Female White Discharge: सफ़ेद पानी की की सिंपल रेमेडीज

Swati Bundela
28 Sep 2022
Female White Discharge: सफ़ेद पानी की की सिंपल रेमेडीज

 - महिलाओं में वजाइना से व्हाइट डिस्चार्ज होना आम है। लेकिन कभी-कभी यह समस्या बहुत ज्यादा हो जाती है जिसका इलाज जरूरी होता है। आम भाषा में इसे सफेद पानी और मेडिकल भाषा में 'लिकोरिया' के नाम से जानते हैं। अगर आपको भी यह समस्या है तो आपमें कमजोरी, जी मिचलाना, प्राइवेट पार्ट से बदबू आना, बार-बार पेशाब जाना या चक्कर आना आदि लक्षण नजर आ सकते हैं। अगर यह समस्या अधिक बढ जाती है तो दर्द, जलन, खुजली और सूजन जैसे लक्षण भी देखने को मिलते हैं।

व्हाइट डिस्चार्ज होने के कारण -

सफेद पानी की समस्या कई कारणों से हो सकती है। अगर आप वजाइना के आस-पास साफ सफाई नहीं रखती हैं, तो सफेद पानी की समस्या होती है। आपके शरीर में यदि विटामिन डी, विटामिन सी अथवा खून की कमी है तो भी सफेद पानी की समस्या आपको होती है। गर्भावस्था के दौरान भी महिलाओं मे सफेद पानी जाता है। इसके अलावा अगर आपको बैक्टीरियल या फंगल इंफेक्शन है या यूरिनरी इंफेक्शन है और आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर है, साथ ही अगर आपके शरीर में एस्ट्रोजन हार्मोन का लेवल कम है तो भी आपको ज्यादा साफेद पानी जाने की समस्या होती है।

यह करें उपाय - 

ज्यादा सफेद पानी की समस्या होने पर आप यह उपाय कर सकती हैं।

1. दूध, केला और अंजीर

यह तीनो व्हाइट डिस्चार्ज के लिए बहुत फायदेमंद माने जाते हैं। इसके लिए आप रात को अंजीर भिगोकर रखें और सुबह खाली पेट खाएं। दूध और केले का शेक बनाकर पिएं। इसके लिए एक गिलास दूध में एक चम्मच घी मिलाएं और केला काटकर मैश करे। शेक बनाकर पिएं।

2. दवाइयां

अगर आपको किसी यीस्ट या बैक्टीरियल इंफेक्शन के कारण सफेद पानी की समस्या है तो एंटीफंगल और एंटीबायोटिक्स दवाएं ले सकते हैं। इन दवाइयों को आप क्रीम या पिल्स के रूप मे ले सकते हैं। ध्यान रहे बिना डॉक्टर के परामर्श के दवाइयां ना ले। साथ ही ध्यान रहे की वजाइनल एरिया को साफ रखें।

3. व्यायाम करें

व्यायाम करने से सफेद पानी की समस्या दूर होती है। ज्यादा सफेद पानी का एक कारण शरीर में विटामिन डी की कमी का होना भी है। इसके लिए रोजाना व्यायाम और सुबह को वॉक करें।

4. खूब पानी पिएं

आपको रोजाना 2 से 3 लीटर पानी पीना चाहिए। इससे व्हाइट डिस्चार्ज की समस्या दूर हो जाती है। साथ ही अच्छा खाना ले जिसमें सभी पोषक तत्व मौजूद हों और मेडिटेशन करें।

5. साफ सफाई का ध्यान रखें

सफेद पानी की समस्या से बचने के लिए हाइजीन को बरकरार रखें। पीरियड्स के दौरान भी साफ सफाई का खास ध्यान रखें। इससे आप किसी भी प्रकार के इंफेक्शन से बचे रहते हैं।

अनुशंसित लेख