ब्लॉग

#GirlTalk- क्या मेरा सेक्स में इंटरेस्टड ना होना सही है?

Published by
STP Hindi Editor

#GirlTalk SheThePeople का एडवाइस कॉलम है। अगर आपके पास सवाल है तो उसे हमें girltalk@shethepeople.tv पर भेजें – यदि आप चाहे तो यह बे-नाम (anonymous) भी हो सकता है। आपको उस परेशानी से दूर करने के लिए अलग-अलग क्षेत्रों की महिलाएं इसमें सलाह देती हैं और अपने खुद के एक्सपीरियंस भी बताती हैं।

डियर गर्ल टॉक,

मैं फिजिकल अफ़ेक्शन और इंटिमेसी में ज़्यादा विश्वास नहीं रखती। मुझे सेक्स से किसी कारण से बहुत डर लगता है। मुझे नहीं लगता मैं रेडी हूँ और शायद मुझे सेक्स की ज़रूरत नहीं है। क्या ये उस इंसान के लिए ठीक होगा जिसके साथ मैं रिलेशनशिप में हूँ? क्या मुझे सेक्स की ज़रूरत ना होना सही है?

– नॉट रेडी फ़ॉर सेक्स

डियर नॉट रेडी फॉर सेक्स,

धन्यवाद ये प्रश्न पूछने के लिए। मैं बताना चाहती हूं कि असेक्सयूएलिटी (Asexuality) भी पैन, बाई, होमो सेक्सुअलिटी और स्ट्रेट की तरह ह्यूमन सेक्सुअलिटी के स्पेक्ट्रम में आती है। एक असेक्सयूएल होना होमोसेक्सयूएल और स्ट्रेट होने की तरह ही नॉर्मल है।

सेक्स इंटिमेसी नहींं है

और आप ये बिल्कुल ना सोचें कि सेक्स और इंटिमेसी एक होते हैं। आप सेक्स भले ना चाहती हों पर आप सेक्स के बिना भी इंटिमेट हो सकती हैं। मैं आपको सजेस्ट करती हूँ कि एक बार एक्स्प्लोर करके देखिए और तब एक्सेप्ट करिए कि आप सेक्स के बारे में क्या सोचती हैं।

अगर आपको पता चल जाता है कि आप असेक्सयूएल हैं तो एक्सेप्ट (accept) करिए और उसमें डेल्व करिए। मैं आपको सजेस्ट करती हूं कि आप द असेक्सयूएल विज़िबिलिटी और एजुकेशन नेटवर्क को फॉलो करें और उसमें लिखे अनुभवों के बारे में पढ़िए।

पार्टनर की बात

रही बात आपके पार्टनर की, तो हो सकता है कि वो भी आपकी तरह ही फीलिंग्स रखता हो। अगर उसकी सेक्सुअलिटी आपसे अलग भी है तब भी अगर आप उससे अपनी सेक्सुअलिटी छुपायेंगी तो इससे रिलेशनशिप में असर पड़ेगा क्योंकि आपकी खुशी भी उसकी खुशी की तरह ही मैटर करती है।

खुद की खुशी सबसे ज़रूरी

सबसे ज़्यादा ज़रूरी है कि आप खुद खुश रहें। ये मेरा अनुभव हैं 6 साल से मैं अपने पति के साथ रह रहीं हूँ और बैलेंस के लिए खुद खुश रहना बहुत बहुत ज़रूरी है। आपको कोई ना कोई ज़रूर मिलेगा जिसके साथ आपको ये बैलेंस मिलेगा।

सेक्स से डरने की बात

आप सेक्स से डरती हैं और अभी सेक्स के लिए तैयार नहीं हैं। आप अपना टाइम लीजिये और अपनी फीलिंग्स को एक्सेप्ट कीजिये।आप खुद को ओवररिएक्शन के लिए ब्लेम मत कीजिये।

सेक्स से ज़्यादा प्यार ज़रूरी

मैं आपको कॉन्फिडेंस के साथ कहती हूँ कि इतनी लंबी ज़िन्दगी में लोग प्यार को सेक्स से ज़्यादा महत्व देते हैं। और आपका सेक्स ना चाहना एकदम जायज़ है।

मैं आपके इस सफर में एक फुलफिल्लिंग रिलेशनशिप की कामना करती हूं जहाँ आप और आपकी खुशी मैटर करे।

आपकी दोस्त, (जो आपको ऐसी फीलिंग्स के लिए स्टुपिड नही कहती)

दीपा

दीपा एक राइटर और एडिटर हैं जो चेन्नई में बेस्ड हैं। एशियाई कॉलेज ऑफ जर्नलिज्म की एलुमनाई अब नेशनल और रीजनल मैगज़ीन के लिए ट्रेवल और लाइफस्टाइल स्टोरीज लिखती हैं।

और पढ़िए- #GirlTalk – क्या पहली डेट पे फेमिनिस्ट होना ठीक है?

Recent Posts

Fab India Controversy: फैब इंडिया के दिवाली कलेक्शन का लोग क्यों कर रहे हैं विरोध? जानिए सोशल मीडिया का रिएक्शन

फैब इंडिया भी अपने दिवाली के कलेक्शन को लेकर आए लेकिन इन्होंने इसका नाम उर्दू…

6 hours ago

Mumbai Corona Update: मुंबई में मार्च से अब तक कोरोना के पहली बार ज़ीरो डेथ केस सामने आए

मुंबई में लगातार कई महीनों से केसेस थम नहीं रहे थे। पिछली बार मार्च के…

6 hours ago

Why Women Need To Earn Money? महिलाओं के लिए फाइनेंसियल इंडिपेंडेंस क्यों हैं ज़रूरी

Why Women Need To Earn Money? महिलाएं आर्थिक रूप से स्वतंत्र हैं, तो वे न…

8 hours ago

Fruits With Vitamin C: विटामिन सी किन फलों में होता है?

Fruits With Vitamin C: विटामिन सी सबसे आम नुट्रिएंट्स तत्वों में से एक है। इसमें…

8 hours ago

How To Stop Periods Pain? जानिए पीरियड्स में पेट दर्द को कैसे कम करें

पीरियड्स में पेट दर्द को कैसे कम करें? मेंस्ट्रुएशन महिला के जीवन का एक स्वाभाविक…

8 hours ago

This website uses cookies.