Pregnancy Tips: गर्भावस्था में भूल से भी न करें इन 5 चीजों का सेवन

Swati Bundela
06 Oct 2022
Pregnancy Tips: गर्भावस्था में भूल से भी न करें इन 5 चीजों का सेवन

गर्भावस्था में सबसे पहले यह जान लेना अत्यंत आवश्यक है कि क्या खाये और क्या न खाये। अक्सर महिलाये ऐसी अवस्था मे यह तो जान लेती है की क्या क्या खाना चाहिए पर यह भूल जाती है की इस दौरान कुछ ऐसी चीज़े है जिन्हे खाने से उन्हें परहेज करना चाहिए। आज हम इन्ही व्यंजनों पर बात करेंगे -

1. कॉफी 
अगर आप कॉफी पीना पसंद करती है और बिना कॉफ़ी के दिन भी नही गुजरता तो आपको सतर्क होने कि आवश्यकता है क्योकि गर्भावस्था के दौरान कॉफ़ी पिने से नुक्सान हो सकता है दरअसल कॉफी में कैफीन मौजूद होता है कैफीन बहुत जल्दी अवसोर्ब हो जाता है और आसानी से प्लेसेंटा में चला जाता है। 

शिशुओं और उनके प्लेसेंटा में कैफीन को पचाने  के लिए आवश्यक मुख्य एंजाइम नहीं होता है, इसलिए हाई रिस्क हो सकता है। गर्भावस्था के दौरान उच्च कैफीन का सेवन भ्रूण के विकास को प्रतिबंधित करने और जन्म के समय कम वजन के जोखिम को बढ़ाने का बड़ा कारक बन सकता है।  

2. डिब्बा बंद भोजन 
गर्भावस्था के दौरान डिब्बाबंद और पहले से पैक किए गए खाद्य पदार्थों से यथासंभव बचना चाहिए क्योकि उसके  ताज़ा होने पर संदेह होता है साथ ही उसे लम्बे समय तक चलाने के लिए अनेको केमिकल के प्रयोग किये गए होते है जो आपकी सेहत के लिए नुकसान दायक हो सकता हैं।

3. कच्चा और अधपका भोजन 
बिना धुली सब्जियों और फलों के सेवन से टोक्सोप्लाज्मोसिस का खतरा बढ़ सकता हैं। साथ ही बिना धुली सब्जियों और फलों के सेवन से इन हानिकारक रोगाणुओं का खतरा भी बन जाता हैं इससे फूड पॉइजनिंग, बुखार, मांसपेशियों में दर्द आदि हो सकता है। वही यह संक्रमण बच्चे को गंभीर रूप से नुकसान पहुंचा सकता है और उसके विकास में बाधा बन सकता है।

4. कच्चा अंडा 
कुछ महिलाएं जिम आदि करने के कारण कच्चा अंडा या हाफ  फ्राय खाना पसन्द करती है कच्चे या कम पके अंडे में साल्मोनेला का खतरा अधिक होता है। गर्भावस्था के दौरान कच्चे अंडो का सेवन नही करना चाहिए। इससे आपके शरीर में गर्मी बढ़ सकती है और कई बार गर्भपात की स्तिथि भी बन जाती है इसलिए इससे बचना चाहिए।

5. शराब 
गर्भावस्था में शराब का सेवन सुरक्षित नहीं है। जब महिलाओं को पता चले कि वे गर्भवती हैं उन्हे उसी वक्त शराब पीना बंद कर देना चाहिए। गर्भावस्था के दौरान शराब पीने से शिशुओं में विकासात्मक दोष आ सकते है । कई शोधों से यह पता चला है कि गर्भावस्था के पहले तीन महीनों के दौरान शराब के सेवन से शिशुओं में चेहरे की विकृति हो सकती है। कुछ शोधों में  उन शिशुओं में मानसिक जन्म दोष भी पाए गए हैं जिनकी माँ ने गर्भावस्था के दौरान शराब का सेवन किया था।

अनुशंसित लेख
नवीनतम कहानियां