Advertisment

Parenting Tips : बच्चों के पालन-पोषण में पॉजिटिव रीइन्फोर्समेंट के लाभ

सजा देने की  बजाये सहयोग, दया और ईमानदारी जैसे सकारात्मक गुणों को प्रोत्साहित करने से बच्चे उन्हें अपनाते हैं और उसी तरह से व्यवहार करना पसंद करते हैं।

author-image
Anusha Ghosh
New Update
PNG 41

(Young Scholars Academy)

Parenting Tips : बच्चों की परवरिश में सकारात्मक सुदृढीकरण एक असरदार तरीका है जो डांट-डपट और सज़ा देने के बजाए उन्हें सकारात्मक दिशा दिखाता है। जब बच्चों के अच्छे कार्यों की सराहना की जाती है और उन्हें पुरस्कृत किया जाता है, तो उनका आत्मविश्वास बढ़ता है। सजा देने की  बजाये सहयोग, दया और ईमानदारी जैसे सकारात्मक गुणों को प्रोत्साहित करने से बच्चे उन्हें अपनाते हैं और उसी तरह से व्यवहार करना पसंद करते हैं। इस तरह, सकारात्मक सुदृढीकरण न सिर्फ बच्चों के विकास में बल्कि माता-पिता और बच्चों के रिश्ते को मजबूत करने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

Advertisment

आइए देखें पॉजिटिव सुदृढीकरण के 5 प्रमुख लाभ

1. आत्म-सम्मान में 

जब बच्चों के अच्छे कार्यों की सराहना की जाती है और उन्हें पुरस्कृत किया जाता है, तो उनका आत्मविश्वास  बढ़ता है। उन्हें यह एहसास होता है कि वे सक्षम हैं और वे चीजों को सही तरीके से कर सकते हैं। इससे उन्हें नई चीजें सीखने और चुनौतियों का सामना करने का बल मिलता है। लगातार मिलने वाली सकारात्मक प्रतिक्रिया बच्चों में यह भाव जगाती है कि वे मूल्यवान हैं और उनका व्यवहार सराहनीय है।

Advertisment

2. सकारात्मक चरित्र निर्माण

सजा और डर के बजाय सकारात्मक सुदृढीकरण बच्चों में सहयोग, दया, ईमानदारी जैसे सकारात्मक गुणों को विकसित करने में मदद करता है। जब बच्चों को इन सकारात्मक व्यवहारों के लिए प्रोत्साहित किया जाता है, तो वे उन्हें अपनाते हैं और उसी तरह से व्यवहार करना पसंद करते हैं। यह उन्हें जीवन में सही रास्ते पर चलने के लिए प्रेरित करता है।

3. मजबूत संबंध

Advertisment

सकारात्मक सुदृढीकरण माता-पिता और बच्चों के बीच के संबंध को मजबूत बनाने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। जब माता-पिता अपने बच्चों के प्रयासों की सराहना करते हैं तो बच्चे अपने माता-पिता के करीब महसूस करते हैं। इससे उनके बीच आपसी विश्वास और समझ का भाव बढ़ता है। सजा देने की तुलना में, सकारात्मक सुदृढीकरण से माता-पिता और बच्चों के बीच सकारात्मक माहौल बनता है, जो उनके संपूर्ण विकास के लिए आवश्यक है।

4. आंतरिक प्रेरणा का विकास

सकारात्मक सुदृढीकरण बच्चों में आंतरिक प्रेरणा को जगाने में भी सहायक होता है। बाहरी पुरस्कारों के बजाय, बच्चे अच्छे व्यवहार को अपनाते हैं क्योंकि उन्हें अच्छा लगता है और उन्हें इस पर गर्व होता है। वे सीखते हैं कि अच्छा व्यवहार करने से उन्हें खुशी मिलती है और संतुष्टि का अनुभव होता है। यह आंतरिक प्रेरणा उन्हें जीवन भर सकारात्मक बने रहने और लक्ष्य प्राप्त करने में मदद करती है।

5. सकारात्मक पालन-पोषण का अनुभव

सकारात्मक सुदृढीकरण का इस्तेमाल करने से माता-पिता को भी अच्छा अनुभव होता है। अपने बच्चों को सफल होते देखना और उनकी सराहना करना माता-पिता के लिए गर्व की बात होती है। इससे माता-पिता को यह विश्वास हो जाता है कि वे अपने बच्चों का सही पालन-पोषण कर रहे हैं। यह सकारात्मक अनुभव माता-पिता और बच्चों दोनों के लिए खुशहाल माहौल बनाता है।

parenting tips आत्म-सम्मान मजबूत संबंध सकारात्मक चरित्र निर्माण
Advertisment