कनेक्शन की कमी से जूझते हैं या सेटिस्फाइंग सेक्सुअल रिलेशनशिप बनाए रखने में असमर्थ होते हैं, तो इससे किसी भी रिलेशनशिप में फ्रस्ट्रेशन, गुस्सा बढ़ता है और इसके परिणामस्वरूप शादियां टूट सकती हैं।

4. बहुत अधिक एक्सपेक्टेशंस

शादी के अंदर हर लाइफ पार्टनर के रोल के बारे में अवास्तविक और बहुत ज्यादा एक्सपेक्टेशंस रिश्ते पर दबाव डाल सकती हैं। यदि एक या दोनों पार्टनर्स को रोमांस, खुशी, या घरेलू रिस्पॉन्सिबिलिटीज़ के बारे में अवास्तविक उम्मीदें हैं, तो इससे डिसअप्वाइंटमेंट और डिस्सैटिस्फैक्शन बढ़ता है।

5. लाइफ के चैलेंजेस और उनका स्ट्रेस

कुछ बाहरी फैक्टर्स जैसे काम से संबंधित स्ट्रेस,हेल्थ इशूज, पारिवारिक समस्याएं, या दूसरी जीवन चुनौतियाँ शादी पर दबाव डाल सकती हैं। अगर कपल्स डिफिकल्ट टाइम में एक-दूसरे का सपोर्ट करने या एक साथ सामना करके प्रॉब्लम्स से बाहर निकलने में असमर्थ  होते हैं, तो यह रिश्ते को कमजोर कर सकता है और आपकी शादी जल्दी ही टूट सकती है।

#marriages #टूटने #Marriages Breakdown #शादियां
Advertisment