Dermatological Issues In PCOS: PCOS में त्वचा संबंधी समस्याएं

Polycystic Ovarian Syndrome : भारत में हर 5 में से 1 महिला इससे ग्रस्त है। यह एक हार्मोनल विकार है । इसके साथ ही औरतों को बहुत सारी समस्सयाएं जैसे अनियमित महावरी, मुंह और शरीर पर बाल, मेल होर्मोनेस, एक्ने, दिल का रोग और मधुमेह जैसे रोग आदि।

Rajveer Kaur
02 Jan 2023
Dermatological Issues In PCOS: PCOS में  त्वचा संबंधी समस्याएं

DERMATOLOGICAL ISSUES IN PCOS

PCOS जिसे  Polycystic Ovarian Syndrome  कहा जाता है आज के समय में इसकी समस्या बहुत बढ़ गई है। भारत में हर 5 में से 1 महिला इससे ग्रस्त है। यह एक हार्मोनल विकार है जो प्रजनन आयु में औरतों के होर्मोनेस पर प्रभाव डालता है। इसके साथ ही औरतों को बहुत सारी समस्सयाएं आ जाती जैसे अनियमित महावरी, मुंह और शरीर पर बाल, मेल होर्मोनेस, एक्ने, दिल का रोग और मधुमेह जैसे रोग आदि। यह कोई बीमारी नहीं है बल्कि एक सिंड्रोम जिसका कोई इलाज नहीं हैं। इसके लिए आपको  खान-पान और लाइफस्टाइल में बदलाव लाना पड़ता है।

कैसे PCOS का पता चलता है?
PCOS का हमें इन तीन चीज़ों से पता चलता अगर आपके शरीर में उच्च एण्ड्रोजन स्तर है पीरियड्स अनियमित है और अंडाशय में सिस्ट हैइसका मतलब अब आपको डॉक्टर से एक बार मिल लेना चाहिए। 

DERMATOLOGICAL ISSUES IN PCOS: आज हम PCOS में  होने वाले त्वचा संबंधी समस्यायों के बारे में जानेंगे

  1. SKIN TAGS:- स्किन टैग्स जिन्हें  एक्रोकॉर्डन, क्यूटेनियस पैपिलोमा, क्यूटेनियस टैग, फाइब्रोएपिथेलियल पॉलीप आदि नामों से जाना जाता है यह स्किन पर कई भी निकल आते है और दिखने में बिलकुल अच्छे नहीं लगते है। जिन औरतों में PCOS डिसऑर्डर होता है उन्हें यह समस्या आ जाती है। स्किन टैग को एक्रोकॉर्डन्स के रूप में भी जाना जाता है।  स्किन टैग आपकी स्किन पर छोटे विकास होते हैं जो आपके शरीर पर जैसे  बगल, गर्दन और कमर में निकल आते है। स्किन टैग आपकी सेहत के लिए खतरनाक नहीं है लेकिन यह बहुत बहुत असुविधाजनक  होते है क्योंकि क्योंकि वे उन जगहों पर विकसित हो सकते हैं जिससे आपको मुश्किल होती है। इसके बहुत कारण होते है जैसे असंतुलित हॉर्मोन, वजन कम या ज्यादा होना, मधुमेह आदि। इसे आप सर्जरी से ठीक करवा सकते है।  
  2.  ACNE:- एक्ने एक बहुत आम समस्या है जो आपको जरूरी नहीं है सिर्फ हार्मोनल इम्बैलेंस के कारण ही हो यह आपको वैसे भी हो सकते है लेकिन PCOS  इसका एक बड़ा कारण हो सकता है। एक्ने जिन्हें हिंदी में मुहांसे कहा जाता है यह आपकी त्वचा में छोटे छेद होते हैं  जिन्हें रोम या हेयर फॉलिकल्स कहा जाता है। जब यह आपके फेस पर निकलते है इससे आपका फेस भी खराब हो जाता है क्योंकि कई बार इनके निशान मुंह पर ही रह जाते है। इसके साथ ही यह स्ट्रेस का भी कारण बनते है लेकिन यह बहुत आम समस्या है जो किसी को भी हो सकती है। इसके लिए आपको अपनी डाइट और कसरत पर ध्यान देने की जरूरत है।  
  3. Hirsutism:- PCOS के कारण महिलाओं में एण्ड्रोजन हॉर्मोन ज्यादा उत्पाद होने लगते है जिसके कारण महिलाओं के चेहरे या शरीर पर जब अत्यधिक मोटे और बाल आने लग जाते है इसे हिर्सुटिज़्म कहते है यह बाल ज्यादातर चेहरे, छाती, पेट, पीठ, ऊपरी बांहों या ऊपरी पैरों पर दिखाई दे सकते हैं। सबसे बढ़िया तरीका इस कंडीशन को दूर करने का हॉर्मोन को बैलेंस करना है लेकिन आप शेविंग, वैक्सिंग और मेडिकेशन का सहारा भी ले सकते है। इन तरीको के अपने फायदे और नुकसान भी है। 
  4. Androgenetic Alopecia:- यह एक ऐसी स्थिति है जिसमें आपके बाल एक पैट्रेन में झड़ते है। यह मर्दों और महिलाओं दोनों में होता है। महिलाओं में यह स्थिति PCOS के कारण हो जाती है। यह गंजेपन के लिए ज़िम्मेदार है। इस स्थिति में आपके बाल अचानक झड़ने लग जाते है। इसके साथ पतले और बहुत ज़्यादा झड़ते है। इसके लिए आपको अपनी डाइट में बदलाव करना होगा।








Read The Next Article