Advertisment

Excessive Workout: अधिक वर्कआउट करने के 5 नुकसान

वर्कआउट करना सेहत के लिए फायदेमंद है। किसी भी फिटनेस फ्रिक के लिए उसका वर्कआउट सबसे ज्यादा जरूरी होता है। यह न सिर्फ फिट रहने में मदद करता है, वर्कआउट करने से लंबे समय तक एक्टिव भी रहते है। बहुत लोगों को वर्कआउट करने की बहुत ज्यादा आदत होती है।

author-image
Pushpa Chauhan
New Update
exercise (health shots)

Image credit- image file

Excessive Workout Invites These Five Problems: वर्कआउट करना सेहत के लिए फायदेमंद है। किसी भी फिटनेस फ्रिक के लिए उसका वर्कआउट सबसे ज्यादा जरूरी होता है। यह न सिर्फ फिट रहने में मदद करता है, वर्कआउट करने से लंबे समय तक एक्टिव भी रहते है। बहुत लोगों को वर्कआउट करने की बहुत ज्यादा आदत होती है, कि वो दिन में दो बार वर्कआउट करना शुरू कर देते हैं। ज़्यदातर वो लोग होते है, जो वजन घटाने या मसल्स बढ़ाने की शुरूआत कर रहे होते हैं। लेकिन फिट रहने के लिए वर्कआउट की सीमा तय होना भी जरूरी है। अगर आप दिनभर में जरूरत से ज्यादा वर्कआउट करते हैं, तो इसका आपके शरीर पर उल्टा असर भी पड़ सकता है। इसके कारण आपको स्वास्थ्य से जुड़ी कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है। ज्यादा वर्कआउट आपकी सेहत को नुकसान भी पहुंचा सकता है। लेकिन जरूरत से ज्यादा वर्कआउट करने से शरीर को नुकसान भी हो सकता है। 

Advertisment

जरूरत से ज्यादा वर्क आउट इन पांच मुसीबतों को देता है निमंत्रण 

1. मांसपेशियों और जोड़ों में चोट

अधिक वर्कआउट करने से मांसपेशियों और जोड़ों पर अत्यधिक दबाव पड़ता है, जिससे उनमें खिंचाव, सूजन और दर्द की समस्याएँ हो सकती हैं। लंबे समय तक ऐसा करने से स्थाई चोट भी हो सकती है।

Advertisment

2. थकान और कमजोरी

अत्यधिक वर्कआउट करने से शरीर थकान और कमजोरी महसूस करता है। शरीर को ठीक होने और ऊर्जा पुनः प्राप्त करने के लिए समय चाहिए होता है, और अगर इसे वह समय नहीं मिलता, तो व्यक्ति लगातार थका हुआ और कमजोर महसूस कर सकता है।

3. इम्यून सिस्टम कमजोर होना

Advertisment

अधिक वर्कआउट करने से शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली कमजोर हो सकती है, जिससे व्यक्ति बीमारियों और संक्रमणों के प्रति अधिक संवेदनशील हो जाता है।

4. नींद में गड़बड़ी

जरूरत से ज्यादा वर्कआउट करने से नींद की गुणवत्ता पर असर पड़ सकता है। इससे नींद की कमी, अनिद्रा और अन्य नींद संबंधी समस्याएँ हो सकती हैं, जो सामान्य स्वास्थ्य को प्रभावित करती हैं।

5. मानसिक तनाव और अवसाद

अत्यधिक वर्कआउट मानसिक स्वास्थ्य को भी प्रभावित कर सकता है। इससे मानसिक तनाव, चिंता और अवसाद की समस्याएँ हो सकती हैं। अत्यधिक शारीरिक मेहनत के कारण मानसिक थकान और चिड़चिड़ापन भी बढ़ सकता है। संतुलित और संयमित वर्कआउट करना आवश्यक है ताकि शरीर और मन स्वस्थ रह सकें। अपने शरीर की सीमाओं को समझना और उसे आराम देने का समय देना महत्वपूर्ण है।

workout पांच मुसीबतों को देता है निमंत्रण जरूरत से ज्यादा वर्क आउट
Advertisment