Advertisment

Myths Of Pregnancy: प्रेगनेंसी में महिलाएं इन बातों पर ध्यान मत दें

जब महिला प्रेगनेंट हो जाती है तब घर में नानी, दादी, सास, चाची आ जाती है बेटा गर्भ के दौरान ऐसा नहीं करते है। इन बातों को कोई वैलिड रीजन तो होता नहीं है बस सब ने एक दूसरे से सुनी होती है।

author-image
Rajveer Kaur
Oct 13, 2023 11:00 IST
New Update
Pregnancy(Parents).png

(Image Credit: Parents)

शादी के बाद कपल ने अक्सर ये लाइन सुनी होगी बच्चा पैदा कर लो उसका पालन पौषण हम कर लेंगे। इसके बाद जब महिला प्रेगनेंट हो जाती है तब घर में नानी, दादी, सास, चाची आ जाती है बेटा गर्भ के दौरान ऐसा नहीं करते है। यह चीज नहीं खाते। ऐसे लेटते नहीं है। इन बातों को कोई वैलिड रीजन तो होता नहीं है बस सब ने एक दूसरे से सुनी होती है। आज के ब्लॉग में हम इन्हीं मिथक को तोड़ेंगे और सही जानकारी आप तक पहुंचाएंगे।

Myths Of Pregnancy: प्रेगनेंसी में महिलाएं इन बातों पर ध्यान मत दे 

  1. मां के चेहरे पर तेज होने से लड़का होगा

    आज के समय में सुनने में यह बात बहुत सेक्सिस्ट लगती है लेकिन इस बात में कोई फैक्ट नहीं है। प्रेगनेंसी में हार्मोन बदलाव आने से चेहरे पर ग्लो आ जाता है।
  2. पहले बार सेक्स से गर्भ नहीं हो सकता

    यह एक मिथ है जिसे सच मानकर लोग पहली बार में कोई प्रोटेक्शन नहीं यूज करते है। ऐसा समाज में सेक्स  एजुकेशन की कमी से होता है।
  3. पीरियड सेक्स में गर्भवती होने से बच सकती है

    इस बात में भी कोई सचाई नहीं है कपल को ऐसी बातों को सच नहीं मानना चाहिए। इसलिए पीरियड  सेक्स में प्रोटेक्शन अवश्य इस्तेमाल करें
  4. क्रेविंग से बच्चे का सेक्स तह करना

    आज भी हमारे समाज में महिला को  प्रेगनेंसी में होने वाली क्रेविंग से बच्चे का सेक्स निर्धारित कर लिया जाता है कैसे साल्टी क्रेविंग का मतलब लड़का होगा और मीठा खाने का मन करे तो लड़की। साइंटिफिकली इस बात में कोई भी फैक्ट नहीं।
  5. महिलाओं को एक्सरसाइज नहीं करनी चाहिए

    यह भी एक मिथ है कि गर्भ के दौरान  महिलाएं एक्सरसाइज से दूर ही रहें। डॉक्टर ने महिला को किसी मेडिकल कंडीशन से मना किया है वे अलग बात है लेकिन स्वस्थ महिलाएं व्यायाम कर सकती है इससे नेचुरल डिलीवरी के चांस बड़ जाते है।
  6. बच्चा और जच्चा दोनो के लिए खाएं

    अक्सर घर में गर्भवती औरत को दोनों के लिए खाने के सुझाव दिया जाता है लेकिन ये नुकसानदेह हो सकता है। महिला को बैलेंस डाइट पर ध्यान देना चाहिए उसकी मात्रा उतनी जरूरी नहीं है। डॉक्टर से डाइट की सलाह जरूर ले।
Advertisment