Advertisment

Sexual Health Tips: ओरल सेक्स से महिलाओं को हो सकती हैं ये परेशानियां

ओरल सेक्स जो आज कल कपल्स के बीच अत्यधिक पसंद किया जाता है। इसे अक्सर पेनिट्रेटिव सेक्स का एक सुरक्षित विकल्प माना जाता है, लेकिन इसके भी अपने कुछ स्वास्थ्य जोखिम होते हैं, खासकर महिलाओं के लिए।

author-image
Priya Singh
New Update
Oral Sex

Oral sex can cause these problems to women: सेक्स कपल्स की डेली लाइफ स्टाइल का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। यह उनके रिश्तों को बेहतर करने के साथ ही कई तरह के स्वास्थ्य लाभ भी रखता है। ओरल सेक्स जो आज कल कपल्स के बीच अत्यधिक पसंद किया जाता है। इसे अक्सर पेनिट्रेटिव सेक्स का एक सुरक्षित विकल्प माना जाता है, लेकिन इसके भी अपने कुछ स्वास्थ्य जोखिम होते हैं, खासकर महिलाओं के लिए। सुरक्षित यौन व्यवहार अपनाने के लिए इन संभावित समस्याओं के बारे में जागरूक होना आवश्यक है। आइये जानते हैं कि महिलाओं को ओरल सेक्स से क्या समस्याएं हो सकती हैं।

Advertisment

Sexual Health Tips: ओरल सेक्स से महिलाओं को हो सकती हैं ये परेशानियां

1. यौन संचारित संक्रमण (एसटीआई)

ओरल सेक्स से हर्पीस, गोनोरिया, सिफलिस और ह्यूमन पेपिलोमावायरस (एचपीवी) जैसे एसटीआई फैल सकते हैं। हर्पीज़ दर्दनाक घावों का कारण बन सकता है, जबकि गोनोरिया और सिफलिस का इलाज न करने पर गंभीर स्वास्थ्य जटिलताएँ हो सकती हैं। एचपीवी विशेष रूप से चिंताजनक है क्योंकि कुछ उपभेद सर्वाइकल कैंसर के खतरे को बढ़ा सकते हैं।

Advertisment

2. बैक्टीरियल वेजिनोसिस

बैक्टीरियल वेजिनोसिस (बीवी) तब हो सकता है जब योनि में बैक्टीरिया का प्राकृतिक संतुलन बाधित हो जाता है। लार में विभिन्न बैक्टीरिया और एंजाइम होते हैं जो वजाइनल फ्लोरा को बदल सकते हैं, जिससे बीवी हो सकता है। लक्षणों में असामान्य डिस्चार्ज, स्मेल और जलन शामिल हैं।

3. यीस्ट संक्रमण

Advertisment

ओरल सेक्स के माध्यम से बाहरी बैक्टीरिया के प्रवेश से भी यीस्ट इन्फेक्शन हो सकता है। लार के विभिन्न पीएच स्तर योनि में प्राकृतिक संतुलन को बाधित कर सकते हैं, जिससे यीस्ट वृद्धि को बढ़ावा मिलता है। लक्षणों में खुजली, सूजन और गाढ़ा डिस्चार्ज शामिल हैं।

4. मुंह के कैंसर का खतरा

एचपीवी मौखिक कैंसर के लिए एक उल्लेखनीय जोखिम कारक है। जब एक संक्रमित साथी ओरल सेक्स करता है, तो वे मुंह और गले में एचपीवी संचारित कर सकते हैं, जिससे इन क्षेत्रों में कैंसर हो सकता है। यदि खुले घाव या खरोंच हों तो खतरा न केवल देने वाले को बल्कि ओरल सेक्स करने वाले को भी होता है।

Advertisment

5. मसूड़े की सूजन और पेरियोडोंटल रोग

दाता के लिए, ओरल सेक्स से मसूड़े की सूजन और पेरियोडोंटल बीमारी का खतरा बढ़ सकता है। जननांग क्षेत्र से मुंह तक बैक्टीरिया के स्थानांतरण से मसूड़ों में सूजन और संक्रमण हो सकता है। ओरल सेक्स लेने वाले के लिए, यह सुनिश्चित करना महत्वपूर्ण है कि उनका साथी अच्छी मौखिक स्वच्छता बनाए रखे।

6. पेल्विक सूजन रोग (पीआईडी)

Advertisment

गोनोरिया और क्लैमाइडिया जैसे कुछ एसटीआई,  ओरल सेक्स के माध्यम से प्रसारित होते हैं, जो प्रजनन अंगों में फैल सकते हैं और पीआईडी का कारण बन सकते हैं। इस संक्रमण से क्रोनिक पेल्विक दर्द, बांझपन और अस्थानिक गर्भावस्था हो सकती है। गंभीर जटिलताओं को रोकने के लिए शीघ्र पता लगाना और उपचार महत्वपूर्ण है।

7. एलर्जी प्रतिक्रियाएं

वीर्य में प्रोटीन या मुंह में मौजूद अन्य पदार्थों के कारण एलर्जी प्रतिक्रियाएं हो सकती हैं। लक्षण हल्की जलन से लेकर गंभीर एनाफिलेक्सिस तक हो सकते हैं। ओरल सेक्स के बाद किसी भी असामान्य प्रतिक्रिया को पहचानना और यदि आवश्यक हो तो चिकित्सा सलाह लेना महत्वपूर्ण है।

Disclaimer: इस प्लेटफॉर्म पर मौजूद जानकारी केवल आपकी जानकारी के लिए है। हमेशा चिकित्सा या स्वास्थ्य संबंधी निर्णय लेने से पहले किसी एक्सपर्ट से सलाह लें।

#Women Oral Sex sexual health Sexual Health tips ओरल सेक्स
Advertisment