Fact Check: PCOS में दूध से बनी चीजों(Dairy Products)का सेवन सही है?

जिन महिलाओं को पीसीओएस की समस्या होती है उन्हें अक्सर यह सलाह दी जाती है कि दूध और दूध से बनी चीजें नहीं खानी है। क्या पीसीओएस से पीड़ित महिलाओं को दूध या दूध से बनी चीजों का सेवन बिल्कुल नहीं करना चाहिए? पढे इस हैल्थ ब्लॉग में-

Monika Pundir
28 Nov 2022
Fact Check: PCOS में दूध से बनी चीजों(Dairy Products)का सेवन सही है?

dairy products pcos

Fact Check: क्या PCOS में दूध से बनी चीजों(Dairy Products) का सेवन करना सही है?

पीसीओएस ओर पीसीओडी से परेशान महिलाओं को अपनी डाइट पर खास ध्यान देने की आवश्यकता होती है। उन्हें ऐसा कुछ भी खाने से परहेज करना चाहिए जिस कारण उनके शरीर में हार्मोन असंतुलित होते हैं। इस कारण यह सवाल भी महिलाओं के मन में रहता है कि पीसीओडी या पीसीओएस की समस्या में उन्हें दूध या दूध से बनी चीजों का सेवन करना चाहिए या नहीं। आइए जानते हैं इसके बारे में संबंधित जानकारी।

पीसीओएस से पीड़ित महिलाओं को मना किया जाता है डेयरी प्रोडक्ट का सेवन?

Dairy Products PCOS: जिन महिलाओं को पीसीओएस या फिर पीसीओडी की समस्या होती है उन्हें अक्सर यह सलाह दी जाती है कि दूध और दूध से बनी चीजें नहीं खानी है। ऐसा इसलिए किया जाता है क्योंकि पीसीओएस और पीसीओडी की समस्या में हार्मोन के असंतुलित होने के कारण शरीर में काफी समस्याएं उत्पन्न होती है, और यह माना जाता है कि अगर आप इस दौरान दूध से बनी चीजों का सेवन करते हैं तो आपके चेहरे पर और अधिक मुंहासे आ सकते हैं साथ ही एंड्रोजन हार्मोन और इंसुलिन के स्तर में काफी वृद्धि हो सकती है जिस कारण यह समस्या गंभीर हो जाती है। लेकिन क्या यह बात पूरी तरीके से सच है? क्या पीसीओएस से पीड़ित महिलाओं को दूध या दूध से बनी चीजों का सेवन बिल्कुल नहीं करना चाहिए?

PCOS में नुकसानदायक है डेयरी प्रोडक्ट्स?

ऐसा कोई प्रमाणित तथ्य नहीं है जिससे यह पता चलता है कि पीसीओडी और पीसीओएस से पीड़ित महिलाओं के लिए दूध का सेवन करना गलत होता है। हालांकि इस दौरान महिलाओं के शरीर में हार्मोनल असंतुलन होने के कारण काफी कमजोरी भी आती है जिस वजह से यह दूध का सेवन करना उनके लिए जरूरी भी होता है क्योंकि यह उनकी हड्डियों को मजबूत बनाता है।

अगर आपको इस बात की चिंता है कि दूध पीने से पीसीओडी में मुंहासों की समस्या और भी अधिक बढ़ सकती है तो यह ज्यादा फैटी डेयरी प्रोडक्ट्स लेने के कारण भी हो सकता है। ऐसी स्थिति में आपको वह डेयरी प्रोडक्ट्स लेनी चाहिए जिनमें फैट कम मात्रा में हो। साथ ही आपको यह समझने की भी जरूरत है कि आप डेयरी प्रोडक्ट्स के लिए असहिष्णु (Lactose intolerance) तो नहीं है। अगर ऐसा है तो आपको प्रोडक्ट्स का सेवन नहीं करना चाहिए। पीसीओडी या फिर पीसीओएस से पीड़ित महिलाएं अगर दूध या दूध से बनी चीजों के प्रति असहिष्णु नहीं है तो वह आसानी से डेयरी प्रोडक्ट्स को कंज्यूम कर सकती हैं।

Read The Next Article